menubar

breaking news

Thursday, October 15, 2020

भाजपा प्रत्याशी के नामांकन में जिला प्रशासन ने आचार संहिता को किया दरकिनार,अंगवानी में एसडीएम, एसपी देहात बने मूकदर्शक

जौनपुर। आदर्श आचार संहिता  गुरूवार को उस समय उड़न छू कर दिया गया जब अधिकारी ने सत्ता धारी दल भाजपा प्रत्याशी के साथ  निर्धारित व्यक्तियों से दोगुने से अधिक लोगों को भीतर प्रवेश करने की अनुमति ही नहीं दिया बल्कि उनको पहुंचाने भी नामांकन कक्ष तक भी गये । वहां मौजूद तमाम लोग और पत्रकार यह पक्षपातपूर्ण रवैया देखकर हैरत में रह गये लेकिन सत्ताधारी दल भाजपा के प्रत्याशी और विधायक हंसते हुए आते और जाते समय खड़े होकर फोटोग्रामी कराये।   कलेक्ट्रेट में यह प्रकरण पूरे दिन चर्चा-ए-आम रहा।  विगत नौ अटूबर से कलेक्ट्रेट में नामांकन प्रक्रिया चल रही है लेकिन अब तक चुनाव की आचार संहिता का पूरी तरह से पालन किया गया। कलेक्ट्रेट के गेट पर सख्ती से जांच पड़ताल कर सपा प्रत्याशी लकी यादव तथा पूर्व सांसद व निर्दल प्रत्याशी के रूप में धनन्जय सिंह को उनके दो प्रस्तावकों के साथ ही गेट के भीतर प्रवेश करने दिया गया लेकिन भाजपा प्रत्याशी जब गेट में प्रवेश किये तो उनके साथ विधायक रमेश मिश्र, जलालपुर के ब्लाक प्रमुख संदीप सिंह तथा भाजपा के जिलाध्यक्ष पुप्पराज सिंह ,  प्रत्याशी के दो प्रस्तावक व अधिवक्ता सहित अन्य एक को आचार संहिता को ताक पर रखते हुए अंगवानी कर भीतर तक ले जाया गया। भाजपा के जिलाध्यक्ष गेट में प्रवेश करने  के प्रत्याशी के साथ भीड़ देखकर जाने से कतराने लगे लेकिन वहां तैनात अतिरिक्त उपजिलाधिकारी मंगलेश दुबे उन्हे पकड़ कर व दबाव डालकर नामांकन कक्ष तक ले गये और अन्त तक विधायक और जिलाध्यक्ष से न जाने क्या बात करते रहे। कुछ पत्रकारों ने यह नजारा देखकर प्रवेश द्वार के पास मूक दर्शक होकर कुर्सी पर बैठे अपर पुलिस अधीक्षक देहात त्रिभुवन सिंह से भाजपा प्रत्याशी के आचार संहिता की अवहेलना करने की शिकायत की गयी तो उन्होने कहा कि कुछ लोग पर्चा खरीदने गये है। जब पत्रकारों ने कहा कि विधायक ब्लाक प्रमुख तथा जिलाध्यक्ष मल्हनी विधान सभा के नहीं है वे प्रस्तावक भी नहीं हो सकते तो वे चुप हो गये। इस बारे में पूछे जाने पर उपजिलाधिकारी मंगलेश दुबे ने कहा कि पांच ही लोग भीतर गये थे और अधिक पूछे जाने पर वे भाग कर पुलिस के बीच जाकर बैठ गये। जिला और पुलिस प्रशासन का पक्षपात और यह नियम विरूद्ध चापलूसी देखकर तमाम लोग तरह तरह की चर्चा करने लगे। कुछ लोगों ने कहा कि आचार संहिता का पालन केवल विपक्षियों से कराया गया है सत्ताधारी दल से नहीं। जिसकी लाठी उसकी भैस वाली कहावत चरितार्थ की गयी है।

मल्हनी उपचुनाव को लेकर आज भाजपा और कांग्रेस सहित कुल 6 प्रत्याशियों ने किया नामाकन

जौनपुर।  मल्हनी उप चुनाव के लिये नामांकन प्रक्रिया के तहत आज पांचवे दिन 15 अक्टूबर 20 को राष्ट्रीय दल भाजपा और कांग्रेस सहित कुल 6 प्रत्याशियों ने कलेक्ट्रेट स्थित उप जिलाधिकारी के न्यायालय में पहुंच कर पीठासीन अधिकारी के समक्ष नामांकन पत्र दाखिल किया है। इस तरह अब तक मल्हनी उप चुनाव की जंग में आने के लिए कुल 11 प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है।
आज नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में भाजपा प्रत्याशी मनोज कुमार सिंह, कांग्रेस प्रत्याशी राकेश मिश्रा मंगला गुरु, सुभासपा से श्याम बहादुर ,भारतीय समता पार्टी से नवीन कुमार, निर्दल प्रत्याशी के रूप में पुष्पा देवी  यादव, शालिनी सहाय शामिल है। इसके पूर्व  सबसे पहले बसपा के प्रत्याशी जे पी दूबे, फिर सपा के लकी यादव, निर्दल धनन्जय सिंह, राष्ट्रवादी कांग्रेस से सतीश चन्द्र उपाध्याय, वोटर्स  पार्टी इन्टरनेशनल से नवीन कुमार ने  14 अक्टूबर को नामांकन पत्र दाखिल किया है।

कल यानी 16अक्टूबर तक नामांकन की प्रक्रिया चलेगी इसके बाद नामांकन पत्रो की जांच और नाम वापसी का कार्यक्रम तत्पश्चात मतदान होगा।

Monday, March 23, 2020

पुलिस ने बाहर से आये 7 लोगों को कोरोना वायरस की जांच कराने लिये भेजा जिला अस्पताल

जौनपुर- नगर के लाइन बाजार थाना क्षेत्र के मां शीतला चौकियां धाम में मुम्बई, सूरत व दुबई से आये 7 लोगों का कोरोना वायरस की जांच कराने पुलिस ने जिला अस्पताल भेजा। ग्रामीणों के अनुसार उक्त लोग बीते 28 दिनों में उपरोक्त स्थलों से आये जिसकी जानकारी तब हुई जब कुछ लोग मुम्बई से जौनपुर अपने गांव आये। लोगों ने इसकी सूचना हल्का पुलिस को दिया जिस पर पहुंची पुलिस ने 7 लोगों को कोरोना वायरस की जांच के लिये जिला अस्पताल भेजा। पिछले कई दिनों से बाहर से अपने घर आये इन लोगों की जांच के लिये इतने विलम्ब से अस्पताल भेजना तो ठीक रहा लेकिन हद तब तो हो गयी जब जिला अस्पताल पहुंचे इन लोगों को जांच के लिये बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। क्षेत्रीय लोगों की मानें तो जिला अस्पताल पहुंचने पर वहां तैनात किसी ने कहा कि कोरोना वायरस की जांच यहां नहीं होता है। इसके लिये आपको बाहर करवाना होगा या बीएचयू जाना होगा। इसको लेकर जहां जांच कराने पहुंचे लोगों सहित उनके परिजन परेशान हैं, वहीं जिला अस्पताल द्वारा इस तरह के वक्तव्य से चौकियां धाम सहित पूरे जनपद के लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। लोगों ने इस महामारी को लेकर गम्भीर जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट कराते हुये इस प्रकरण पर विशेष ध्यान देने की मांग किया है। समाचार लिखे जाने तक उपरोक्त लोगों की जांच-पड़ताल नहीं हो सकी थी।

विदेश या बाम्बे से 28 दिन में आने वाले को 14 दिन तक क्वॉरेंटाइन में रखे- डीएम

जौनपुर- डीएम ने जनपद के सभी थानाध्यक्ष को निर्देशित किया है की वे अपने थाना क्षेत्र के अंतर्गत जिन गांव में पिछले 28 दिन में विदेश से लोग आए हुए हैं या महाराष्ट्र से लोग आए हैं उनको होम  कवारनटाइन में हर हालत में 14 दिन रहना है। कृपया अपने वीट सिपाहियों और हल्का निरीक्षकों को आज हर हालत में गांव में भेज दें और ऐसे लोगों की सूची स्वयं भी बना लो और सुनिश्चित करें कि वह हर हाल में होम क्वॉरेंटाइन में रहे ।अपने कमरे में रहे। घर वालों को या बाहर वालों को ना तो  स्पर्श करें और ना उन्हें कोई स्पर्श करें । क्रोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कार्रवाई अत्यंत आवश्यक और जरूरी है। इसमें किसी प्रकार की ढिलाई ना हो पूरी कड़ाई बरती जाए।

दुनिया के लिए कोरोना से जंग जितने के लिए हिमांचल बन सकता है फरिश्ता

नई दिल्ली- दुनिया के लिए कोरोना से जंग जितने के लिए हिमांचल बन सकता है फरिश्ता कोरोना जैसे घातक वायरस से निपटने के लिए भारतीय वैज्ञानिकों और उससे जुड़े रिसर्च सेंटर इस बीमारी का दवा बनाने के लिए इन दिनों पूरी ताकत से जुटे हुए है। इनमें कुछ संस्थानों से जल्द ही कुछ अच्छी खबरें भी आ सकती है। इनमें से ही एक वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद सीएसआईआर हिमाचल प्रदेश के पालमपुर स्थित आईएचबीटी इंस्टिट्यूट आफ हिमालयन बायोरिसोर्स टेक्नालाजी, हैदराबाद स्थित सीसीएमबी सेंटर फार सेलुलर बायोलाजी एंड मालीक्यूलर बायोलाजी और दिल्ली स्थित आईजीआईबी इंस्टीट्यूट आफ जीनोमिक्स एंड इंटेग्रेटिव बायोलाजी जैसे केंद्र शामिल है। इन संस्थानों को कई सफलताएं भी हाथ लगी है। हालांकि इन सभी का लैबोरेटरी में परीक्षण होना अभी बाकी है।

जनपद में लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वालो पर होगी कठोर कार्यवाही

सहरानपुर मे लाॅकडाउन का उल्लंघन करने पर की जायेगी कार्यवाही कोरोना वायरस को लेकर जहाँ पुरे देश मे अलर्ट जारी किया हुआ है।वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा एलान यूपी के 15 ज़िले लॉकडाउन। सहारनपुर को भी लाॅकडाउन पर रखा गया है जिसे लेकर पुलिस प्रशासन पुरी तरह मुस्तैद है।सहारनपुर मे लाॅकडाउन पर अगर कोई भी व्यक्ति बीना वजह सड़क पर दिखाई देता है तो होगी कार्यवाही। 25 मार्च तक 15 जिलों में लॉकडाउन रखा गया है।

अयोध्या जिला प्रशासन कोरोना वायरस को लेकर पूरी तरह से सचेस्ट

अयोध्या-कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन ने जारी की एडवाइजरी। अयोध्या जनपद के समस्त राजस्व न्यायालय चकबंदी न्यायालय के न्यायिक कार्य 2 अप्रैल तक स्थगित। सारे साप्ताहिक बाजार 2 अप्रैल तक प्रतिबंधित। सभी नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में रेस्टोरेंट कैफे फूड ज्वाइंट भोजनालय ढाबा खाने-पीने के ठेले खोमचे आलू टिक्की छोले भटूरे राजमा चावल छोले कुलचे पानी बतासा पर सामूहिक खाना 2 अप्रैल तक प्रतिबंधित। खाद्य सामग्री पैक कर अथवा होम डिलीवरी पर प्रतिबंध लागू नहीं।जनपद के समस्त नगरीय निकाय क्षेत्र में किसी भी प्रकार का सार्वजनिक सामूहिक वाहन ट्रैवलर टेंपो ऑटो प्राइवेट टैक्सी वाहन निजी बसों का परिचालन 2 अप्रैल तक प्रतिबंधित। ई रिक्शा हाथ चलित रिक्शा पर चालक के अतिरिक्त एक सवारी अग्रिम आदेश तक अनुमन्य।सभी प्रकार के सरकारी व गैर सरकारी निर्माण कार्य 2 अप्रैल तक स्थगित। किसी भी सार्वजनिक स्थल पर 5 या 5 से अधिक व्यक्ति एकत्र ना होने के आदेश।जनपद के समस्त सिनेमा हाल माल मल्टी ब्रांडेड शोरूम रिटेल शोरूम 2 अप्रैल तक बंद।ड्रग्स फार्मेसी किराना फल सब्जी पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा। आदेश तत्काल प्रभाव से लागू।आदेश का उल्लंघन करने पर धारा 188 के तहत दंडनीय होगा।

