menubar

breaking news

Friday, August 3, 2018

डीआईओस ने दस बाबुओं सहित खुद अपना भी रोका वेतन, जौनपुर इतिहास में पहली बार किसी अधिकारी ने रोका अपना वेतन

जौनपुर - जनपद के इतिहास में आज पहली बार जिला विद्यालय निरीक्षक ने अपना स्वयं का वेतन रोकने के साथ-साथ 10 बाबूओं का वेतन रोक दिया है। उन्होंने यह कदम हाईकोर्ट में काउंटर न लगाने पर किया है। आंकड़े के मुताबिक पुराने लगभग 140 मामलों में काउंटर नहीं लगाए गए हैं। काउंटर न लगाने पर हाईकोर्ट की फटकार लगाने से पूर्व ही जिला विद्यालय निरीक्षक ने अपने मातहतों पर शिकंजा कस दिया है। जिला विद्यालय निरीक्षक के निर्देश के बावजूद अपने-अपने तहसील के मामलों में बाबूओं ने हाईकोर्ट में काउंटर नहीं लगाया है। कार्य में लापरवाही करने के आरोप में सभी बाबूओं का जिला विद्यालय निरीक्षक ने तब तक वेतन रोकने का आदेश दिया है जब तक सभी मामलों में सही ढंग से काउंटर नहीं लग जाता है। जिला विद्यालय निरीक्षक के इस कड़े कदम से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है क्योंकि जिले के इतिहास में पहली बार कोई जिला विद्यालय निरीक्षक बाबूओं का वेतन रोकने के साथ-साथ अपना भी वेतन रोक दिया है।

No comments:

Post a Comment