menubar

breaking news

Saturday, February 22, 2020

ताजनगरी आगरा में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगमन को बेहद यादगार बनाने की तैयारी

आगरा-ताजनगरी आगरा में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगमन को बेहद यादगार बनाने की तैयारी है। 24 फरवरी को डोनाल्ड ट्रंप का प्रथम आगरा आगमन है। वह अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के ताज का दीदार करेंगे। उनके स्वागत के लिए आगरा को मनमोहक पेंटिग्स के साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी व अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के होर्डिंग्स से पाट दिया गया है।उनके स्वागत के लिए एक साइज के बोर्ड लगे हैं। खेरिया मोड़ पर एक साइज के बोर्ड लगाए गए हैं। यह कार्य शुक्रवार को भी हुआ। शनिवार को यूएस सीक्रेट सर्विस की दूसरी टीम आगरा पहुंच रही है। इसके बाद निगरानी और बढ़ जाएगी।कई जगहों पर की गई पेंटिंग खेरिया एयरपोर्ट से होटल अमर विलास तक कई स्थलों पर बेहतरीन पेंटिंग की गई है। कहीं नमस्ते ट्रंप लिखा है तो कहीं पर जय श्रीकृष्ण ट्रंप, कहीं मोदी और ट्रंप की दोस्ती को दिखाती पेंटिंग बनाई है। पेंटिंग का कार्य शनिवार तक पूरा हो जाएगा।अजीत नगर गेट से लेकर होटल अमर विलास तक 20 स्थानों पर उन्हें भारतीय कला और संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी। इसके लिए स्थान तय कर लिए गए हैं। खेरिया हवाई अड्डे पर एयरफोर्स वन विमान से उतरने के बाद ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया के साथ सड़क मार्ग से होटल अमर विलास तक जाएंगे। इस बीच सड़क पर स्कूली बच्चे अमेरिका और भारत का झंडा लेकर उनके स्वागत को खड़े होंगे।इसके साथ ही शहर 20 चौराहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इन चौराहों पर अलग-अलग अधिकारी अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे। इनकी सूची भी तैयार की जा रही है। पूर्व में कई जगह स्टेज लगाकर कार्यक्रम प्रस्तुत करने की योजना थी लेकिन इसमें बदलाव किया गया है। अब इस रूट पर स्टेज नहीं बनाने का निर्णय लिया गया है।भारत के दौरे पर पहली बार पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ आ रहे अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद के बाद 24 फरवरी की शाम को आगरा पहुंचेंगे। राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी मेलानिया, पुत्री इवांका के अलावा दामाद व विशेष सलाहकार जारेड कुशनर भी भारत यात्रा पर रहेंगे। इस दौरान यह ताजमहल के सामने पोज भी देंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की विजिट को ताज को चमकाने का काम शुक्रवार को साप्ताहिक बंदी के दिन तेजी से किया गया।रॉयल गेट की दीवारों और गेट को साफ किया गया। वहीं, चमेली फर्श पर भी साइंटिफिक क्लीनिंग की गई। ट्रंप की विजिट के लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा ताज में एक सप्ताह से निरंतर काम कराए जा रहे हैं। इसमें मुख्य मकबरे, फव्वारों के किनारे बने पाथवे, वीडियो प्लेटफार्म की सफाई की जा चुकी है। वाटर चैनल को भी साफ कर उनमें हल्के नीले रंग का पेंट किया गया है। शुक्रवार को एएसआइ की रसायन शाखा ने रॉयल गेट की दीवारों की साइंटिफिक क्लीनिंग कराई। इसमें कर्मचारी दिनभर जुटे रहे। रॉयल गेट के पुराने दरवाजे की भी सफाई की गई। चमेली फर्श और उसके रास्ते पर भी साइंटिफिक क्लीनिंग का काम किया गया।

No comments:

Post a Comment