समूचे जनपद में 24 मार्च से बंद रहेगी चाय पान की दुकाने - डीएम

जौनपुर- 24 मार्च से बंद रहेगी चाय पान की दुकान : डीएम जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने 24 मार्च से पूरे जिले की चाय, पान और रेस्टोरेंट को बंद रखने का आदेश दिया है।बता दें कि डीएम दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना  के संक्रमण से जनपदवासियों को बचाने के लिए अधिक भीड़भाड़  इकट्ठा ना हो अगर कोई संक्रमित हो तो उसके वायरस दूसरे को संक्रमित ना कर सके ।इसलिए यह निर्णय लिया जा रहा है कि कल 24 मार्च से जनपद में सभी मिठाई की दुकानें ,रेस्टोरेंट्स, ढाबा ,चाय की दुकान ,और पान की दुकान सभी थानाध्यक्ष का कड़ाई से पालन कराएं।

Saturday, March 21, 2020

जनपद में 15 अप्रेल तक रहेगी धरा 144 लागूं

जौनपुर-जिला मजिस्ट्रेट ने जनपद में धारा 144 तक लगाते हुए  अप्रैल १५  तक लागू किया  है । सभी से अनुरोध है अपील है विनती है कि इस आदेश का पालन करें, 5 या 5 से अधिक लोग कहीं इकट्ठा  न हो।

जिले के सभी पेट्रोल/डीजल पम्प 22 मार्च को रहेंगे बन्द जिलाधिकारी

जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह द्वारा दिये गये निर्देश के क्रम में 22 मार्च 2020 को कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को बाधित किये जाने/रोके जाने हेतु स्वतः आइसोलेशन के दृष्टिगत ’’जनता कर्फ्यू’’ के आलोक में जनपद के समस्त पेट्रोल/डीजल पम्पों के प्रोपराइटरों/प्रबन्धकों से अपेक्षा है कि 22 मार्च 2020 दिन रविवार को पेट्रोल पम्पों का संचालन बन्द रखा जाये। अपरिहार्यता के दृष्टिगत केवल स्वास्थ्य विभाग के वाहनों/एम्बुलेन्सों, पुलिस विभाग के वाहनों /प्रशासनिक अधिकारियों के वाहनों में ही ईंधन की आपूर्ति दी जाये, जिसके लिए नगरीय क्षेत्र में मे0 प्राइम एलाइड, वाजिदपुर तिराहा, आई0सी0आई0सी0आई0 बैंक के सामने जौनपुर को निर्देशित किया गया है। उक्त के अतिरिक्त अन्य सभी पेट्रोल/डीजल पम्प बन्द रहेंगे। मे0 प्राइम एलाइड, वाजिदपुर तिराहा, को निर्देशित किया गया है कि वे मात्र स्वास्थ्य विभाग के वाहनों/एम्बुलेन्सों, पुलिस विभाग के वाहनों/प्रशासनिक अधिकारियों के वाहनों में आवश्यकतानुसार ईंधन की आपूर्ति सुनिश्चित करेंगे, उक्त के अतिरिक्त अन्य किसी भी वाहन में किसी भी दशा में पेट्रोल/डीजल का निर्गमन नहीं करेंगे साथ ही जिलाधिकारी द्वारा जनपद के समस्त नागरिकों से अपील किया गया है कि वे जनता कर्फ्यू को सफल बनाने में अपना पूर्ण सहयोग करें, ताकि कोविड-19 जैसी महामारी से जनपद को मुक्त कराया जा सके।

गंदा पानी पीने को विवश हैं मोहल्लेवासी, मूकदर्शक बना हुआ है पालिका

जौनपुर- इस समय देश में फैले कोरोना वायरस को लेकर जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बचाव, सावधानी के साथ स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने की अपील कर रहे हैं, वहीं नगर पालिका परिषद जौनपुर का एक वार्ड ऐसा है जहां के लोग दूषित पानी पीने को मजबूर हैं। उक्त वार्ड पान दरीबा है जहां के सभासद सहित पालिका के अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही खुलकर सामने आयी है। खालिसपुर क्षेत्र के लोगों के अनुसार उक्त वार्ड के मोहल्लों में जलापूर्ति के लिये एक ट्यूबवेल लगा हुआ है जिसके माध्यम से लोगों को पानी उपलब्ध होता है। क्षेत्रीय लोगों की मानें तो ट्यूबवेल से लेकर घरों तक जलापूर्ति के लिये लगा पाइप लाइन जगह-जगह फट गया है जिसके चलते सड़क के किनारे, नाली आदि का गंदा पानी पाइप लाइन के माध्यम से लोगों के घरों तक पहुंच रहा है। इसको लेकर कई सभासद सहित पालिका से की गयी लेकिन कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है। ऐसे में लोग स्वच्छ भारत अभियान के बाबत भी गंदा पानी पीने को मजबूर हैं जिसकी सारी जिम्मेदारी हल्का सभासद, पालिका के अधिकारी व कर्मचारी हैं। लोगों ने जिलाधिकारी एवं उत्तर प्रदेश शासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुये इस विकट समस्या का समाधान करने की मांग किया है।

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 22 मार्च को लगने वाले जनता कर्फ्यू के तहत आज रात से पूर्वोत्तर रेलवे की सभी ट्रेने बंद

गोरखपुर- कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 22 मार्च को देश भर में लगने वाले जनता कर्फ्यू के तहत पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने भी सभी ट्रेनों को निरस्त कर दिया है। इस दिन पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशनों से बनकर चलने वाली सभी ट्रेनें निरस्त रहेंगी।मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार पूर्वोत्तर रेलवे में गोरखपुर सहित जिन स्टेशनों से बनकर एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें चलती हैं वह सभी निरस्त रहेंगी। शनिवार को रात 12 बजे से रविवार को रात दस बजे के बीच बनकर चलने वाली पैसेंजर ट्रेनें निरस्त रहेंगी। वहीं रविवार को सुबह चार बजे से रात दस बजे तक बनकर चलने वाली एक्सप्रेस ट्रेनें भी नहीं चलेंगी। नियमानुसार टिकटों का किराया वापस किया जाएगा। यहां जान लें कि गोरखपुर से ही रोजाना गोरखधाम, कोचीन और गोरखपुर-एलटीटी सहित कुल 16 एक्सप्रेस तथा 25 पैसेंजर ट्रेनें बनकर चलती हैं।कोरोना की खौफ से लोग तेजी से फ्लाइट का टिकट कैंसिल करा रहे हैं। पिछले तीन दिनों में गोरखपुर से दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, कोलकाता व प्रयागराज जाने वाले यात्रियों की संख्या 40 फीसद कम हो गई है। शुक्रवार को स्पाइस जेट की स्पेशल फ्लाइट से दिल्ली जाने का टिकट लेने वाले 60 फीसद यात्रियों ने अपनी यात्रा रद कर दी। जिसके बाद विमानन कंपनी ने 21 मार्च तक चलने वाली फ्लाइट को दो दिन पहले बंद कर दिया।

सरकार गंभीर, उत्तर प्रदेश में 23 में से नौ कोरोना वायरस के संक्रमण से उबरे

लखनऊ-चीन से फैले कोरोना वायरस ने विश्व को अपने संक्रमण में ले लिया है। केंद्र के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार इससे बचाव को लेकर बेहद गंभीर है। सीएम ने बताया कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के 23 पॉजिटिव में से नौ लोग निगेटिव हो गए हैं। इन सभी को आइसोलेट किया गया था और इनकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई है। योगी आदित्यनाथ ने बताया कि राज्य में कुल 23 लोग  कोरोनो वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से नौ लोग इसके संक्रमण से उबर गए हैं, शेष 14 की हालत में भी काफी सुधार है। हमारे पास राज्य में पर्याप्त संख्या में आइसोलेशन वार्ड हैं। हम धीरे-धीरे इसकी संख्या भी बढ़ा रहे हैं। सरकार काफी प्रयाग कर रही है। इससे निपटने के लिए सरकार हर कदम पर जनता के साथ है। उन्होंने कहा कि यूपी में 23 मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। जिनमें से नौ लोग ठीक हुए हैं। उन्होंने बताया कि खतरे को देखते हुए मॉल, स्कूल और कॉलेजों को बंद रखना पड़ा है। सीएम ने कहा कि हमने बहुत सारी गतिविधियों को रोक लिया है, सिनेमा घर, मॉल्स आदि को बंद कर दिया गया है। गैर जरूरी यात्राएं न करने और भीड़ भाड़ वाले स्थानों से बचने का भी आवाहन किया गया है। हम सभी को 'जनता कर्फ्यू' का पालन करना चाहिए, राज्य की सभी मेट्रो रेल, राज्य और सिटी बस सेवाएं कल बंद रहेंगी।

बने ज्ञान प्रकाश सिंह डॉक्टर।

जौनपुर- केराकत क्षेत्र के गंगौली गांव निवासी अवकाश प्राप्त अध्यापक शिव शंकर सिंह के पुत्र ज्ञान प्रकाश सिंह ने विधि में शोध पूर्ण किया। एल,एल. बी तथा एल,एल.एम में प्रथम श्रेणी के बाद  राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) परीक्षा पास कर डॉक्टर तेज बहादुर सिंह के नेतृत्व में पीएच.डी शोध कार्य पूर्ण किया। गांव क्षेत्र का नाम रोशन किया। ज्ञान प्रकाश पहले उमानाथ सिंह विधि महाविद्यालय महरुपुर में सात वर्ष तक असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर रहे। वर्तमान में पिछले तीन वर्ष से तिलकधारी विधि महाविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में अनुदानित महाविद्यालय के स्ववित्तपोषित शिक्षक संघ में कोषाध्यक्ष भी हैं।

Friday, March 20, 2020

वी सी ने केमेस्ट्री विभाग एवं फार्मेसी संस्थान को दिया तुरंत सेनेटाइजर बनाने का निर्देश

