menubar

breaking news

Sunday, April 8, 2018

26 अप्रैल को यूपी और बिहार के विधानपरिषद की 24 सीटों के लिए होगा चुनाव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन की परीक्षा 2019 के लोकसभा चुनावों के पहले विधान परिषद के चुनावों में होने वाली है। यूपी की विधान परिषद से कुल 13 सीटें खाली हो रही हैं जिनमें समाजवादी पार्टी के 7 सदस्यों का कार्यकाल खत्म हो रहा है जिसमें सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का नाम शामिल है। सपा अध्यक्ष अखिलेश पहले ही कन्नौज से लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जता चुके हैं। ऐसे में वे विधान परिषद न जाएँ मगर पार्टी के अन्य नेता जरूर चुने जायेंगे। भारत के चुनाव आयोग ने घोषणा करते हुए कहा कि यूपी और बिहार के विधानपरिषद की 24 सीटों के लिए चुनाव 26 अप्रैल को होगा।
यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव का ऊपरी सदन की सदस्यता का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। यूपी में समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, राजेंद्र चौधरी, नरेश उत्तम, उमर अली खान, मधु गुप्ता, रामसकल गुर्जर और विजय यादव की विधान परिषद का कार्यकाल पूरा हो रहा है। बहुजन समाज पार्टी के विजय प्रताप सिंह, सुनील कुमार चित्तौड़, अंबिका चौधरी राष्ट्रीय लोकदल के चौधरी मुश्ताक का कार्यकाल पूरा हो रहा है. वहीं बीजेपी के दो उम्मीदवार हैं जिनका कार्यकाल खत्म हो रहा है। अब विधान परिषद चुनाव में भी समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी गठबंधन का असर दिख सकता है। राज्यसभा चुनाव में गठबंधन करने के बाद भी बीजेपी ने बीएसपी उम्मीदवार को हरा दिया था।

No comments:

Post a Comment