menubar

breaking news

Monday, June 18, 2018

भाजपा विधायक का अपनी ही पार्टी के खिलाफ बिगड़े बोल,सामूहिक विवाह कार्यक्रम के बजट को लेकर भाजपा सरकार को लिया आड़े हाथ

सर्वेंद्र विक्रम सिंह
बलिया- कट्टर हिंदूवादी व्यक्तित्व और बेतुका बयानों से सुर्खियों में रहने वाले बलिया के बैरिया विधानसभा से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने योगी सरकार की सबसे महत्वाकांशी योजना" मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह उत्सव "सरकारी कार्यक्रम के तहत कई लाखो की लागत से मंदिर में दो मुस्लिम जोड़ो सहित 98 हिन्दू जोड़ो की उनके परंपरा के अनुसार कराई शादी।समाजकल्याण द्वारा आयोजित इस सरकारी कार्यक्रम में भी बिभाग की लापरवाही के चलते नही मिला सरकारी अनुदान विधायक ने जताया दुख कहा जनता से सहयोग और चंदा मांगकर कराया सरकारी आयोजन। सरकारी कर्मचारियों के  भरोसे रहता तो तो जनता को पानी भी नही होता नसीब।
कहा जाता है कि इरादे नेक हो और हौसला बुलंद तो मंज़िल मिल ही जाती है।जरा इन तस्वीरों को गौर से देखिए ये खुशनुमा तस्बीर उत्तर प्रदेश के बलिया से आई है जहा बैरिया विधानसभा के खपड़िया बाबा के मंदिर में विधायक सुरेंद्र सिंह दो मुस्लिम जोड़ो सहित 98 हिन्दू लड़के लड़कियों जो बेबस,लाचार,गरीब,लड़के लड़कियों की  कन्यादान कर उनके गिरहस्थी का पूरा समान उपहार में भेट कर काफी खुश नजर आए।
बड़े पंडाल ,कही सांस्कृतिक कार्यक्रम ,तो कही हजारो लोगो का भोज तो कही दूल्हे और दुल्हन को उपहार देते हुए तस्वीर और इन सब के बीच मुख्यमंत्री के बड़े बड़े बैनर देख आप समझ रहे होंगे कि यह कार्यक्रम सरकारी है तो पैसा भी सरकारी ही होगा मगर आप ऐसा सोच रहे है तो यह गलत है ।विधायक जी की माने तो योगी सरकार के मनसा के अनुरूप विधायक ने "मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह उत्सव; कार्यक्रम के तहत 2 महीना पहले ही तारीख की घोषणा की थी मगर समाज कल्याण विभाग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में कर्मचारियो और अधिकारियों के लापरवाही के चलते आज कार्यक्रम के दिन तक भी नही पहुंचा सरकारी धन ।दरअसल इस कार्यक्रम के तहत सभी जोड़ो को सरकार के तरफ से 35 हजार अनुदान देने थे ।20 हजार सीधे उनके खाते में और 15 हजार उनके खाने पीने में और उपहार में देने थे मगर ऐसे नेक सरकारी अनुदान देने के लिए भी विधायक को विधानसभा की जनता से चंदा और सहयोग मांगकर कराया यह सरकारी कार्यक्रम और जताया दुख।कहा जिला प्रशाशन से नही मिला सहयोग और नही मिला सरकारी धन।प्रशाशन के भरोसे रहता तो तो यह आई 25 हजार जानतो पानी भी नही होता नसीब।
गोद मे उठाकर विकलांग दूल्हे को  शादी के लिए ले जा रहे इस तस्वीर को देखिए इसने कबि सपने में भी नही सोचा होगा कि उसकी शादी में 25 हजार बराती, नाच गाने और इतना बड़ा भोज होगा मगर आज यह सब कुछ देख गरीब दूल्हा काफी खुश नजर आए।
 बीयूरोक्रेसीय पर सरकार को बदनाम करने की उठती आवाज आज सच साबित हो रही है।आखिर कैसे होंगे सरकार के सपने पूरे।सरकारी कार्यक्रम के लिए भी मांगना पड़ेगा चंदा तो ऐसे कार्यक्रम का क्या फायदा

No comments:

Post a Comment