जौनपुर- वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में आज 20मार्च, 2020 को कुलपति प्रो0 डॉ राजाराम यादव की अध्यक्षता में कोरोना वायरस के संदर्भ में सावधानी एवं बचाव को लेकर एक आपात बैठक आहूत की गई।बैठक में कुलपति प्रो0 डॉ राजाराम यादव ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, उच्च शिक्षा विभाग एवं राज्य सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी का स्पष्ट रूप से पालन करने के निर्देश दिये। बैठक में कुलपति ने बताया कि 19मार्च, 2020 को शासन से  जारी दिशा-निर्देश के क्रम में विश्वविद्यालय 2 अप्रैल तक बंद रहेगा। जरूरी होने पर इस अवधि में किसी विभागाध्यक्ष, शिक्षक  एवं कर्मचारी  को आवश्यक कार्य से बुलाये जाने पर उसकी उपस्थिति अनिवार्य होगी। उक्त अवकाश की अवधि में कोई मुख्यालय से बाहर नही जायेगा। समस्त शिक्षक,कार्मिक अपने विभागाध्यक्ष,संकायाध्यक्ष,अधीक्षक,प्रभारी के संपर्क में रहेंगे। सम्पूर्ण विश्वविद्यालय परिसर की साफ-सफाई एवं सैनिटाइज करने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश किया। इसी क्रम में उन्होंने सेनेटाइजर की मांग एवं बाजार में उसकी कमी को देखते हुए केमेस्ट्री विभाग  एवं फार्मेसी संस्थान को तत्काल सेनेटाइजर बनाने का निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के ये विभाग  सेनेटाइजर बना कर उसकी कमी को  पूरी करेंगे। सेनेटाइजेशन की इस प्रक्रिया के दौरान परिसर में छात्र-छात्राओं एवं आगन्तुकों का अनावश्यक अवागमन प्रतिबन्धित है। कुलपति ने स्पष्ट किया कि परिसर में किसी भी प्रकार का अवकाश घोषित नहीं किया जा रहा है, मात्र सुरक्षा एवं बचाव की दृष्टि से परिसर को सेनेटाइज करने के लिए विश्वविद्यालय परिसर में समस्त प्रकार के आवागमन को रोका जा रहा है। उन्होंने विश्वविद्यालय की वेबसाइट को अपडेट करते रहने का निर्देश दिया जिससे आनलाइन परीक्षा फार्म एवं एडमिशन सम्बन्धी प्रक्रिया में किसी को असुविधा न हो। इस अवसर पर कुलसचिव सुजीत कुमार जायसवाल ,वित्त अधिकारी एमके सिंह  परीक्षा नियंता बीएन सिंह, सहायक कुलसचिव अमृतलाल ,प्रो0 बीबी तिवारी , प्रो0 मानस पांडेय , प्रो अजय द्विवेदी, प्रो0 अशोक श्रीवास्तव , प्रो वंदना राय , प्रो विक्रम देव,प्रो देवराज सिंह, डॉ मनोज मिश्र , डॉ राजकुमार ,डॉ संतोष कुमार, डॉ रजनीश भास्कर डॉ रसिकेश,डॉ सौरभ पाल,डॉ अन्नू त्यागी,डॉ पूजा सक्सेना,डॉ अलोक दास,डॉ धर्मेंद्र सिंह,डॉ मनोज कुमार पांडेय सहित शिक्षकउपस्थित रहे।विश्वविद्यालय के रसायन विभाग एवं फार्मेसी संस्थान द्वारा  डब्लू एच ओ (WHO) के मानक अनुसार शिक्षक डॉ नितेश जायसवाल,  डॉ प्रमोद कुमार , डॉ मिथिलेश,डॉ राजीव कुमार,डॉ विजय मौर्य ,पूजा सक्सेना ,डॉ अलोक दास एवं डॉ झांसी मिश्रा ने इथनॉल तथा आइसोप्रोपिल युक्त सेनेटाइजर बनाया एवं कहा कि इथनॉल तथा आइसोप्रोपिल युक्त ये सेनेटाइजर करोना से लड़ने में सहायक होंगे। अभी काफी मात्रा में हैंड सेनेटाइजर का निर्माण किया जा रहा है। आज शुक्रवार को रसायन विभाग तथा फार्मेसी के शिक्षकों ने विभाग में निर्मित सैनिटाइजर को विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रशासनिक अधिकारी , विभागाध्यक्ष, शिक्षकों तथा कर्मचारियों के बीच प्रदर्शित  तथा सेनेटाइज   किया ।

प्रयागराज लखनऊ हाईवे की पटरी पर चार को रोंदा ट्रक, तीन की मौत व एक घायल

प्रयागराज- प्रतापगढ़ जनपद मानिकपुर थाना क्षेत्र के कस्बा मानिकपुर में आज दोपहर अनियंत्रित ट्रक ने पटरी पर खड़ी चार लोगों को रौंद दिया।हादसे में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई है। वहीं एक युवक गंभीर रूप से जख्‍मी हो गया।उसे प्रयागराज के अस्‍पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। हादसे के बाद वहां हड़कंप मच गया। पुलिस ने शवों को कब्‍जे में ले लिया है। हजारों की भीड़ घटनास्‍थल पर मौजूद है। उधर हादसे के बाद ट्रक लेकर चालक फरार हो गया।प्रयागराज-लखनऊ हाईवे पर मानिकपुर कस्‍बा स्थित है। कस्‍बे के सभागंज चौराहे के पास शुक्रवार की दोपहर करीब 12 बजे हाईवे की पटरी पर फेरी लगाने वाले दुकानदार अपनी दुकानें सजा कर बैठे हुए थे। वहीं निकट गांव के कुछ लोग भी थे जो किसी काम से मानिकपुर आए थे। इसी दौरान लखनऊ से प्रयागराज जा रहा एक ट्रक अनियंत्रित हो गया। तेज स्‍पीड में ट्रक हाईवे किनारे फल की दुकान के निकट खड़े तीनों ग्रामीणों को रौंदते हुए निकल गया। हादसे में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई है। वहीं हादसे की जद में आकर एक अन्‍य युवक भी गंभीर रूप से घायल हो गया। चीख-पुकार मचने पर वहां आसपास के दुकानदार और राहगीरों की भीड़ जुट गई।सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्‍जे में ले लिया। वहीं गंभीर रूप से जख्‍मी युवक को इलाज के लिए पहले स्‍थानीय अस्‍पताल पुलिस ले गई। वहां गंभीर हालत देख चिकित्‍सकों ने प्रयागराज के अस्‍पताल के लिए रेफर कर दिया।

लखनऊ के KGMU में चार और में कोरोना वायरस की पुष्टि,उत्तर प्रदेश में 23

लखनऊ-चीन से फैले कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। केजीएमयू के मेडिसिन विभाग में नौ कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को रखा गया है। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पॉजिटिव की संख्या 23 पहुंच गई है। लखनऊ में कोरोना वायरस से पीडि़तों की देखरेख में लगे जूनियर डॉक्टर के रिश्तेदारों में भी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है। आज जिन चार लोगों में कोरोना वायरस के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है, उनमें जूनियर डॉक्टर के तीन रिश्तेदार शामिल हैं। लखनऊ में आज चार और में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हो गई है। इसके साथ ही लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में दर्जनों की स्कैनिंग जारी है। इनकी संख्या में बढ़ोतरी तय है। लखनऊ व आगरा में आठ-आठ पॉजिटिव केस मिलने के साथ ही उत्तर प्रदेश में अब संक्रमितों की संख्या 23 पर पहुंच गई है। लखनऊ में अब तक कुल आठ में कोरोना वायरस की पुष्टि हो चुकी है। इसके अलावा आगरा में आठ, नोएडा में चार, गाजियाबाद में दो और लखीमपुर खीरी में एक में कोरोना वायरस से संक्रमित है। केजीएमयू ने कहा कि इलाज के लिए मरीज अन्य अस्पतालों में भी भर्ती कराए जाएं।लखनऊ के जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में कुल नौ लोग भर्ती हैं। इनमें आठ लखनऊ के हैं जबकि एक लखीमपुर खीरी का युवक है। लखनऊ में शुक्रवार को जिन चार और लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है उनमें दो महिला व दो पुरुष शामिल हैं। इसमें यूके से लौटकर आई एक महिला शामिल है। बाकी तीन पहले से कोरोना वायरस से संक्रमित के संपर्क में थे। केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि लखनऊ में सभी लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। नौ में से सात मामले हायर लोड वाले पाए गए हैं। लखनऊ में गोमतीनगर निवासी पॉजिटिव केस इंग्लैंड से लौटा है जबकि लखीमपुर खीरी निवासी टर्की से आया है। डॉ. सुधीर सिंह बताया कि दो और रोगियों की संक्रमण से पुष्टि हो गयी है। वर्तमान में इनकी संख्या नौ हो गयी है।


दिहाड़ी मजदूरों को एक-एक हजार रुपये उनके बैंक खाते में दे सकती है,यूपी सरकार

लखनऊ- उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कोरोना वायरस के चलते सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे दिहाड़ी मजदूरों को एक-एक हजार रुपये उनके बैंक खाते में दे सकती है। यूपी सरकार यह धनराशि करीब एक करोड़ दिहाड़ी मजदूरों को देने पर गंभीरता से विचार कर रही है। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में गठित मंत्रियों की समिति ने गुरुवार को भी बैठक कर इस मसले पर विस्तृत विचार-विमर्श किया। कमेटी ने संबंधित प्रस्ताव सीएम को भेज दिया गया है। सीएम शुक्रवार को इस संबंध में घोषणा कर सकते हैं। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में गठित कमेटी ने मजदूरों के जो आंकड़े दिए हैं उनमें 21 लाख से ज्यादा श्रम विभाग के पंजीकृत मजदूर हैं। साथ ही नगर विकास विभाग के 16 लाख दिहाड़ी सफाई कर्मचारी, 58 हजार ग्राम सभाओं के करीब 11 लाख मजदूरों को शामिल करने पर विचार किया। रिक्शा चालकों, निर्माण श्रमिकों, रेहड़ी-खोमचे वालों, पल्लेदारों, रेलवे कुली, मॉल आदि में काम करने वाले मजदूरों को शामिल करने पर भी विचार किया गया।

Thursday, March 19, 2020

जौनपुर प्रभारी राज्यमंत्री उपेन्द्र तिवारी 20 मार्च को जिले में बिभिन्न कार्यक्रमो में होंगे शामिल

जौनपुर- प्रभारी अधिकारी प्रोटोकाल ने बताया कि राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)/खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज, उ0प्र0/प्रभारी मंत्री उपेन्द्र तिवारी 20 मार्च 2020 को 10.00 बजे निरीक्षण भवन लोनिवि जौनपुर में जनप्रतिनिधियों/पार्टी जिला पदाधिकारियों के साथ मंत्री  बैठक करेंगे। 11 बजे निरीक्षण भवन लोनिवि में  मंत्री  समन्वय समिति की बैठक में भाग लेंगे। 12.00 बजे कलेक्टेªट सभागार में प्रदेश सरकार की 03 वर्ष की उपलब्धियों के सम्बन्ध में  मंत्री  प्रेस वार्ता करेंगे। 03.00 बजे जलालपुर (मछलीशहर) में जनप्रतिनिधियों/भाजपा जिला पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। 04.00 बजे होटल खुशी जलालपुर (मछलीशहर) में भाजपा समन्वय समिति की बैठक में भाग लेंगे।

कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव के बारे में आम जनमानस जागरूकता के लिये निकाली गयी वाहन रैली

जौनपुर-कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव के बारे में आम जनमानस में जागरूकता लाने के लिये मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. रामजी पाण्डेय के नेतृत्व में वाहन रैली निकाली गयी। रैली में विभागीय वाहन के साथ अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला मलेरिया अधिकारी सहित अन्य कर्मचारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। प्रचार वाहन द्वारा कोरोना के लक्षण एवं बचाव से सम्बन्धित जानकारी देते हुये रैली मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से होते हुये कलेक्ट्रेट परिसर, शाही किला, अटाला मस्जिद के रास्ते जाकर जिला पुरूष चिकित्सालय में सम्पन्न हुई। वाहन रैली के साथ चल रही फागिंग मशीन द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में फागिंग की गयी। इस अवसर पर तमाम लोग रहे उपस्थित।

