menubar

breaking news

Sunday, May 27, 2018

जिला कारागार महिला बन्दी बैरक में दस दिवसीय जागरुकता कार्यक्रम का समापन

जौनपुर- सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण लोकेश वरुण ने बताया कि उ.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निर्देशित एवं अजय त्यागी मा. जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जौनपुर के आदेशानुसार 17 से 26 मई 2018 तक जिला कारागार जौनपुर के महिला बन्दी बैरक में आयोजित 10 दिवसीय जागरुकता कार्यक्रम का समापन 26 मई 2028 को सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण लोकेश वरुण की अध्यक्षता में किया गया। कार्यक्रम सारिणी के अनुसार डॉ0 माया सिंह असिस्टेन्ट प्रोफेसर मनोविज्ञान टीडीपीजी कालेज जौनपुर द्वारा महिला बन्दियों को मानसिक तनाव से बाहर निकलने के लिए कई मनोवैज्ञानिक तरीके से अवगत कराया गया तथा विशेषरूप से ध्यान द्वारा अपने जीवन में अमूल-चूल परिवर्तन पर जोर दिया। पंकज मिश्रा यू0बी0आई0 प्रशिक्षण केन्द्र प्रभारी ने इस अवसर पर महिला बंदियों को स्वरोजगार द्वारा अपने जीवन को मजबूत एवं स्वावलम्बी बनाने हेतु वित्तीय साक्षरता मिशन के बारे में बताया तथा यूनियन बैंक आफ इण्डिया द्वारा प्रदान की जाने वाली सुविधाओं पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर जेलर सुरेश, डिप्टी जेलर मुन्नाराम, उप कारापाल श्रीमती मधुबाला सिंह, कार्यक्रम समन्वयक श्रीमती रजनी सिंह जिला, महिला समख्या सन्नो राय, बाल विकास परियोजना अधिकारी संतोष कुमार गुप्ता, बाल संरक्षण अधिकारी चन्दन राय, असिस्टेन्ट प्रोफेसर अर्थशास्त्र टी0डी0पी0जी0 कालेज डॉ0 विजय कुमार सिंह, महिला कल्याण विभाग से प्रीति चौबे, जेल विजिटर श्रीमती मीरा सिंह, अमित त्रिपाठी, अम्ब्रीश श्रीवास्तव, महिला रिटेनर श्रीमती लीना अस्थाना व कामना देवी एवं पी0एल0बी0गण सुनील कुमार मोर्य, सुनील कुमार गोतम, सुबास यादव, सुरेश यादव, विनय कुमार उपाध्याय, ज्योति मिश्रा, सोनी बहेलिया आदि उपस्थित रहे। मनोज कुमार वर्मा रिटेनर लायर उपस्थित अधिकारीगण द्वारा अपने-अपने विभाग द्वारा संचालित केन्द्रीय एवं राजकीय योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी गयी। मनोज कुमार वर्मा रिटेनर लायर  द्वारा महिला बंदियों के मुकदमें की स्थिति के सम्बन्ध में अवगत कराया गया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर सचिव लोकेश वरूण द्वारा महिला बंदियों के अनुशासनिक तरीके से 10 दिवसीय कार्यक्रम में सहभागिता प्रदान करने की प्रसंशा की तथा उम्मींद जताया कि कार्यक्रम के दौरान उन तमाम योजनाओं व संवैधानिक व विधिक जागरूकता का लाभ अवश्य उठायेगे तथा टीम प्राधिकरण के द्वारा प्रत्येक महिला बंदियों को उनके मुकदमें के बारे में जो जानकारी दिया गया वे अवश्य ही उनके लिए लाभकारी सिद्ध होगे।   रिटेनर लायर मनोज वर्मा कार्यक्रम का संचालन करते हुए महिलाओं के अधिकार के सम्बन्ध में भारतीय संविधान में उल्लिखित अधिकारों के बारे में तथा महिलाओं की सुरक्षा के सम्बन्ध में अन्य विधिक जानकारियां दी गयी। कार्यक्रम के अन्त में महिला सेल की तरफ से बन्दी श्रीमती प्रियंका पीएलबी द्वारा तथा जेल प्रशासन की तरफ से एके मिश्रा कारागार अधीक्षक द्वारा टीम प्राधिकरण व कार्यक्रम में सहभागिता प्रदान करने वाले तमाम अधिकारियों का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

No comments:

Post a Comment