menubar

breaking news

Saturday, September 15, 2018

’बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं’’ योजना के अन्तर्गत 17 सितम्बर को होगा रैली एवं हस्ताक्षर कार्यक्रम

जौनपुर -  जिला प्रोबेशन अधिकारी सन्तोष कुमार सोनी ने बताया कि पति के मृत्युपरान्त निराश्रित महिला पेंशन योजना के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 की चतुर्थ किस्त में छूटे हुए लाभार्थियो को रु0 1500 की धनराशि उनके खाते में शासन द्वारा अन्तरित कर दी गयी है। उन्होंने कहा कि लाभार्थी अपने बैंको में जा कर पासबुक पर इन्ट्री कराते हुए पैसा आहरित कर सकते है साथ ही अपने बैंक खाते से आधार नम्बर से अवश्य जोडे़ तथा जिला प्रोबेशन अधिकारी कार्यालय में उपस्थित होकर पेंशन पोर्टल पर भी आधार नम्बर जुडवा ले ताकि नियमित पेंशन की धनराशि भेजी जा सके। 
         श्री सोनी ने यह भी बताया कि भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ’’बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं’’ योजना के अन्तर्गत जिलाधिकारी अरवन्दि मलप्पा बंगारी की अध्यक्षता में 17 सितम्बर 2018 को सुबह 09.30 बजे से कलेक्ट्रेट से अम्बेडकर तिरहा तक एक रैली का आयोजन किया गया है। रैली के पश्चात प्रेक्षागृह में हस्ताक्षर एवं अन्य सांस्कृतिक जाकरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। 

Wednesday, August 29, 2018

योगी की पुलिस में हो रहा बदलाव,एम्बुलेंस से भी तेज करती अब आम जनता की सेवा,जीवन और मौत के बीच जूझ रही महिला को पहुँचाया जिला अस्पताल

जौनपुर - आम जनता , पत्रकार, नेता हमेशा से यूपी पुलिस की आलोचना करते रहते है, लेकिन जब से प्रदेश में योगी ने कमान संभाली है तब से पुलिस की कार्यशैली और तेजी में बेहतर सुधार हुआ है,जौनपुर में यूपी पुलिस का मानवीय संवेदना का चेहरा सामने आया जहां एम्बुलेंस के आने से पहले पहुची यूपी पुलिस ने महिला की हालत को  गंभीर देखते हुए प्राइवेट वाहन से जिला अस्पताल पहुँचाया ,इस दर्दनाक हादसे में तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई और महिला बुरी तरह घायल हो गई ,घटना इतनी भयानक थी कि बच्ची का शव छत विछिप्त हो गया तो दूसरी तरफ महिला का घटना में दोनों पैर गवाना पड़ा है।
मामला जौनपुर के मड़ियाहूं कोतवाली थाना के अंतर्गत रामदयालगंज का है जहाँ  पुल के निकट तेजी से आ रही अनियंत्रित ट्रक ने साइकिल से जा रहे मजदूर परिवार की खुशियो को छीन लिया। इस हादसे में मजदूरी करने वाले बृजेश की 3 साल की बच्ची की घटना स्थल पर ही  मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। बृजेश इस हादसे  को भूल नहीं पा रहा है क्योंकि उसके आंखों के सामने ही उसका  पूरा परिवार  बर्बाद हो गया। पत्नी के दोनों पैर बुरी तरह से कुचल गए हैं जिसके कारण डॉक्टर को महिला की जान बचाने के लिए पैर काटने की नौबत आ गई है। इस घटना के बाद मौके पर स्थानीय लोगों ने जाम लगाकर हंगामा भी किया वही सुभाष नाम के एक दरोगा ने इंसानियत दिखाते हुए एंबुलेंस का बिना इंतजार किए हुए घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। दरोगा की इस  तत्परता से महिला की जान बच गई। 
बता दें कि मड़ियाहूं कोतवाली के दरोगा सुभाष चंद्र ने बताया कि मौके पर  मैं चेकिंग कर रहा था मुझे एक्सीडेंट की जानकारी हुई मैं तुरंत मौके पर पहुंचा तो मालूम हुआ कि किसी ट्रक वाले ने  टक्कर मार दिया है  पीड़ित महिला की हालत गंभीर थी जो मुझसे  देखा नहीं गया जिसके चलते उसने तुरंत बिना देर किए निजी वाहन करके अस्पताल पहुँचाया हु डाक्टर इलाज कर रहे है ।