यूपी में कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या 19, लखनऊ में 5

लखनऊ-उत्तर प्रदेश सरकार के साथ ही लोगों के प्रयास के बाद भी चीन से फैले कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। लखनऊ में गुरुवार को किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में दो और संदिग्धों में कोरोना वायरस की पुष्टि हो गई है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लखनऊ में पांच तथा उत्तर प्रदेश में 19 हो गई है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना को भले ही महामारी घोषित नहीं किया है, लेकिन महामारी जैसी सभी स्थितियों से निपटने का अलर्ट जारी किया गया है। अब तक उत्तर प्रदेश में 19 करोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं। यहां पर लाखों लोगों की रोज स्कैनिंग की जा रही है। भारत-नेपाल सीमा के 2200 से अधिक गांवों को सैनिटाइज किया गया है।किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या पांच हो गई है। केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि लखनऊ में तीन लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। गुरुवार को दो नये पॉजिटिव केस आए हैं। दोनों ही मामले हायर लोड वाले पाए गए हैं। इनमें एक गोमतीनगर का निवासी है जबकि दूसरा लखीमपुर खीरी से लाया गया है। गोमतीनगर निवासी पॉजिटिव केस इंग्लैंड से लौटा है जबकि लखीमपुर खीरी निवासी टर्की से आया है। डॉ. सुधीर सिंह बताया कि दो और रोगियों की संक्रमण से पुष्टि हो गयी है। वर्तमान में संख्या पांच हो गयी है।लखनऊ में गोमतीनगर के विशाल खंड निवासी शख्स लंदन से लौटा है। उसे केजीएमयू के आइसोलेशन वार्ड में एडमिट कर इलाज किया जा रहा है। लखीमपुर खीरी निवासी मरीज में भी कोरोनावायरस की पुष्टि होने के बाद उसे भी एडमिट किया गया है। यह तुर्की से लौटा है। लखीमपुर का मरीज मंगलगंज में इलेक्ट्रॉनिक की दुकान करता है। वह 8 तारीख को तुर्की से यात्रा कर लौटा था। ऐसे में बुखार आया। उसने मैगलगंज, महोली, सीतापुर मे डॉक्टरों को दिखाता रहा। फायदा न होने पर कल केजीएमयू आया। ऐसे में कई लोगों में संक्रमण की आशंका है। केजीएमयू प्रशासन ने सभी डॉक्टरों और प्रोफेसरों की छुट्टियां रद कर दी गई। लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की बढती संख्या को देखते हुए यह फैसला लिया है। सभी को ऑन कॉल 24 घंटे तैयार रहने के लिए कहा गया। महामारी से निपटने के लिए उन्हें कभी भी बुलाया जा सकता है।

जिले में चल रहा फर्जी आरसी बनाने का धन्धा

जौनपुर-जिले में चल रहा फर्जी आरसी बनाने का धन्धा,कार्यालय के बाहर दुकानों लर वाहनों का फर्जी आरसी बनाकर उसे एआरटीओ कार्यालय में सत्यापित करा लिया जाता है,एआरटीओ एसके सिंह के सामने फर्जी आरसी लेकर सत्यपित कराने पहुचे एक युवक को संदेह होने पर एआरटीओ ने किया पुलिस हवाले और इस रैकेट को पकड़ने के लिए टीम गठित कर दी गयी

सीएम ने खुद कराई थर्मल स्क्रीनिंग, कोरोना से लोगो को एलर्ट रहने की दी नसीहत

लखनऊ- प्रदेश सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के अवसर पर लोक भवन में आयोजित कार्यक्रम में जाते समय सीएम ने खुद थर्मल स्क्रीनिंग कराई। उन्होनें आयोजन स्थल पहुंचे सभी मंत्रियों और अफसरों की भी थर्मल स्क्रीनिंग की गई। प्रदेश की भाजपा सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के अवसर पर लखनऊ स्थित लोक भवन में सीएम ने सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। सभी आगंतुकों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही थी। यहां तक की योगी आदित्यनाथ की भी थर्मल स्क्रीनिंग की गई। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद सीएम ने स्कैनर के बारे जानकारी भी ली।सीएम योगी के अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उपमुख्यमंत्री डॉ.दिनेश शर्मा, मुख्य सचिव आरके तिवारी आदि की भी थर्मल स्क्रीनिंग कराई गई।कोरोना वायरस से सतर्कता दिखाते हुए योगी सरकार ने कई अहम निर्णय किए हैं।

Wednesday, March 18, 2020

जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस के चलते दिये आवश्यक दिशा-निर्देश

जौनपुर- जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह द्वारा कोरोना वायरस के दृष्टिगत जिले के शाही किला, सिनेमा हाल, लोहिया पर्यावरणीय उद्यान पार्क में पर्यटकों/घूमने वालों के लिए बंद करने करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कलेक्ट्रेट एवं अन्य कार्यालयों में प्रवेश द्वार पर एक कर्मचारी को सैनिटाइजर एवं डिटॉल साबुन लेकर उपस्थित रहने एवं कार्यालय आने वाले लोगों का हाथ धुलाकर प्रवेश कराने का निर्देश दिया। उन्होंने अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को निर्देश दिया कि एसओपी तैयार कराकर सभी कार्यालयों में जारी करा दें। जिलाधिकारी ने जन सामान्य से अपील किया है कि अनावश्यक रूप से भीड़-भाड़ वाले स्थान पर न जाएं, जब तक कि कोई आवश्यक कार्य न हो। दूसरे देश से आने वाले चाहे वे हिंदुस्तान के नागरिक हो या विदेश के नागरिक हो, हिंदुस्तान आ रहे हैं तो इसकी जानकारी जनपद में स्थापित कंट्रोल रूम के मोबाइल नम्बर 7311195120, 9569434388 पर अवश्य दें एवं ऐसे आने वाले लोगों की सूचना पड़ोसी द्वारा भी कंट्रोल रूम के मोबाइल नंबर पर दी जा सकती है ताकि उनकी जांच कराई जा सके कि वह कोरोना वायरस से प्रभावित है कि नहीं। प्रभावित होने की स्थिति में उन्हें आइसोलेशन वार्ड में रखकर उनकी चिकित्सा कराई जा सके। जिलाधिकारी ने सभी आम जनमानस से अपील किया एवं सुझाव दिया है कि कोरोना वायरस से डरने की आवश्यकता नहीं है किन्तु सतर्कता एवं बचाव आवश्यक है। उन्होंने जिले के समस्त शॅापिंग माल के स्वामियों को निर्देश दिया है कि अपने अपने यहां मुख्य द्वार पर सैनिटाइजेशन की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं, कोई भी बिना सैनिटाइजेशन के प्रवेश नहीं करेगा। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं चिकित्सा अधिकारियों को भ्रमण कर उक्त व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी सभी चौराहों पर कोरोना वायरस से बचाव के पोस्टर एवं होर्डिंग लगवाए एवं शहर में घूम कर लाउड स्पीकर से इसका प्रचार कराएं। शासन के निर्देशानुसार 02 अप्रैल 2020 तक सभी शिक्षण संस्थान एवं कोचिंग संस्थान बंद कर दिए गए हैं। जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को इसका कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। उन्होंने रेस्टोरेंट में आने वाले लोगो को हैंडवाशिंग कराने के पश्चात प्रवेश देने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी शिक्षण संस्थान एवं कोचिंग, व्यायामशाला एवं स्विमिंग पूल 02 अप्रैल 2020 तक बंद रहेंगे। उन्होंने हाथ मिलाना तथा गले लगाना जैसे अभिवादन से बचने का सुझाव दिया। सम्पूर्ण समाधान दिवस एवं थाना समाधान दिवस 02 अप्रैल 2020 तक स्थगित रहेंगे।

हाई कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से संपत्ति क्षति वसूली अध्यादेश की वैधता चुनौती याचिका पर माँगा जबाब

प्रयागराज-इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यूपी सरकार से संपत्ति क्षति वसूली अध्यादेश की वैधता चुनौती याचिका पर 25 मार्च तक जवाब मांगा है। याचिका की सुनवाई 27 मार्च को होगी। कोर्ट ने फिलहाल याचिका पर अंतरिम आदेश देने से इनकार कर दिया है। उत्तर प्रदेशा में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध के दौरान संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों के फोटो सार्वजनिक स्थानों पर प्रदर्शित करने को अवैध करार देने के हाई कोर्ट के आदेश के बाद योगी सरकार 15 मार्च को यह अध्यादेश लाई है। यह आदेश मुख्य न्यायाधीश गोविन्द माथुर तथा न्यायमूर्ति समित गोपाल की खंडपीठ ने शशांक श्री त्रिपाठी की जनहित याचिका पर दिया है। याचिका में अध्यादेश को निजता के अधिकार के विपरीत होने के आधार पर असंवैधानिक घोषित करने की मांग की गई है।

प्रेम प्रसंग के चक्कर में युवती की गला घोंटकर हत्या करने के आरोप में मुगराबादशाहपुर पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार

जौनपुर- जिले के मुगराबादशाहपुर थाना अन्तर्गत लक्ष्मी शुक्ला पुत्री लालजी शुक्ला निवासी बनगांव तरहटी थाना मुंगराबादशाहपुर जौनपुर का शव घर के बगल में मिला था, जिसके सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0 66/2020 धारा 302 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया। विवेचना से प्रकाश में आया अभियुक्त पुनित कुमार पान्डेय उर्फ रूपक पाण्डेय पुत्र सुरेश कुमार पाण्डेय निवासी मनोरथपुर तरहटी थाना मुंगराबादशाहपुर जौनपुर को गिरफ्तार किया गया। विवेचना से यह तथ्य प्रकाश में आया कि अभियुक्त व मृतका के बीच कई वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। अभियुक्त की शादी हो जाने एवं मृतका का अभियुक्त के साथ रहने के जिद्द के कारण अभियुक्त द्वारा मृतका का रस्सी से गला घोट कर हत्या कर दी गयी। अभियुक्त को मुखबिर की सूचना पर तरहटी मोड़ के पास से आज दिनांक 18.03.2020 को समय 09.30 बजे गिरफ्तार किया गया। तथा घटना का सफल अनावरण किया गया।
*अभियुक्त का नाम व पता*
1. रूपक पाण्डेय पुत्र सुरेश कुमार पाण्डेय निवासी मनोरथपुर तरहटी थाना मुंगराबादशाहपुर जौनपुर।
*गिरफ्तारी करने वाली टीम का विवरण*
 1.थाना प्रभारी अरविन्द कुमार यादव थाना मुंगराबादशाहपुर जनपद जौनपुर।
 2.का0 सुनिल सिंह  थाना मुंगराबादशाहपुर जनपद जौनपुर।
3.का0 अरुण कुमार विश्वकर्मा, थाना मुंगराबादशाहपुर जौनपुर।

तेज रफ्तार टूरिस्ट बस धनियामऊ चौकी के अंदर जा घुसी जिससे एक युवक की मौत दो होमगार्ड बुरी तरह से घायल

जौनपुर-बक्शा थाना क्षेत्र के धनियांमऊ बाजार में मंगलवार देर रात तेज रफ्तार टूरिस्ट बस धनियामऊ चौकी के अंदर जा घुसी, जिससे चौकी पर मौजूद एक युवक की मौत हो गई जबकि दो होमगार्ड बुरी तरह घायल हो गए।रात्रि करीब एक बजे लखनऊ से वाराणसी की तरफ जा रही यात्रियों से भरी टूरिस्ट बस धनियांमऊ बाजार में पहुँची उसी दौरान बस चालक बस से नियंत्रण खो बैठा। बस सीधे पुलिस चौकी को ध्वस्त करते हुए जमीदोंज कर दिया। चौकी पर ही बाजार निवासी राम सागर उर्फ झुन्नू जायसवाल 19 वर्ष, होमगार्ड थाना क्षेत्र के हैदरपुर निवासी विजय एवं बदलापुर थाना क्षेत्र के लेदुका बाजार निवासी शिराज बैठकर बातचीत कर रहे थे उसी दौरान तेज गति से आ रही टूरिस्ट बस चौकी को ध्वस्त करते हुए अंदर घुस गई। तेज आवाज सुनते ही पड़ोसी शुभम दूबे आदि ने पहुँच फसें दोनो होमगार्ड को बाहर निकाला उसी दौरान टायर में दबे रामसागर की चीख सुन बाजार वासी उन्हें भी निकाल बाहर किये। उधर बस में बैठे यात्रियों में भी घबड़ाहट से चीख पुकार मच गई। हालांकि टूरिस्ट यात्री बाल-बाल बच गए। घटना के बाद मौके पर मौजूद बाजार वासी घायल रामसागर होमगार्ड विजय व शिराज को नौपेड़वा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए बेहतर उपचार हेतु जिला अस्पताल ले गए जहां रामसागर को मृत घोषित कर दिया गया। सूचना पर पहुँची पुलिस बस को थाने ले गई।

