menubar

breaking news

Friday, March 16, 2018

मुवक्किल परामर्श और वैकल्पिक विवाद समाधान पर राष्ट्रीय कार्यशाला और संकाय विकास कार्यक्रम का हुआ भव्य उद्धघाटन।

लखनऊ। एमिटी विश्वविद्यालय लखनऊ के विधि संकाय एमिटी लॉ स्कूल परिसर में क्लाइंट काउंसलिंग और अल्टरनेटिव डिस्प्यूट रेसोलुशन मैकेनिज्म विषय पर पांच दिवसीय संकाय ( फैकल्टी) विकास कार्यशाला का आयोजन हुआ जिसमे देश भर से शिक्षकों, छात्रों और अनुसंधान विद्वानों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन  उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री, श्री ब्रजेश पाठक , द्वारा किया गया। एमिटी ला स्कूल के निर्देशक श्री बलराज चौहान ने कार्यक्रम के  स्वागत भाषण में देश भर से आये हुए प्रतिभागियों को अल्टरनेटिव डिस्प्यूट रेसोलुशन  और विधि छेत्र से सम्बंधित कुछ ऐसी बातें बतायी जो प्रतिभागियों एवं एमिटी ला स्कूल के शिक्षकों एवं विद्यार्थियों के जीवन मे बहुत उपयोगी सिद्ध होंगी। उन्होंने एमिटी ला स्कूल के विधिक सहायता केंद्र की उपलब्धियों का भी वर्णन किया। माननीय कानून मंत्री ने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विधि के छेत्र में किये सरकार द्वारा किये गए परिष्करो का वर्णन किया।
इस मौके पर एमिटी लॉ स्कूल के मेंटर नरेश चंद्रा, सुनील धनेश्वर, प्रोफेसर जी.के. चंदानी, प्रोफेसर एस.के. गौर, समेत अन्य विभाग के निर्देशक मौजूद रहे।
अंत मे कार्यक्रम संयोजक डॉ. मनु सिंह, डॉ. तरु मिश्रा, प्रीति सिंह, पल्लवी सिंह ने सभी अतिथियों एवं प्रतिभागियों के प्रति आभार व्यक्त किया एवं अपने 25 सदस्यीय छात्र समिति के कार्यों को सराहा।
कार्यक्रम का संचालन अनुमेहा सहाय ने किया।यह उक्त जानकारी एमिटी लॉ स्कूल के छात्र संयोजक अमन श्रीवास्तव ने दी।

No comments:

Post a Comment