Sunday, August 26, 2018

कहाँ और क्यो होती है रक्षाबंधन के दिन बाबा की पूजा लाठियों से

बलिया- जनपद के रसड़ा थाना क्षेत्र के महाराजपुर गांव में रक्षाबंधन के दिन श्रीनाथ बाबा के मंदिर पर लाखों की संख्या में भक्त अपने अपने हाँथो में लाठियां लेकर आते हैअभी तक तो आपने देखा या सुना होगा कि मंदिर में पूजा फूलों से होती है। मगर हम आज आपको दिखाते है एक ऐसी अनोखी पूजा जहाँ भक्तों के हाँथों मे फूल की जगह होती है लाठी और इन्ही लाठियों से होती है पूजा। जी हाँ यूपी के बलिया के रसड़ा थाना क्षेत्र के महाराजपुर गांव में रक्षाबंधन के दिन श्रीनाथ बाबा के मंदिर पर लाखों की संख्या में भक्त अपने अपने हाँथो में लाठियां लेकर आते है और श्रीनाथ बाबा की करते है लाठियों सर पूजा औऱ परिक्रमा।  दरअसल परंपरा के अनुसार  यहाँ के किसानों पर अंग्रेजी हुकूमत ने जजिया कर लगा दिया था और इस नए जजिया कर से परेशान किसानों ने श्रीनाथ बाबा से जजिया कर से मुक्त कराने का निवेदन कर दिया। तब श्रीनाथ बाबा ने परेशान किसानों को इन्ही लाठियों के बल पर अंग्रेजों से लड़ कर जजिया कर से मुक्त कराया था। तभी से ये  अनोखी लट्ठ पूजा यहाँ के सेंगर राजपूतो के लिए परंपरा बन गयी जहां हर साल रक्षाबंधन के दिन हजारों गांवो के लाखों लोग फूलों की जगह करते आ रहे लाठियों से पूजा। इस पूजा में आज क्षेत्रीय बीएसपी विधायक उमाशंकर सिंह और सपा से राज्य सभा सांसद नीरज शेखर की उपस्थिति में एक बच्चे ने श्रीनाथ बाबा पर लिखी पुस्तक का विमोचन किया।
लाखों की संख्या में लोगो की भीड़ और सबके हाँथों में लाठियां । आप यह दृश्य देखकर एक बार आप भी सोचने को मजबूर हो जाएंगे कि कही कोई बड़ी लड़ाई छिड़ गई है। मगर आप चौकिए मत ये दृश्य लड़ाई जैसा दिख भले रहा है लेकिन वास्तव में ये एक पूजा हो रही है जहाँ भक्तो के हांथ फूलों की जगह लाठियां है। और ये मंदिर श्रीनाथ बाबा का मंदिर है और लाठियों के संग भक्त इसी मंदिर की पूजा के बाद परिक्रमा कर रहे है।बीएसपी विधायक के अनुसार बलिया के रसड़ा क्षेत्र के महाराजपुर गांव के इस मंदिर पर ऐसी पूजा यहां की चली आ रही वर्षो पुरानी परंपरा है। अंग्रेजी हुकूमत के समय अंग्रेजो ने इस गांव के किसानों पर जजिया कर लगा दिया। किसान इस कर्ज को चुका पाने की स्थिति में नही थे तो श्रीनाथ बाबा ने इन्ही लाठियों के बल पर किसानों को अंग्रेजों द्वारा लगाए गए जजिया कर से मुक्त करा दिया। तबसे ये लाठी पूजा की परंपरा चली आ रही है जहाँ हजारों गांवों से लाखों भक्त अपने हाथों में लाठी लेकर आते है और श्रीनाथ बाबा की पूजा करते है बावजूद इसके कोई भी अप्रिय घटना यहाँ नही होती।