यूपी में जनविश्वास बहाल कर विकास व विश्वास के नए दौर में ले जाने में पाई सफलता सीएम

लखनऊ-यूपी में भारतीय जानता पार्टी की योगी सरकार ने आज अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे कर लिये हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को बताया। लखनऊ में बुधवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चुनौतियों और संभावनाओं के महासमर में संकल्पों और सिद्धांतों की नाव से यात्रा करते हुए आज उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार ने तीन वर्ष पूरे कर लिए हैं।सीएम योगी ने कहा कि हमने राज्य में कानून व्यवस्था बहाल की है, विकास कार्यों की गति को बढ़ाया और लोकतांत्रिक मूल्यों में आम लोगों के विश्वास को मजबूत किया है। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक पुस्तक का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 403 विधानसभाओं की अलग-अलग पुस्तिकाएं आ रही हैं। उन पुस्तिकाओं में देश, प्रदेश, जिले और उन विधानसभा क्षेत्र में हुए कार्यों का उल्लेख है। लखनऊ में बुधवार को इस पुस्तक के विमोचन के साथ ही गुरुवार से अगल-अलग जिलों में शुरू होगा। 

Tuesday, March 17, 2020

कोरोना वायरस के प्रकोप से शहर के सभी मेडिकल स्टोर संचालकों को दिया गया दिशा निर्देश

जौनपुर- जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के निर्देश पर  सिटी मजिस्ट्रेट ने मेडिकल स्टोरों पर बिक रहे अवैध मास्क व सेनीटाइजर के लिए गाईड लाइन बनाया है जनपद के,सभी दुकानों पर रेट लिस्ट चस्पा करने का निर्देश दिया है ,साथ ही जनपद के सभी माल के बाहर सैनिटाइजर से हाथ धुलने व सैनिटाइजर से हाथ साफ करने के बाद ही प्रवेश करने दिया जाए एव जिले के सभी सिनेमाहॉल भी बंद रहेंगे

कोरोना वायरस का कहर देखते हुए योगी सरकार सभी स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा

लखनऊ-चीन से विश्व भर में फैला कोरोना वायरस का कहर धीरे-धीरे अब बढ़ता जा रहा है। इससे बचाव को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार काफी सतर्क है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने कैबिनेट की बैठक के बाद प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। पहले सरकार ने सभी स्कूल-कालेज को 22 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया था। स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही सरकार ने अगले आदेश तक सभी परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया है। लोकभवन में कैबिनेट की बैठक के साथ सभी स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही परीक्षाओं को अगले आदेश तक स्थगित करने का भी निर्णय लिया है। इसके साथ ही फैसला लिया गया है कि निजी क्षेत्र के लोग घर से काम करें। कोरोना वायरस से संक्रमित सभी लोगों का मुफ्त इलाज होगा। इसके साथ ही सभी धरना तथा प्रदर्शन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को भी रद करने के साथ ही प्रदेश के सभी धार्मिक स्थलों को भी बंद किया गया है। सरकार ने सभी धर्म गुरुओं से इसमें सहयोग की अपील भी की है। मंदिर, गुरुद्वारा तथा मस्जिद को भी बंद रखा जाएगा।प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण को महामारी के समकक्ष घोषित करते हुए मुख्यमंत्री ने प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेजों को अब दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। पहले स्कूल व कॉलेजों को 22 मार्च तक बंद रखने का निर्देश जारी किया गया था। सरकार ने इसका समय बढ़ाने का निर्णय 20 मार्च को समीक्षा के बाद करने की योजना बनाई थी, लेकिन आज ही आदेश जारी कर दिया है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस के बचाव के इंतजाम की हर प्रकार की मॉनिटरिंग खुद ही कर रहे हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश में समय-समय पर एडवाइजरी जारी की जा रही है।उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 15 लोगों में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया था, जिसमें से आगरा के चार लोग नई दिल्ली से स्वस्थ होकर लौटे हैं। आगरा में आठ, नोएडा में तीन, लखनऊ व गाजियाबाद में दो-दो कोरोना पॉजिटिव हैं।लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के साथ ही संजय गांधी पीजीआई, गोरखपुर के बाब राघव दास मेडिकल कॉलेज तथा लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस व बलरामपुर अस्पताल में इससे संक्रमित लोगों को भर्ती करने की सुविधा है।

19 मार्च 2017 को शपथ लेने वाली योगी सरकार तीन वर्ष के कार्यकाल पूरा करने से पहले कैबिनेट की बैठक में दस प्रस्ताव पर मुहर लगाएगी

लखनऊ- उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार तीन वर्ष पूरा करने की कगार पर है। 19 मार्च 2017 को शपथ लेने वाली सरकार तीन वर्ष के कार्यकाल पूरा करने से पहले आज कैबिनेट की बैठक में दस प्रस्ताव पर मुहर लगाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में लोक भवन में होने वाली कैबिनेट की बैठक में दस से ज्यादा प्रस्तावों पर मुहर लग सकती है। माना जा रहा है कि इसमें औद्योगिक विभाग,उच्च शिक्षा विभाग और गृह विभाग के कई प्रस्तावों को मंजूरी मिलेगी। पीपीपी मॉडल के मेडिकल कालेजों के प्रस्ताव के विस्तार को भी हरी झंडी मिल सकती है। योगी सरकार एक नया रिकॉर्ड कायम करने जा रही है। आगामी 19 मार्च को उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री के तौर पर तीन वर्ष पूरे हो जाएंगे। मुख्यमंत्री के तौर पर उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल के तीन वर्ष होते ही वो भाजपा के ऐसा करने वाले उत्तरप्रदेश के पहले मुख्यमंत्री बन जाएंगे, जिसने उत्तर प्रदेश में तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा किया है।

लाइसेंसी राइफल साफ करते समय गोली चलने से युवक की मौत परिजनों मे मचा कोहराम

जौनपुर- जिले के सिगरामऊ थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव में बीती रात लाइसेंसी राइफल साफ करते समय गोली चलने से युवक की मौत परिजनों मे मचा कोहराम। जानकारी के अनुसार उक्त थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव में बीती रात राजन पाण्डेय अपने भाई बब्लू की राइफल साफ कर रहे थे इसी बीच राइफल मे फंसी गोली दगने से 24 वर्षीय राजन पाण्डेय की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई मामला संदिग्ध। वही परिजनो का रो-रो कर बुरा हाल है। सूचना पर पहुंची सिगरामऊ  पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है।

हमीरपुर में बेटा- बेटी को फांसी देने के बाद बेबस पिता ने भी दी जान

हमीरपुर-जनपद के एक गांव में मंगलवार की सुबह हुई घटना से सभी के दिल दहल गए। मौदहा के अलीपुरा गांव में घर के अंदर पिता, पुत्री और पुत्र के शव फांसी पर लटके मिले तो सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू की है। माना जा रहा है कि पिता ने पहले बेटा और बेटी को फांसी दी फिर खुद भी जान दे दी। फिलहाल अभी कारण स्पष्ट नहीं हो सका है, वहीं लोगों के बीच हत्या को लेकर भी चर्चा बनी है लेकिन पुलिस इनकार कर रही है।मौदहा कोतवाली क्षेत्र के अलीपुरा गांव में 32 वर्षीय अमर सिंह, पत्नी व दो बच्चों के साथ रहता था। गांव में मंगलवार की सुबह उसके घर में हलचल न देखकर पड़ोसी पहुंचे तो सन्न रह गए। घर के अंदर अमर सिंह और उसके सात वर्षीय बेटे प्रांशू व पांच वर्षीय बेटी प्रानसी के शव फांसी पर लटक रहे थे। इसकी जानकारी होते ही घर के बाहर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। सूचना पर गांव पहुंची पुलिस ने तीनों के शवों को फंदे से उतारकर छानबीन शुरू की। माना जा रहा है कि अमर सिंह ने दोनों बच्चों को फांसी पर लटकाने के बाद खुद भी फांसी लगाकर जान दी है। पूछताछ में घरेलू विवाद में घटना होने की बात सामने आ रही है। वहीं कुछ ग्रामीणों में हत्या कर शव लटकाने की चर्चा बनी है, हालांकि पुलिस इससे इनकार कर रही है। पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट और छानबीन के बाद कुछ स्पष्ट होने की बात कही है।

Monday, March 16, 2020

महराजगंज में बाइक सवार बदमाशों ने ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से दिन-दहाड़े 50 हजार की लूट

महराजगंज-बाइक सवार तीन बदमाशों ने आज अड़बडहवा बरवास ईंट भट्ठे के पास तमंचा दिखाकर ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से 50 हजार रुपये लूट लिए। साथ ही पर्स व मोबाइल लेकर चले गए। लूट की सूचना पर सक्रिय हुई पुलिस ने छानबीन शुरू की, लेकिन लुटेरे हाथ नहीं आए।पनियरा थानाक्षेत्र के औरहिया गांव निवासी रमेश यादव पुत्र भरत यादव गांव के चौराहे पर पूर्वाचल ग्रामीण का ग्राहक सेवा केंद्र चलाते हैं। आज  गांगी बाजार स्थित पूर्वांचल ग्रामीण बैंक से 50 हजार रुपये निकाल कर वापस आ रहे थे। दोपहर 12  बजे क्षेत्र के अड़बडहवा ईंट भट्ठे के पास तीन बदमाशों ने तमंचा दिखाकर रोक लिया। रमेश की तलाशी ली इस दौरान उसके पास मौजूद पचास हजार रुपये, मोबाइल व पर्स लूट कर फरार हो गए। कनपटी पर तमंचा सटते ही रमेश अवाक हो गए।बदमाशों के जाने के बाद उन्होंने स्थानीय लोगों की मदद से घटना की सूचना पुलिस को दी। लूट की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई। प्रभारी थानाध्यक्ष सूर्यभान यादव फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। पीड़ित संचालक से बदमाशों का हुलिया पूछा और घेराबंदी कर तलाश में जुट गए। उन्होंने बताया कि लूट की घटना करने के बाद बदमाश मुजुरी की तरफ भागे हैं। मुकदमा दर्ज कर घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।उधर, बस्ती के लालगंज कस्बे में मकान पर कब्जा करने को लेकर ह़ुए बवाल में मारपीट हुई। कस्बे के लोगों ने घेराबंदी की तो दबंग हवाई फायरिंग कर वाहन छोड़ पैदल ही भाग निकले। मुख्य बाजार में राज स्वरूप अग्रहरि का घर है। इसको लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा है। दूसरे पक्ष के किशन यादव का कहना है वह मकान उनका है,वह इसे खरीद चुके हैं। राम स्वरूप का कहना है वह मकान नहीं बेंचे हैं। फर्जी तरीके से रजिस्ट्री कराकर मकान पर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है। इसको लेकर थाने पर भी कई बार पंचायत हो चुकी है। सोमवार को सुबह 8 बजे किशन यादव अपने साथियों संग पूरी तैयारी के साथ मकान पर कब्जा करने पहुंच गए। घर में मौजूद परिवार के सदस्यों को सामान लेकर बाहर निकालने लगे। महिलाओं ने विरोध किया तो गोली मारने की धमकी दी। शोरगुल होने पर आसपास केे लोग पहुंच गए। पीड़ित पक्ष के साथ भीड़ हुई तो मकान कब्जा करने गए लोगों में से एक ने गोली चला दी। कस्बे के लोगों ने लाठी डंडा और ईंट पत्थर लेकर घेर लिया। मकसद में असफल होने वाले दूसरे पक्ष के लोग हवाई फायरिंग करते हुए भाग निकले।

