menubar

breaking news

Tuesday, March 17, 2020

कोरोना वायरस का कहर देखते हुए योगी सरकार सभी स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा

लखनऊ-चीन से विश्व भर में फैला कोरोना वायरस का कहर धीरे-धीरे अब बढ़ता जा रहा है। इससे बचाव को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार काफी सतर्क है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने कैबिनेट की बैठक के बाद प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। पहले सरकार ने सभी स्कूल-कालेज को 22 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया था। स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही सरकार ने अगले आदेश तक सभी परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया है। लोकभवन में कैबिनेट की बैठक के साथ सभी स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही परीक्षाओं को अगले आदेश तक स्थगित करने का भी निर्णय लिया है। इसके साथ ही फैसला लिया गया है कि निजी क्षेत्र के लोग घर से काम करें। कोरोना वायरस से संक्रमित सभी लोगों का मुफ्त इलाज होगा। इसके साथ ही सभी धरना तथा प्रदर्शन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को भी रद करने के साथ ही प्रदेश के सभी धार्मिक स्थलों को भी बंद किया गया है। सरकार ने सभी धर्म गुरुओं से इसमें सहयोग की अपील भी की है। मंदिर, गुरुद्वारा तथा मस्जिद को भी बंद रखा जाएगा।प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण को महामारी के समकक्ष घोषित करते हुए मुख्यमंत्री ने प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेजों को अब दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। पहले स्कूल व कॉलेजों को 22 मार्च तक बंद रखने का निर्देश जारी किया गया था। सरकार ने इसका समय बढ़ाने का निर्णय 20 मार्च को समीक्षा के बाद करने की योजना बनाई थी, लेकिन आज ही आदेश जारी कर दिया है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस के बचाव के इंतजाम की हर प्रकार की मॉनिटरिंग खुद ही कर रहे हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश में समय-समय पर एडवाइजरी जारी की जा रही है।उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 15 लोगों में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया था, जिसमें से आगरा के चार लोग नई दिल्ली से स्वस्थ होकर लौटे हैं। आगरा में आठ, नोएडा में तीन, लखनऊ व गाजियाबाद में दो-दो कोरोना पॉजिटिव हैं।लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के साथ ही संजय गांधी पीजीआई, गोरखपुर के बाब राघव दास मेडिकल कॉलेज तथा लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस व बलरामपुर अस्पताल में इससे संक्रमित लोगों को भर्ती करने की सुविधा है।

No comments:

Post a Comment