Monday, August 13, 2018

बिजली विभाग के ठेकेदार को बाइक सवार बदमाशों ने गोलियों से भूना

जौनपुर- आज देर शाम जनपद के लाइन बाजार थाना क्षेत्र के पीली कोठी (गंगापट्टी)  इलाके में बाइक सवार हमलावरों ने अंधाधुंध गोलियां चलाकर बिजली विभाग के अधेड़ ठेकेदार की गोली मारकर हत्या कर दी। दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारे फरार हो गए। हत्या का कारण साफ नहीं हो सका है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
सूत्रों के अनुसार जिले के चंदवक थाना क्षेत्र के मढ़ी गांव के मूल निवासी नवल किशोर सिंह (55) मौजूदा समय  में सपरिवार वाराणसी के पांडेयपुर में बजरंग नगर कालोनी के बगल भारती नगर में लेन नंबर एक स्थित निजी आवास में रहते थे। वह जौनपुर में बिजली विभाग में ट्रांसफार्मर बदलने के ठेकेदार थे। वह अपनी इण्डिगो कार नम्बर से रोजाना बनारस से आते जाते थे। सोमवार की शाम करीब साढ़े सात बजे वह कार से वाराणसी जा रहे थे। जफराबाद रोड पर पीली कोठी स्थित टीडी लॉ कालेज के पास पहुंचे तो पीछे से आए काले रंग की पल्सर बाइक सवार दो बदमाशों ने उन्हें रोका और कुछ बातचीत करने लगे। इसी दौरान बदमाशों ने उनपर ताबड़तोड़ गोलियां चलायी। सिर में दो गोली लगने से वे कार में ही लुढ़क गये। दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गये। घटना की खबर लगते ही लाइन बाजार थाने के कार्यवाहक प्रभारी विनोद कुमार सिंह सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंच गये। आनन-फानन उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। उनकी शिनाख्त कार से मिले आधार कार्ड के जरिये हुई। कार से 36333 रूपये का एक चेक भी मिला। खबर पाकर अपर पुलिस अधीक्षक (शहर) डा. अनिल कुमार पांडेय और सीओ सिटी नृपेंद्र ने भी जिला अस्पताल पहुंचकर मामले की छानबीन की।

Sunday, August 12, 2018

दरोगा की पिस्टल से चली गोली सिपाही के सिर में लगी, मौके पर मौत

फिरोजाबाद के शिकोहाबाद में यूपी पुलिस के एक सिपाही की गोली लगने से मौत हो गई। गोली थार मोबाइल पर तैनात दरोगा की पिस्टल से चली है।  पुलिस ने मृतक सिपाही का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
घटना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। सिपाही की मौत से उसके परिवार वालों का रो कर बुरा हाल है। एटा चौराहे पर थार मोबाइल पर तैनात दरोगा इंद्रजीत अपनी सरकारी पिस्टल साफ कर रहा था। तभी अचानक पिस्टल से गोली चल गई, जो गाड़ी चालक सिपाही शिव कुमार के सिर जा लगी।  गोली लगते ही सिपाही शिव कुमार जमीन पर गिर पकड़ा। मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया। घटना में अभी तक मृतक सिपाही के परिवार की ओर से कोई शिकायत नहीं दी गई है। 

आधार कार्ड को सुरक्षित मानने वाले हो जाये सावधान,क्योकि आपके भी आधार कार्ड की भी हो सकती है क्लोनिग