लखनऊ में अभी भी लगे हैं होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स,हाई कोर्ट में यूपी सरकार को आज देनी है स्टेटस रिपोर्ट

इलाहाबाद-नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में लखनऊ सहित यूपी के एक दर्जन शहरों में हिंसा तथा तोड़फोड़ करने के आरोपितों के फोटो होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स में लगाने के मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेकर प्रदेश सरकार को 16 मार्च को अनुपालन रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया था। हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल के समक्ष आज लखनऊ के डीएम की रिपोर्ट दाखिल करेंगे।सरकार ने इस मामले में फिलहाल कुछ भी नहीं किया है। सरकार ने हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी, जहां से उसको राहत नहीं मिली थी। आज हाईकोर्ट में इस मामले में सुनवाई होनी है। माना जा रहा है कि सरकार होर्डिंग व पोस्टर हटाने के पक्ष में नहीं है। ऐसे में सोमवार को सरकार हाईकोर्ट के समक्ष हलफनामा दाखिल कर सुप्रीम कोर्ट में चल रही एसएलपी का हवाला देगी। प्रदेश की मुख्यमंत्री सरकार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 16 मार्च तक सीएए के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शन के सभी आरोपियों के फोटो वाले होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स को हटाने का निर्देश दिया था। हाई कोर्ट ने इस प्रकरण में लखनऊ के जिलाधिकारी तथा पुलिस कमिश्नर को तलब भी किया था। इसके बाद भी अभी तक लखनऊ में आरोपितों के फोटो वाले होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स लगे हैं। आज सुनवाई के दौरान हो सकता है कि प्रदेश सरकार की तरफ से होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स हटाने के और वक्त मांग जाए।इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस गोविंद माथुर ने होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स के मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए नौ मार्च रविवार को पोस्टर हटाकर 16 मार्च को अनुपालन रिपोर्ट देने का आदेश दिया था। उनके इस निर्देश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी। वहां पर सुप्रीम कोर्ट की डबल बेंच ने हाईकोर्ट के आदेश पर रोक तो नहीं लगाई, लेकिन मामला बड़ी बेंच को रेफर कर दिया था।

मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश आज 'मिशन कोरोना पर निकलेंगे सभी मंत्री, परखे जाएंंगे प्रदेशभर के अस्पताल

लखनऊ- कोरोना वायरस और मौसम की मार से सरकार भरोसे का अहसास जगाना चाहती है। इसकी जिम्मेदारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मंत्रियों को सौंपी है। सोमवार को सभी मंत्री जिलों में कोरोना से बचाव और उपचार के प्रबंध देखेंगे। साथ ही बारिश और ओलावृष्टि से किसानों को हुए नुकसान, मुआवजा आदि का जायजा लेकर सरकार को रिपोर्ट सौंपेंगे।कैबिनेट मंत्रियों के साथ तो मुख्यमंत्री पहले ही बैठक कर चुके थे। रविवार को राज्य मंत्रियों को अपने कालिदास मार्ग स्थित आवास पर बुलाया और बैठक की। बैठक में शामिल मंत्रियों ने बताया कि योगी आदित्यनाथ ने कोरोना और किसानों की स्थिति को लेकर चिंता जताई। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि आज सभी मंत्री अपने गृह जिले या प्रभार वाले जिलों में जाएंगे। वहां जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की व्यवस्थाएं देखेंगे। सुनिश्चित करेंगे कि वहां कोरोना के उपचार के सभी प्रबंध हों। यह कार्य सुबह 11 बजे तक कर लेना होगा।इसके बाद मंत्रियों को ओलावृष्टि और बारिश से प्रभावित गांवों का दौरा करना होगा। स्थानीय जनप्रतिनिधि और अधिकारियों को साथ लेकर प्रभावित किसानों से मुलाकात कर मंत्री उन्हें अहसास कराएंगे कि संकट की घड़ी में सरकार उनके साथ है। इससे प्रशासनिक अधिकारियों को भी गंभीरता का संदेश मिलेगा। सुनिश्चित किया जाएगा कि सभी प्रभावितों को मुआवजा मिल गया या नहीं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि सभी मंत्री दौरे के बाद कोरोना और प्राकृतिक आपदा संबंधी रिपोर्ट सरकार को सौंपेंगे। मंगलवार शाम को इन विषयों पर फिर से समीक्षा बैठक की जाएगी।कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार सभी नगर निकायों में सफाई और जागरूकता के लिए विशेष अभियान चलाने जा रही है। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने निर्देश जारी किए हैं कि सभी नगर आयुक्त और अधिशासी अधिकारी अपने-अपने निकाय क्षेत्र में विशेष कार्य दल बनाकर सफाई अभियान चलाएं। अधिकारियों की वार्डवार जिम्मेदारी तय करें। अपनी देखरेख में सफाई कराएं और कूड़ा लैंडफिल साइट पर भिजवाएं। इस अभियान में सभी नाले-नालियां भी साफ किए जाएंगे। भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थलों पर सफाई के साथ ही जागरुकता के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराई गई प्रचार-प्रसार सामग्री वितरित की जानी है। नगर विकास मंत्री ने बताया कि इस अभियान के लिए सरकार 3.82 करोड़ रुपये अवमुक्त कर चुकी है।

Friday, March 13, 2020

मुख्यमंत्री ने कोरोनावायरस को लेकर प्रदेश के स्कूल कॉलेजों को 22 मार्च तक के लिए बंद करने का दिया निर्देश

लखनऊ-प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने कोरोनावायरस को महामारी की श्रेणी में बताया  है। सीएम ने प्रदेश के सभी स्कूल कॉलेजों को 22 मार्च तक के लिए बंद करने का निर्देश दिया है परन्तु जिन स्कूलों में परीक्षा चल रही है वहां परीक्षा समाप्त होने के बाद बंद किया जाएगा । सीएम  प्रेसवार्ता में कहा कि 23 मार्च को समीक्षा के बाद आगे निर्णय लिया जाएगा।  सीएम ने कहा कि हमने 4100 चिकित्सकों को कोरोना वायरस के बचाव को लेकर प्रशिक्षित भी किया गया  है। हर जनपद में आइसोलेशन वार्ड बनाया है, जिसमें 830 बेड सुरक्षित हैं। वहीं 24 मेडिकल कॉलेजों में भी 448 बेड सुरक्षित रखे रखे गए हैं।सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेशमें अब तक कुल 11 केस पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनमें 7 आगरा, 2 गाजियाबाद और एक लखनऊ व एक नोएडा का है। इनमें से एक मरीज का लखनऊ के केजीएमयू में ही उपचार चल रहा है। वहीं बाकी सभी मरीजों का इलाज दिल्ली में किया जा रहा है।सीएम योगी ने बताया कि कोरोना वायरस के खतरे का सामना करने के लिए सभी मेडिकल स्टाफ को ट्रेनिंग दी जा रही है।सीएम ने कहा है की प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा उच्य शिक्षा तकनीकी शिक्षातक सभी स्कूल बंद रहेंगे

गला रेतकर विवाहिता की हत्या, पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया

जौनपुर- बरसठी थाना क्षेत्र के सरायविक्रम गांव में गुरुवार की रात विवाहिता की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मायके पक्ष के लोगों ने ससुराल पक्ष के पति सास-ससुर व देवर के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।सराय विक्रम गांव के आशुतोष पांडेय की शादी 10 वर्ष पूर्व बरसठी थाना के दीनापुर गांव निवासी प्रेमशंकर पांडेय की पुत्री ललिता के साथ हुई थी। गुरुवार की शाम छह बजे ललिता की धारदार हथियार से गर्दन रेतकर उसकी निर्मम हत्या कर दी गई। हत्या के बाद ससुराल पक्ष के लोगो ने रात दस बजे के बाद मायके वालो को घटना की जानकारी दिया। मायके वालों ने पुलिस को इसकी सूचना दिया पुलिस शव को थाने लाई और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के भतीजे हरिओम पांडेय ने ससुराल पक्ष के लोगो पर मारपीट और प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पति आशुतोष, ससुर शीतला प्रसाद, सास गायत्री देवी, देवर ऋषिकेश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज  कराया है। पति और ससुर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ओलावृष्टि तथा कोरोना को लेकर सीएम बेहद गम्भीर,ओलावृष्टि से पीड़ित को तत्काल सहायता देने का निर्देश

लखनऊ- चीन से फैले कोरोना के कहर का व्यापक असर विश्व व्यापी हो चुका है। भारत में भी अभी तक सात दर्जन लोग इसकी चपेट में हैं। इसके साथ ही सीएम ने सभी जिलाधिकारियों को बेमौसम बारिश तथा ओलावृष्टि से प्रभावित किसान को तत्काल सहायता देने का निर्देश भी दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकभवन में मुख्य सचिव तथा सभी वरिष्ठ अधिकारी के साथ बैठक के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सभी जिलाधिकारियों को बेमौसम बारिश तथा ओलावृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लेने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने जिलाधिकारियों को सभी प्रभावित किसानों को तत्काल सहायता भी देने का निर्देश दिया। प्रदेश में ओलावृष्टि तथा बारिश को लकर मुख्यमंत्री बेहद गंभीर हैं। उन्होंने प्रभावित जिलों के डीएम को सभी पीडि़तों को तत्काल राहत राशि देने का निर्देश दिया। इसके साथ ही तत्काल राहत राशि उपलिब्ध कराने को कहा है। सीएम ने जिलाधिकारियों से नुकसान पर रिपोर्ट मांगी है।स्कूल बंद करने पर भी हो विचार उत्तर प्रदेश में कोरोना के कहर को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की। उत्तर प्रदेश में अब तक 11 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बैठक के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए प्रदेश में स्कूल-कॉलेज और सिनेमा हॉल को बंद करने पर विचार किया है। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह भी मौजूद थे। इससे पहले गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग ने मीडिया बुलेटिन जारी किया था। इसमें दिए गए आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 11 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। इन सभी लोगों के टेस्ट पॉजिटिव निकले हैं। अब तक आगरा में सात, गाजियाबाद में दो, नोएडा और लखनऊ में एक-एक इससे प्रभावित हैं। सभी का इलाज चल रहा है।कोरोना वायरस से बचाव को लेकर वाराणसी में डीएलडब्लू सिनेमा हॉल अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है। डीएलडब्ल्यू सिनेमा हॉल वाराणसी के डीरेका का परिसर में स्थित है। जो रेलवे कर्मचारियों के लिए संचालित होता है। देश में लगातार कोरोना वायरस के संदिग्ध मिलने के कारण इससे बचाव के लिए यह निर्णय लिया गया है।

दुष्कर्म पीड़िता के पिता की हत्या मामले में यूपी के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह को 10 साल की सजा

