menubar

breaking news

Tuesday, March 3, 2020

आरोपित ने गला दबाकर की युवक की हत्या

लखनऊ-प्रदेश के वृंदावन कॉलोनी सेक्टर आठ निवासी नित्य प्रकाश सिंह का शव औरंगाबाद नाले में पड़ा मिला। नित्य प्रकाश की हत्या कर शव को नाले में फेंक दिया गया था।परिवारजन ने इस मामले में पीजीआइ थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। छानबीन के दौरान पुलिस ने नित्य प्रकाश के एक परिचित नितिन से पूछताछ की, जिसके बाद पूरा मामला उजागर हुआ। आरोपित नितिन, उसकी पत्नी व साली को पुलिस ने हिरासत में लिया है।नित्य प्रकाश निजी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड थे। वह 27 फरवरी को कैंट स्थित एसबीआइ बैंक के एटीएम में ड्यूटी करने के लिए निकले थे। देर रात तक जब नित्य प्रकाश घर नहीं लौटे तो परिवारजन ने खोजबीन शुरू की, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लगा। इसके बाद नित्य प्रकाश की पत्नी नेहा ने पीजीआइ थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। एफआइआर में नेहा ने शक जताते हुए कहा कि जिस वक्त उनके पति घर से काम पर जा रहे थे, उस दौरान नितिन नाम के युवक का उनके पास फोन आया था। नितिन के कॉल पर वह चले गए थे। शक के आधार पर पुलिस ने नितिन के बारे में पता लगाना शुरू किया। कॉल डिटेल रिकॉर्ड में नितिन की नित्य प्रकाश से फोन पर कई बार बात होने के प्रमाण मिले। पुलिस ने नितिन से पूछताछ की तो वह उन्हें गुमराह करता रहा। इसके बाद सोमवार को पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने हत्या की बात कबूल कर ली। 20 हजार रुपये के लिए की हत्या पूछताछ में सामने आया है कि नितिन ने करीब दो साल पहले नित्य प्रकाश से 20 हजार रुपये उधार लिए थे। नित्य प्रकाश अपने रुपये बार-बार नितिन से मांग रहे थे। रुपये न देने पड़े इसके लिए आरोपित ने फोन कर 27 फरवरी को नित्य प्रकाश को तेलीबाग बुलाया था। इसके बाद रुपये देने के बहाने अपने घर रजनी खंड ले गया था, जहां उसने गला दबाकर नित्य प्रकाश की हत्या कर दी थी।आरोपित ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि शाम के समय वारदात को अंजाम देने के बाद रात में वह शव को बाइक पर लादकर औरंगाबाद गया था। इस दौरान उसने शव को ठिकाने लगाने के लिए उसे नाले में शव फेंक दिया था। सोमवार को आरोपित के निशानदेही पर शव बरामद किया गया। हत्याकांड में नितिन की पत्नी, साली व भाई की भूमिका की पुलिस पड़ताल कर रही है।

No comments:

Post a Comment