जौनपुर- जनपद के बक्शा थाना क्षेत्र के नौपेड़वा एवं धनियांमऊ बाजार में रबर से बने फर्जी अंगूठे से आधार कार्ड बनाए जाने का भंडाफोड़ हुआ है। थानाध्यक्ष अरविंद कुमार यादव ने मौके से दो लोगो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जबकि एक फरार हो गया। आरोपियों के पास से फर्जी अगूंठे का रबर क्लोन, लैपटॉप व फर्जी आधारकार्ड बनाने का उपकरण बरामद हुआ है। आरोपी नए आधार कार्ड बनाने के साथ आधार में ग्राहक से सौ रुपये लेकर त्रुटि सुधार भी किया करते थे।
थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के अवैध कारोबारियों पर कार्यवाही के निर्देश पर शनिवार शाम जरिये मुखबीर सूचना मिली कि नौपेड़वा बाजार मई रोड पर स्थित रोहित मोबाइल शाप पर फर्जी ठंग से तैयार रबर क्लोन अंगूठा से फर्जी आधार कार्ड बड़े पैमाने पर बनाया जाता है। सूचना पर थानाध्यक्ष अरविंद कुमार यादव व हमराही पवन दूबे एवं जयराम तिवारी उक्त दुकान पर पहुँचे तो हड़कम्प मच गया। दुकान संचालक रोहित कुमार भागने का प्रयास किया तो दबोच लिया गया। मौके से पुलिस फर्जी आधार कार्ड बनाने वाली रबर की अगूंठे का क्लोन, लैपटॉप, बायोमेट्रिक थम्स मशीन, आई स्केनर, कैमरा सहित नौ आधार पर्ची बरामद कर थाने ले गई। पूछताछ में रोहित ने धनियांमऊ में देवेश मोबाइल शाप पर भी इसी तरह का काम होने की बात बताई तो पुलिस देवेश मोबाइल की दुकान पर भी छापेमारी की तो मौके से कृष्ण कुमार जायसवाल दबोच लिया गया जबकि देवेश जायसवाल फरार हो गया। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि आधार कार्ड बनाने के साथ ग्राहकों का आधार त्रुटि सुधार भी किया जाता था उसके एवज में ग्राहक से सौ रुपया लिया जाता है। पुलिस आरोपियों के विरुद्ध धारा 419, 420,467,468, 471 के तहत मुकदमा दर्ज कर रविवार को न्यायालय भेज दिया।

Thursday, August 9, 2018

पुरानी पेंशन की बहाली को लेकर कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी आक्रोशित