नई दिल्ली- उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के पिता की गैर इरादतन हत्या के लिए दोषी प्रदेश के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सहित सात दोषियों को दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई है। इसी के साथ 10-10 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।इससे पहले बृृहस्पतिवार को सजा पर बहस के दौरान सीबीआइ और पीड़ित पक्ष ने दोषियों के लिए अधिकतम सजा की मांग की थी। बता दें कि अधिकतम सजा के तहत उम्र कैद का प्रावधान है, लेकिन कोर्ट ने 10 साल की ही सजा सुनाई है। बता दें कि कुलदीप सिंह सेंगर को दुष्कर्म के मामले में कोर्ट पहले ही सजा दे चुका है, जिसमें प्राकृतिक मौत तक जेल में रखने की सजा दी गई है। सजा पर बहस के दौरान दोषी कुलदीप सिंह सेंगर सहित सभी सात दोषी अदालत में मौजूद रहे। सीबीआइ और पीड़िता के वकील धर्मेद्र कुमार मिश्रा ने अधिकतम सजा की मांग की थी, जबकि दोषियों ने अदालत से दया मांगी थी।इस मामले में अदालत ने चार मार्च को पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर, माखी थाने के तत्कालीन एसएचओ अशोक सिंह भदौरिया, तत्कालीन सब इंस्पेक्टर कामता प्रसाद, विनीत मिश्र उर्फ विनय मिश्र, बीरेंद्र सिंह उर्फ बउवा सिंह, शशि प्रताप सिंह उर्फ सुमन सिंह और जयदीप सिंह उर्फ अतुल सिंह सेंगर को दोषी करार दिया था। न्यायाधीश ने कहा था कि दुष्कर्म पीड़िता के पिता को सेंगर ने पुलिस कर्मियों की मदद से फंसाया था। पीड़ित के साथ इतनी बेरहमी से मारपीट की गई थी कि उनकी मौत हो गई। सीबीआइ यह साबित करने में सफल रही कि जब पीड़िता के पिता के साथ मारपीट की गई तो कुलदीप फोन पर पुलिसकर्मियों के संपर्क में था। इसके बाद पीड़ित के खिलाफ अवैध हथियार का झूठा केस दर्ज किया गया। अस्पताल में मेडिकल चेकअप के दौरान सेंगर डॉक्टरों के संपर्क में था। घायल को अस्पताल में रखने के बजाय न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया और चार दिन बाद उनकी मौत हो गई।आरोपपत्र में सीबीआइ ने कहा था कि तीन अप्रैल 2018 को पीड़िता के पिता और शशि प्रताप सिंह के बीच लिफ्ट को लेकर बहस हुई। दुष्कर्म पीड़िता के पिता अपने एक सहयोगी के साथ काम से वापस अपने घर लौट रहे थे। इस दौरान उन्होंने शशि प्रताप से लिफ्ट मांगी, लेकिन उसने इन्कार कर दिया। इस बीच बहस हो गई और शशि प्रताप ने कुलदीप सेंगर के भाई अतुल सेंगर को फोन कर मौके पर बुलाया। अतुल अपने कुछ साथियों के साथ मौके पर आया और पीड़िता के पिता, उनके सहयोगी के साथ बुरी तरह मारपीट की। इसके बाद उन्हें थाने में लेकर गए और उन्हीं पर केस दर्ज करवा दिया।सजा पर बहस के दौरान अगर मैंने कुछ गलत किया है, तो मुझे फांसी दे दो। मेरी आंखों में तेजाब डाल दो। मुझे न्याय दिया जाए या फिर फांसी पर लटका दिया जाए। मेरी दो बेटियां हैं, मुझे माफ कर दिया जाए। ये वह शब्द हैं जो पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने तीस हजारी अदालत के सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा की कोर्ट में बृहस्पतिवार को सजा पर बहस के दौरान बोले।इस पर न्यायाधीश ने सेंगर से कहा कि उसे दोषी करार दिया जा चुका है, क्योंकि उसके खिलाफ साक्ष्य हैं। जज ने कहा, तुम्हारा परिवार है, तो दूसरों का भी परिवार है। यह सब तुम्हें अपराध करने से पहले सोचना चाहिए था, लेकिन तुमने एक के बाद एक सारे कानून तोड़ दिए।

भव्य उद्घाटन 13 मार्च : अनि बजाज (पॉलिटेक्निक चौराहा, जौनपुर) | सम्पर्क करें: प्रो0 शिवेंद्र सिंह 9076697210, 8840535901, 9415207210, 9076777210, 9721447771*

भव्य उद्घाटन 13 मार्च : अनि बजाज (पॉलिटेक्निक चौराहा, जौनपुर) | सम्पर्क करें: प्रो0 शिवेंद्र सिंह 9076697210, 8840535901, 9415207210, 9076777210, 9721447771*

Thursday, March 12, 2020

शातिर चोरो को मुंगराबादशाहपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर दो ट्रको से चोरी का 23 लाख रुपये का सरिया किया बरामद

जौनपुर-मुंगराबादशाहपुर थाना क्षेत्र पुलिस ने इटहरा के पास स्थित एक ढाबे से गत दिनों चोरी हुए एक ट्रक सरिया के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। उनकी निशान देही पर गायब हुए ट्रक व सरिया को बरामद कर लिया गया है। गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने चोरी समेत अन्य आरोप में मुकदमा पंजीकृत करते हुए जेल भेज दिया है। बता दें कि जिले के मुंगराबादशाहपुर पुलिस ने बताया कि सिकरारा थानां  क्षेत्र अंतर्गत टिकरी से  सरिया लदी ट्रक जो चोरी हुई थी। जिसमें मालिक रास्ते से सरिया समेत ट्रक गायब होने की तहरीर पुलिस को दी।बुधवार को थानाध्यक्ष अरविंद यादव को सूचना मिली कि सरिया लदा ट्रक मुंगराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के इटहरा  स्थित गोविंदपुर पुल  के पास एक ढाबे पर खड़ा है। मुंगराबादशाहपुर  पुलिस उपनिरीक्षक विनोद कुमार राय,मनोज कुमार सिंह,दिवान नारयण यादव ,सिपाही कमालुद्दीन,मौके पर पहुंचकर दस टन सरिया सहित  ट्रक व दो अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया  । जिनका नाम आले हसन पुत्र सत्तार निवासी ग्राम रामपुर थानां मंधता प्रतापगढ़-2,एजार पुत्र मोहम्मद अली निवासी ग्राम थरिया सुल्तानपुर प्राणीगंज प्रतापगढ़ को  गिरफ्तार करते हुए जेल भेज दिया गया ।

योगी आदित्यनाथ ने दिए कड़े निर्देश, पॉक्सो एक्ट की मामलो की हो हर साप्ताहिक समीक्षा

लखनऊ-मासूमों के साथ जघन्य घटनाओं में कार्रवाई को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कड़े निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने पॉक्सो (प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल अफेंसेस) के मामलों की हर सप्ताह प्रगति की समीक्षा किए जाने का निर्देश भी दिया है। उन्नाव में नौ साल की मासूम से दङ्क्षरदगी की घटना के बाद मुख्यमंत्री ने ऐसे मामलों में अपराधियों के खिलाफ पैरवी को और प्रभावी बनाए जाने की बात कही।मुख्यमंत्री ने महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाने के साथ उनके मुकदमों में प्रभावी पैरवी के निर्देश दिए। कहा कि ऐसे मामलों में अपराधियों को अधिकतम सजा दिलाई जाए। उन्होंने पॉक्सो एक्ट के मुकदमों के जल्द निस्तारण के लिए नए कोर्ट के गठन में तेजी लाए जाने का निर्देश भी दिया। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने इसी कड़ी में बुधवार को लोकभवन में उच्चस्तरीय बैठक में न्यायालयों में चल रहे पॉक्सो एक्ट के मुकदमों में पैरवी की कार्यवाही की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडेय भी उपस्थित रहे। अपर मुख्य सचिव गृह ने शासन स्तर पर भी पाक्सो एक्ट में हुई कार्यवाही तथा इससे जुड़े अभियोजन कार्यों की हर सप्ताह समीक्षा किए जाने का निर्देश दिया।अवस्थी ने एडीजी अभियोजन को पॉक्सो एक्ट सहित सभी गंभीर अभियोगों में अभियुक्तों को जल्द से जल्द अधिकतम सजा दिलाने के लिए पैरवी तेज करने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी डीएम व एसएसपी/एसपी को मानीटङ्क्षरग सेल की नियमित बैठकें करने व प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित कराने तथा अभियोजक वार पॉक्सो एक्ट से मुकदमों में अलग-अलग समीक्षा किए जाने का निर्देश भी दिया। बैठक में पॉक्सो एक्ट के नये कोर्ट की जल्द स्थापना के लिए प्रमुख सचिव न्याय से समन्वय बनाकर कार्यवाही सुनिश्चित कराने का निर्णय लिया गया।अपर मुख्य सचिव गृह ने एडीजी अभियोजन को जिला शासकीय अधिवक्ता व अपर जिला शासकीय अधिवक्ता के पैरवी कार्य की समीक्षा करने तथा शिथिलता बरतने वालों की नियमित रिपोर्ट गृह विभाग व न्याय विभाग को भेजने का निर्देश दिया। अभियोजन कार्य में तेजी लाने व व्यावहारिक कठिनाईयों के शीघ्र निस्तारण के लिए एक दिवसीय विशेष सेमिनार कराने का निर्देश भी दिया।

शराब के नशे मे पत्नी से विवाद की नाराजगी में मजदूर ने की आत्महत्या

आजमगढ़-तहबरपुर थाना क्षेत्र के धनिया कुड़ी गांव में बुधवार की रात मजदूर ने ट्यूब से गला कसकर दी जान। आत्मघाती कदम उठाने के पीछे पत्नी से विवाद की नाराजगी बताई जा रही है। पुलिस असलियत जानने के लिए छानबीन में जुट गई है।धनिया कुड़ी गांव के कन्हैया निषाद (40) का अपनी पत्नी से होली के दिन विवाद हुआ था। परिवार के लोगों ने बताया कि बुधवार की रात करीब 10 बजे कन्हैया शराब के नशे में धुत होकर घर पहुंचे थे। इसी बात को लेकर उनका पत्नी से फिर विवाद हो गया। इससे नाराज होकर उन्होंने बांका से अपना गला काटने की कोशिश की, लेकिन उनकी पत्नी ने रोक दिया। इसके बाद कन्हैया ने घर में रखे साइकिल का ट्यूब लेकर अपना गला कसने लगा। परेशान पत्नी को अनहोनी की आशंका हुई तो पास-पड़ोस के लोगों को बुलाने चली गई। करीब 10 से 15 मिनट बाद लौटी तो देर हो चुकी थी। चीख-पुकार मची तो लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। कन्हैया के तीन पुत्र व तीन पुत्री हैं। वह मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते थे। तहबरपुर थानाध्यक्ष ने कहा कि उन्हें इस घटना की कोई सूचना नहीं मिली है।

