menubar

breaking news

Wednesday, August 29, 2018

योगी की पुलिस में हो रहा बदलाव,एम्बुलेंस से भी तेज करती अब आम जनता की सेवा,जीवन और मौत के बीच जूझ रही महिला को पहुँचाया जिला अस्पताल

जौनपुर - आम जनता , पत्रकार, नेता हमेशा से यूपी पुलिस की आलोचना करते रहते है, लेकिन जब से प्रदेश में योगी ने कमान संभाली है तब से पुलिस की कार्यशैली और तेजी में बेहतर सुधार हुआ है,जौनपुर में यूपी पुलिस का मानवीय संवेदना का चेहरा सामने आया जहां एम्बुलेंस के आने से पहले पहुची यूपी पुलिस ने महिला की हालत को  गंभीर देखते हुए प्राइवेट वाहन से जिला अस्पताल पहुँचाया ,इस दर्दनाक हादसे में तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई और महिला बुरी तरह घायल हो गई ,घटना इतनी भयानक थी कि बच्ची का शव छत विछिप्त हो गया तो दूसरी तरफ महिला का घटना में दोनों पैर गवाना पड़ा है।
मामला जौनपुर के मड़ियाहूं कोतवाली थाना के अंतर्गत रामदयालगंज का है जहाँ  पुल के निकट तेजी से आ रही अनियंत्रित ट्रक ने साइकिल से जा रहे मजदूर परिवार की खुशियो को छीन लिया। इस हादसे में मजदूरी करने वाले बृजेश की 3 साल की बच्ची की घटना स्थल पर ही  मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। बृजेश इस हादसे  को भूल नहीं पा रहा है क्योंकि उसके आंखों के सामने ही उसका  पूरा परिवार  बर्बाद हो गया। पत्नी के दोनों पैर बुरी तरह से कुचल गए हैं जिसके कारण डॉक्टर को महिला की जान बचाने के लिए पैर काटने की नौबत आ गई है। इस घटना के बाद मौके पर स्थानीय लोगों ने जाम लगाकर हंगामा भी किया वही सुभाष नाम के एक दरोगा ने इंसानियत दिखाते हुए एंबुलेंस का बिना इंतजार किए हुए घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। दरोगा की इस  तत्परता से महिला की जान बच गई। 
बता दें कि मड़ियाहूं कोतवाली के दरोगा सुभाष चंद्र ने बताया कि मौके पर  मैं चेकिंग कर रहा था मुझे एक्सीडेंट की जानकारी हुई मैं तुरंत मौके पर पहुंचा तो मालूम हुआ कि किसी ट्रक वाले ने  टक्कर मार दिया है  पीड़ित महिला की हालत गंभीर थी जो मुझसे  देखा नहीं गया जिसके चलते उसने तुरंत बिना देर किए निजी वाहन करके अस्पताल पहुँचाया हु डाक्टर इलाज कर रहे है ।

No comments:

Post a Comment