menubar

breaking news

Sunday, February 17, 2019

जौनपुर के नवागत एसपी बनाये गए आशीष तिवारी

जौनपुर-डीआईजी दिनेश पाल सिंह का आज शाम तबादला हो गया है जिसमे उनको पुलिस उप महानिरीक्षके रेलवे लखनऊ किया गया है तो नए कप्तान आशीष तिवारी (2012 बैच के आईपीएस) बनाये गए जो एटा के एसपी थे.श्री तिवारी मूलतः मध्यप्रदेश के इटारसी जिले के निवासी बताये जा रहे है।
        बता दें आज शाम प्रदेश सरकार ने 28 आईपीएस का तबादला किया गया जिसमें , काफी दिनों से तैनात एसपी से डीआईजी बनाये गए दिनेश पाल सिंह को यूपी सरकार ने कद छोटा करते हुए पुलिस उप महानिरीक्षक रेलवे लखनऊ पद पर तैनाती दी है।

शहीदों की शहादत जाया नही जाएगी,पाकिस्तान को भुगतना ही पड़ेगा इसका परिणाम-अशोक सिंह

मुंबई-पुलवामा में हुई नौजवानों की शहादत को हम भूल नहीं पाएंगे। सरहदपार से होने वाले ऐसे   कायरतापूर्ण  हमलों  को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है। ऐसे समय में पूरा राष्ट्र एक साथ खड़ा है । ऐसे समय में किसी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए। उक्त उद्गार बसपा नेता अशोक सिंह ने  व्यक्त किया। शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित एक सभा में सिंह ने कहा कि शहीदों के परिवारों को सांत्वना देने के साथ साथ उनकी आवश्यक मदद भी की जानी चाहिए । नौजवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास करने की आवश्यकता है। लगभग हर प्रांत के नौजवान इस हादसे में शहीद हुए हैं । उन सभी को हम श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं  उन्हें नमन करते हैं । उत्तर प्रदेश के भी  12 जवान इस हमले में शहीद हुए हैं । उनके परिवारों से मिल उन्हें सांत्वना दी जायेगी। हमें हर  शहीद के परिवार को हर संभव सहायता करके और उन्हें दिलासा देकर यह दिखाना है कि पूरा राष्ट्र उनके साथ खड़ा है। देश की  सीमा पर लड़ने वाले नौजवान ही सच में हमारे संरक्षक और हीरो हैं । उनका बलिदान व्यर्थ न जाने पाए इसका प्रयास भी मिलजुल कर करने के लिए हम सब एकजुट हैं.

Friday, February 15, 2019

आतंकी हमले के विरोध में जौनपुर के पत्रकारों का फूटा गुस्सा,पाकिस्तानी झण्डे को फूंक राष्ट्रपति को भेजा मांगों का ज्ञापन

जौनपुर। हिन्दुस्तान के मस्तक जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के अवंतीपुरा में बीते 14 फरवरी को हुये आतंकी हमले के विरोध में जनपद के पत्रकारों सहित तमाम धर्म व जाति के बुद्धिजीवियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा। पत्रक के माध्यम से लोगों ने शहीद जवानों को नमन करने के साथ ही इससे जुड़े लोगों को चिन्हित कर कार्यवाही की मांग किया। लोगों की मांग है कि शहीद जवानों के परिजन को 50 लाख रूपया अहेतुक सहायता दिया जाय। शहीद की पत्नी या बच्चे को सरकारी विभाग में उच्च पद पर नौकरी दी जाय। इस आतंकी हमले से जुड़े सभी लोगों को पकड़कर फांसी पर चढ़ाया जाय। शहीदों का बलिदान व्यर्थ न
जाय, इसके लिये आतंक से जुड़े सभी लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाय। इस दौरान जिलाधिकारी के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद उपजिलाधिकारी सदर मंगलेश दुबे को 4 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर मो. अब्बास, लोलारक दुबे, कपिलदेव मौर्य, राजेश श्रीवास्तव, डा. ब्रजेश यदुवंशी, राजेश साहू, शम्भूनाथ सिंह, राकेशकान्त पाण्डेय, विनोद विश्वकर्मा, रामजी जायसवाल, अनूप गौड़, भोले विश्वकर्मा, संजय चौरसिया, संतोष राय, चन्द्र प्रकाश तिवारी, राजकुमार, अजीत सोनी, मनोज ओझा, राम दयाल द्विवेदी, विरेन्द्र प्रताप सिंह, नितिश कुमार, दीपक सिंह,मनीष सिंह, सुधाकर शुक्ला सहित तमाम पत्रकार, शिक्षक, बुद्धिजीवी उपस्थित रहे।

आज बजरंग दल ने फूंका पाकिस्तान का पुतला

जौनपुर- कल जम्मू के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के विरोध में विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल ने कलेक्ट्री कचहरी परिसर में जिला संयोजक विजय सिंह के नेतृत्व में नारे लगाते हुए पाकिस्तान का पुतला दहन किया तथा विहिप जिलाध्यक्ष डॉ राकेश दुबे की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को देते हुए पाकिस्तान आतंकवादियों पर कठोर से कठोर कार्यवाही की मांग की।
मीडिया प्रभारी आशीष मिश्र ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति या संगठन किसी भी प्रकार से आतंकियों की मदद करता है तो उसे भी देशद्रोही मानते हुए आतंकियों की तरह ही उस पर भी कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जाय।
जिलामंत्री जन्मेजय तिवारी ने कहा कि इस दुःख की घड़ी में पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ खड़ा है।
इस मौके पर मुख्य रूप से दिनेश सिंह, सुनील शर्मा, सुधीर सिंह, संजीव सिंह, कृष्णानन्द, शैलेश मिश्र, विजय पाठक, शिवेंद्र सिंह, पंकज यादव इत्यादि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे
सभी ने शहीद सैनिकों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की व उन्हें शहीद का दर्जा देने की मांग की