Sunday, March 8, 2020

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मान समारोह का आयोजन

जौनपुर-जौनपुर की महिला शाखा जेसीरेट ने चेयरपर्सन किरन सेठ की अध्यक्षता में नगर के एक होटल में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मान समारोह का आयोजन किया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती माया टण्डन अध्यक्ष नगर पालिका परिषद जौनपुर एवं विशिष्ट अतिथि नीता वर्मा महिला समाज कल्याण अधिकारी रहीं। इस दौरान अपने-अपने क्षेत्रों में परचम लहराने वाली 5 विशिष्ट महिलाओं को सम्मानित किया गया। श्रीमती प्रभावती यादव पत्नी स्व. जोगेश्वर यादव पूर्व ग्राम प्रधान कृषि क्षेत्र, श्रीमती उषा जायसवाल पत्नी श्रवण जायसवाल सामाजिक क्षेत्र, सुश्री सत्या मौर्या जिन्होंने नेशनल एवं स्टेट में ताइक्वाण्डो, कूंग फू जैसे खेलों में स्वर्ण पदक हासिल किया है, को खेल क्षेत्र, कृष्णा चौरसिया को व्यवसाय क्षेत्र और तिलकधारी मेमोरियल कालेज बनरिया बाग की प्रधानाध्यापिका अर्चना सिंह को शिक्षा क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर सम्मानित किया गया। सभी को माल्यार्पण करके, अंगवस्त्रम एवं सम्मान पत्र देकर मुख्य एवं विशिष्ट अतिथि ने सम्मानित किया। इसी क्रम में पूरे सप्ताह किये गये शानदार साप्ताहिक कार्यों पर कार्यक्रम निदेशक क्रमशः जेसीरेट नीलम कृष्ण गोपाल जायसवाल, शालू वाचस्पति ,सिमरन तिवारी, मेनका सीकरी, शिवानी चौरसिया, आकांक्षा द्विवेदी, आरती जायसवाल को महत्वपूर्ण योगदान के लिए सम्मानित किया गया। इसके बाद जेसीरेट विंग की तरफ से मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि को अंगवस्त्रम एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। विशिष्ट अतिथि नीता वर्मा ने समाज कल्याण विभाग द्वारा महिलाओं को जागरूक करने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों के बारे में बताया। मुख्य अतिथि माया टंडन ने जेसीआई जौनपुर की जेसीरेट विंग द्वारा सप्ताह भर किए गए कार्यक्रमों की सराहना करते हुए समाज में महिलाओं के उत्थान एवं सशक्तिकरण के लिए जागरूकता कार्यक्रमों की आवश्यकता पर बल दिया। इस अवसर पर अनीता सेठ, सोनी जायसवाल, सुधा बैंकर, यवनिका सिंह, स्वर्णिमा जायसवाल, ज्योति श्रीवास्तव, अर्चना सिंह, पूनम श्रीवास्तव, सिमरन तिवारी, शालू वाचस्पति, मीनू श्रीवास्तव, नीलम सर्वेश जायसवाल, पिंकी जायसवाल, शालिनी निगम, शिवानी चौरसिया, श्वेता बाधवा, कविता सेठी, ज्योति जायसवाल, रितू सेठी, प्रियंका तिवारी, मनीषा बाधवा, प्रतीक्षा आदि महिलाओं की सक्रिय भागीदारी रही। आभार कार्यक्रम संयोजक आरती जायसवाल ने व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री गोरखपुर में होली के अधिकांश परंपरागत आयोजनों में हिस्‍सा नहीं लेंगे

गोरखपुर-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में  होली के अधिकांश परंपरागत आयोजनों में हिस्‍सा नहीं लेंगे।गोरखनाथ मंदिर प्रबंधन के मुताबिक योगी आदित्यनाथ होली से एक दिन पहले गुलरिहा और पांडेयहाता में निकलने वाली होलिका दहन शोभा यात्रा में शामिल नहीं होंगे। हालांकि होली के दिन घंटाघर से निकलने वाली नरसिंह शोभा यात्रा में उनके शामिल होने की संभावना अभी भी बरकरार है।इसके अलावा होली के दिन शाम चार बजे से गोरखनाथ मंदिर में आयोजित होने वाले होली मिलन समारोह को लेकर तस्वीर भी साफ हो गई है। मिलन समारोह तो आयोजित होगा लेकिन इस दौरान कोई व्यक्ति मुख्यमंत्री को तिलक नहीं लगा सकेगा। हालांकि लोगों का स्वागत उसी भाव से होगा, जिस भाव से पहले होता रहा है। इस अवसर आयोजित होने वाली भजन संध्या भी पहले की तरह ही आयोजित होगी। लोक गायक राकेश श्रीवास्तव अपनी टीम के साथ भजनों की प्रस्तुति करेंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से होली से जुड़े कार्यक्रमों में शामिल न होने के मुख्यमंत्री योगी के फैसले के बाद परंपरागत आयोजनों में उनके हिस्सा लेने को लेकर बीते कुछ दिनों से असमंजस की स्थिति बनी हुई है।भाईचारे के त्योहार होली के दिन शांति कायम रखने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। खासकर नरसिंह भगवान शोभायात्रा मार्ग पर चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात रहेगी। शोभायात्रा और इसमें शामिल मुख्यमंत्री की सुरक्षा में आठ सौ पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। शोभायात्रा मार्ग के दोनों तरफ ऐहतियात के तौर पर दोहरी बैरीकेडिंग भी लगाई जाएगी। 78 सीसी कैमरे की मदद से हर गतिविधि पर नजर रखी जाएगी। चार सौ अतिरिक्त पुलिसकर्मी शहर के बाकी हिस्सों में तैनात रहेंगे। होली के दिन घंटाघर से निकलने वाली शोभायात्रा में परंपरागत रूप से गोरक्षपीठाधीश्वर शामिल होते हैं। मुख्यमंत्री बनने के बाद भी योगी आदित्यनाथ गोरक्षपीठाधीश्वर के तौर पर इस यात्रा में शामिल होते रहे हैं। इसीलिए पुलिस शोभायात्रा की सुरक्षा व्यवस्था में कोई कोर-कसर नहीं छोडऩा चाह रही है। जिस मार्ग से शोभायात्रा निकलेगी, उस मार्ग के दोनों तरफ स्थित घरों और दुकानों की छतों पर भी पुलिस बल तैनात रहेगा। दुकानदारों और घरों में रहने वालें की सूची बनाई गई है। सभी के फोन नंबर व पते का रिकार्ड भी तैयार किया गया है। जिस मार्ग से शोभायात्रा निकलती है, उस पर पुलिस ने पहले से 24 सीसी कैमरे लगवा रखे हैं। 54 कैमरे और लगवाए जाएंगे। कंट्रोल रूम से इन कैमरों के जरिए एक-एक गतिविधि पर नजर रखी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाएं अपने विशिष्ट कार्यों से समाज को राह दिखा रही हैं

लखनऊ-अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर उत्तर प्रदेश के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सभी महिलाओं को हार्दिक बधाई दी है। इस अवसर पर उन्होंने बधाई का एक ट्वीट भी किया है। मुख्यमंत्री महिला दिवस की हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि देश व समाज की प्रगति के लिए महिलाओं की समान भागीदारी आवश्यक है। इतिहास में अनेक महिलाओं के सन्दर्भ मिलते हैं,जिन्होंने अपने व्यक्तित्व और कृतित्व से उपलब्धियों के उच्चतम आयाम स्थापित किये।मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान समय में भी महिलाएं अपने विशिष्ट कार्यों से समाज को राह दिखा रही हैं। प्रदेश सरकार महिलाओं तथा बालिकाओं के सम्मान, सुरक्षा और स्वावलंबन के प्रकृतसंकल्प है। इसके दृष्टिगत मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना सहित अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं। हम उनके हर बढ़ते कदम पर साथ है। वह अपनी श्रेष्ठता लगातार साबित कर रही हैं और प्रदेश के साथ केंद्र सरकार भी उनके हर काम में अपना सहयोग प्रदान कर रही है।आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है और हमारा मंत्र है 'महिला स्वस्थ, तो परिवार स्वस्थ'।आज होने वाला आरोग्य मेला हमारी मातृशक्ति के सम्मान, अधिकार, समानता एवं सशक्तिकरण को समर्पित है।आपकी सरकार 8 मार्च को जन्म लेने वाली बालिकाओं को उपहार व माँ को पोषण युक्त आहार भी उपलब्ध कराएगी।मुख्यमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने ट्विट करते हुए लिखा कि आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है और हमारा मंत्र है 'महिला स्वस्थ, तो परिवार स्वस्थ'। आज होने वाला आरोग्य मेला हमारी मातृशक्ति के सम्मान, अधिकार, समानता एवं सशक्तिकरण को समर्पित है। उन्होंने आगे लिखा कि आपकी सरकार 8 मार्च को जन्म लेने वाली बालिकाओं को उपहार व माँ को पोषण युक्त आहार भी उपलब्ध कराएगी।अखिलेश ने लखनऊ में लगी होर्डिंग पर जताई नाराजगी, कहा- नागरिक अधिकारों को कुचल रही भाजपाउन्होंने कहा कि आधी आबादी पढ़ेगी, बढ़ेगी तभी समाज और देश आगे बढ़ेगा।नारी सशक्तिकरण सदैव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों के केंद्र में रहा है। हमारी माँ, बहन व बेटियों ने हर क्षेत्र में भारत का नाम पूरे विश्व में रोशन किया है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर नारी-शक्ति को सादर नमन। सरकार उनकी शिक्षा के साथ ही स्वास्थ्य पर भी ध्यान दे रही है। जिससे वह समाज को अच्छे नागरिक दें और प्रदेश तथा देश को तरक्की की लगातार राह दिखाती रहें।

Saturday, March 7, 2020

बस व ट्रक की आमने-सामने भिड़ंत में तीन की मौत 13 जख्मी

गोरखपुर- कुशीनगर जनपद के कसया थाना क्षेत्र के बैरिया चौराहे पर शनिवार की सुबह बस व ट्रक की आमने-सामने भिड़ंत के बाद बस पलट गई।जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि बस में सवार 13 लोग घायल हो गए। घायलों की चीख-पुकार से अफरा-तफरी मच गई। पुलिस की मदद से उन्हें सीएचसी पहुंचाया गया। प्राथमिक उपचार बाद डाॅक्टरों ने घायलों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। दुर्घटना के बाद अनियंत्रित ट्रक लगभग 50 मीटर घसीटता चला गया, जिससे सड़क किनारे लगभग एक दर्जन दुकानें पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं। कसया-पडरौना मार्ग पर आवागमन बाधित हो गया।किसी तरह क्रेन की मदद से बस व ट्रक को सड़क से हटाया गया।देवरिया डिपो की बस लखनऊ से पडरौना जा रही थी। बैरिया चौराहे पर बाइपास मार्ग से अचानक सामने आए बालू लदे ट्रक से उसकी आमने-सामने की भिड़ंत हाे गई। इससे बस पलट गई। वहीं ट्रक की चपेट में आने से मार्निंग वाक पर निकले कसया थाने के गांव बेलवा रामजस निवासी 50 वर्षीय कमरुद्दीन अंसारी की मौके पर ही मौत हो गई। चौराहे के लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस में फंसे यात्रियों को निकाल कर अस्पताल भेजा। गंभीर रूप से घायल 40 वर्षीय राजा बाबू निवासी धनहा बिहार व नवमी यादव निवासी कठार धनहा बिहार की हालत गंभीर बता  डाक्टर ने मेडिकल कालेज भेज दिया। मेडिकल कालेज ले जाते समय दोनों की मौत हो गई।।वहीं नंदू यादव (40),  रामकिशुन (40), अविनाश धर द्विवेदी (35)निवासी पथरौली पडरौना कोतवाली, 25 वर्षीय बालक (25)निवासी सपहां थाना कसया, मो. मारूफ (43) निवासी सरदार पटेल नगर पडरौना, रफीक (23) निवासी कस्तूरबा थाना पटहेरवा,  विमल कुमार(35) निवासी बिबिया पुरवा थाना बघौली जिला हरदोई, राजकुमार (30)निवासी घोटरिया बाजार थाना विशुनपुरा, इबरान अंसारी (25) निवासी सोहरवा थाना विशुनपुरा,  अल्ताफ राजा (17) मिसिर पट्टी थाना कुबेरस्थान, नसीरुद्​दीन अंसारी (48)सहित 13 बस यात्रियों को प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहां से सभी घायल इलाज के बाद घर भेज दिए गए।  दुर्घटना में बस चालक राम नगीना यादव निवासी खुखुंदु देवरिया को हल्की चोटें आईं।ट्रक चालक व सहयोगी संग फरार हो गया।प्रभारी निरीक्षक अनुज कुमार सिंह ने बताया कि फरार ट्रक चालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। मार्ग से दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को क्रेन से हटवा कर आवागमन बहाल करवा दिया गया है।