जौनपुर। कर्मचारी शिक्षा अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच उत्तर प्रदेश के घोषित कार्यक्रम के अनुसार जनपद शाखा के अध्यक्ष अरविंद शुक्ला की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में हजारों-हजार की संख्या में कर्मचारी/शिक्षक/ अधिकारी उपस्थित होकर विशाल प्रदर्शन किया। प्रदर्शन सभा का संचालन राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष एवं मंच के संयोजक राकेश कुमार श्रीवास्तव ने किया। सभा को संबोधित करते हुए संयोजक राकेश कुमार श्रीवास्तव ने 1 अप्रैल 2005 के बाद सेवा में आये कर्मचारी शिक्षक अधिकारी को नई अंशदाई पेंशन योजना को वापस लेकर पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल करने के लिए मंच द्वारा चलाए जा रहे आंदोलनात्मक कार्यक्रमों को विस्तार से बताया। सभाध्यक्ष मंच के अध्यक्ष अरविंद शुक्ला ने अपने संबोधन मंच के कार्यक्रम को सफलता से चलाए जाने के लिए उपस्थित जन समुदाय से तन मन धन से सहयोग का संकल्प लेते हुए प्रदेश एवं केंद्र सरकार से तत्काल पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग किया। कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच से सम्बद्ध संगठन के वक्ताओं ने सेवानिवृत्त के पश्चात जीवन यापन के लिए पेंशन जरूरी बताते हुए नई एन.पी.एस. योजना को वापस लेकर पुरानी पेंशन बहाली की मांग किया। वक्ताओं ने केंद्र एवं प्रदेश सरकार के जनप्रतिनिधियों द्वारा पेंशन लेने एवं कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी की पेंशन बंद किया जाने का घोर विरोध किया। वक्ताओं ने वर्तमान सरकार के महत्वपूर्ण पदों पर आसीन तत्कालीन जनप्रतिनिधियों द्वारा पेंशन बहाली के लिए लिखे गए भावपूर्ण पत्रों का उल्लेख करते हुए सरकार की उपेक्षा की घोर निंदा की गई। सभा को मुख्य रूप से राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के संरक्षक सी.वी. सिंह, जिला मंत्री चंद्रशेखर सिंह, उपाध्यक्ष अशोक कुमार, लल्लू सोनकर, ताराचंद्र उपाध्याय, डॉ0 प्रदीप कुमार, डॉ0 फूलचंद कनौजिया, बदरे आलम, इंजीनियर लालमणि सिंह, अमर बहादुर यादव, संजय चौधरी, रामकेश यादव, शरद पटेल, अखिलेश सिंह, कल्लू कामरेड, इंजीनियर बेचन मिश्रा, जे0पी0 गुप्ता, शरद पटेल, सूर्य कुमार सिंह, समर बहादुर यादव, संजय चौधरी, वीरेंद्र सिंह, अशोक कुमार यादव, राजेश यादव, दयाराम गुप्ता, सामीण्ण द्विवेदी, मातृशिशु कल्याण संघ की उपाध्याक्ष आशा सिंह, अजय कुमार सिंह, अरुण कुमार, अशोक मौर्य, आर0पी0 पाल, प्राथमिक शिक्षक संघ रविचंद्र यादव, लाल साहब यादव, विजय कुमार, वीरेंद्र प्रताप, रामदुलार, उमानाथ सिंह, संजीव सिंह, डॉ वीरेंद्र प्रताप यादव, दीपक सिंह, लक्ष्मीकांत सिंह, अनिल चौधरी, राकेश यादव, उत्तर प्रदेश सीनियर बेसिक शिक्षक संघ अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह, नन्हकू यादव, श्याम नारायण बिन्द, अजय कुमार सिंह, पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ जिला संरक्षक मोहम्मद असलम, डॉक्टर अतुल प्रकाश, श्याम नारायण सिंह, दुष्यंत मिश्र, कुंवर यशवंत सिंह, माध्यमिक शिक्षक संघ के धर्मेंद्र यादव, संतोष सिंह, अध्यक्ष अनिल कुमार उपाध्याय, खंड शिक्षा अधिकारी संघ के अध्यक्ष वसना कुमार शुक्ल, राजीव कुमार, संजय यादव, सुनील कुमार सिंह, अनुदेशक संघ के अध्यक्ष बिंद यादव, सेवा निवृत्त पेंशन एसोसिएशन के अध्यक्ष ओ0पी0 राय, मंत्री राजबली यादव, सत्यदेव सिंह, विजय बहादुर सिंह, इंजीनियर जी0एन0 दुबे एवं आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की अध्यक्ष सरिता सिंह, मंत्री मीनाक्षी शुक्ला, विद्युत विभाग के निलेश सिंह आदि ने पुरानी पेंशन नीति का समर्थन किया। इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट योगानंद पांडये प्रदर्शन स्थल पर पहुंचकर जिलाधिकारी के प्रतिनिधि के रूप में मांग से संबंधित ज्ञापन प्राप्त किया। इस अवसर पर सेवानिवृत्त पेंशनर एसोसिएशन ने भी 11 सूत्रीय मांग पत्र नगर मजिस्ट्रेट को सौंपते हुए पुरानी पेंशन बहाली की मांग किया। अंत में सभाध्यक्ष ने सभा को संबोधित करते हुए दिनांक 29, 30 एवं 31 अगस्त को तीन दिवसीय कार्य बहिष्कारकर सफल बनाने की अपील करते हुए सभा समाप्त की घोषणा की गई।