menubar

breaking news

Sunday, April 15, 2018

टीजीटी शिक्षकों की लोक सेवा आयोग ही कराएगा राजकीय इंटर कॉलेजों में भर्ती

इलाहाबाद। लोक सेवा आयोग ही राजकीय इंटर कॉलेजों में टीजीटी शिक्षकों की भर्ती कराएगा। आयोग द्वारा लिखित परीक्षा के जरिए भर्ती करने हेतु 23 अगस्त 2017 के संशोधन को चुनौती देने वाली याचिकाएं हाईकोर्ट ने खारिज कर दी हैं।
सूत्रों से मिली जानकारी याचिकाओं में कहा गया कि प्रदेश सरकार ने टीजीजी शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया को बीच में रद्द करते हुए सहायक अध्यापकों की भर्ती लोक सेवा आयोग के माध्यम से लिखित परीक्षा के द्वारा कराने का निर्णय लिया है। कहा गया कि सरकार का यह निर्णय मनमाना, अतार्किक और राजनीतिक उद्देश्यों से लिया गया है। संशोधित नियमावली को भूतलक्षी प्रभाव से नहीं लागू किया जा सकता है।
मालूम हो कि इससे पूर्व नियुक्तियां संयुक्त निदेशक शिक्षा के द्वारा क्वालिटी प्वाइंट मार्क्स के आधार पर की जा रही हैं। याचीगण ने पुराने नियम के तहत जारी विज्ञापनों में ही भर्ती के लिए आवेदन किया था।
कोर्ट ने सभी पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद कहा कि भर्ती नियमावली में बदलाव करना सरकार का नीतिगत निर्णय है। क्वालिटी प्वाइंट मार्क्स के बजाए लिखित परीक्षा के जरिए भर्ती करने से बेहतर अभ्यर्थियों को मौका मिलेगा।
कोर्ट ने याचीगण की इस दलील को भी स्वीकार नहीं किया कि बाद में संशोधित नियमावली को पूर्व में जारी भर्ती विज्ञापनों में लागू किया जा रहा है। कोर्ट ने कहा कि उपरोक्त संशोधन को हाईकोर्ट की एक विशेष अपील में भी मंजूरी मिल चुकी है, इसलिए सरकार के समक्ष इसे लागू करने में कोई बाधा नहीं है।

No comments:

Post a Comment