menubar

breaking news

Tuesday, April 10, 2018

'भारत बंद' के दौरान हुई छिटपुट हिंसा, कई जिलों में इंटरनेट बंद

Image result for images of aarakshan hinsaa
नई दिल्ली। आरक्षण के विरोध में आयोजित भारत बंद का असर अब धीरे धीरे ही सही लेकिन हिंसक हो ही गया। बिहार के आरा से हिंसा की शुरुआत हुई। यहां करीब दर्जन भर लोग हिंसक झड़प में घायल हुए हैं। जगह जगह रेलवे रोकी गई, सड़क बद की गई वहीं कई जगह तो बाजार भी जबरदस्ती बंद करवाया गया। 
2 अप्रैल को हुए भारत बंद के दौरान मध्य प्रदेश में जमकर तबाही हुई थी। यहां भारत बंद के दौरान 8 लोगों की मौत भी हुई थी। इस बार यहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था है। भोपाल सहित 12 जिलों सहित भोपाल में भी शाम छह बजे तक एक जगह पर लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगा दिया गया। वहीं ग्वालियर चंबल रीजन में पिछले दिनों हुई हिंसा को देखते हुए 15 अप्रैल तक यहां  6000 पुलिस बल तैनात किए गए है। वहीं कई जिलों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है जबकि भिंड में 11 अप्रैल तक कर्फ्यू लगाया गया है। 
आज 'भारत बंद' के दौरान केवल बिहार से छिटपुट हिंसा की खबरें आई हैं, जबकि देश के दूसरे हिस्सों में स्थिति सामान्य बताई जा रही है। लेकिन आज के विरोध ने बीजेपी के लिए जरूर मुसीबत खड़ी कर दी है। 
आरक्षण के खिलाफ आज अगड़ी जाति के लोग सड़क पर हैं और 'भारत बंद' का आवाह्न भी उच्च जातियों के संगठनों द्वारा किया गया है। ऐसे में इस भारत बंद का आरक्षण विरोधी लोग समर्थन मिला। 
SC/ST एक्ट में बदलाव को लेकर दलितों के विरोध को राजनीतिक पंडित बीजेपी के लिए फायदे का सौदा बता रहे थे। क्योंकि इससे अगड़ी और ओबीसी समुदाय के लोग एक हो गए थे। सबसे ज्यादा 52% ओबीसी और 21% दलित हैं। अगर सवर्ण और ओबीसी एक साथ आ जाते हैं तो बीजेपी की राह बिल्कुल आसान हो जाएगी।

No comments:

Post a Comment