menubar

breaking news

Wednesday, February 12, 2020

तेज रफतार बस के पीछे से ट्राला में घुस जाने से 14 यात्रियों की मौत

लखनऊ- देश में शानदार सड़कों का जाल जानलेवा भी साबित हो रहा है। प्रदेश में यमुना एक्सप्रेस के साथ ही आगरा-लखनऊ एक् एक्सप्रेस पर तेज रफ्तार वाहनों का कहर यात्रियों पर टूट रहा है। बस के चालकों के नियंत्रण हो देने के कारण बड़ी दुर्घटना हो रही है। बीती जुलाई में उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बस सड़क की रेलिंग तोड़कर मथुरा में नाला में समा गई थी। जिसमें 29 यात्रियों की मौत हो गई थी, जबकि बुधवार देर रात लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर तेज रफतार बस के पीछे से ट्राला में घुस जाने से 14 यात्रियों की मौत हो गई है।सुहागनगरी फिरोजाबाद में बुधवार देर रात लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर दिल्ली से बिहार जा रही स्लीपर कोच बस नगला खंगर के पास आगे चल रहे ट्राला में जा घुसी। जिसके बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई, बस में सवार 14 यात्रियों की मौत हो गई। बस में दो दर्जन से ज्यादा यात्री फंसे थे, जिन्हें बाहर निकालने के लिए भारी मशक्कत करना पड़ी। हादसे के बाद एक्सप्रेस-वे पर यातायात रोक दिया गया। घायल यात्रियों को उपचार के लिए पीजीआइ सैफई भेजा गया है। मृतक सभी यात्री बिहार के हैं। रात 12:30 बजे एडीजी जोन अजय आनंद और आइजी रेंज ए. सतीश गणेश दुर्घटनास्थल पर पहुंचे

No comments:

Post a Comment