menubar

breaking news

Saturday, March 3, 2018

होली में जब दुल्हन भाग गयी सूरजघाट से

जौनपुर। 102 साल से होली की उठती है। बरात जोगिरा गाते सारे बराती पहुचते है सुरजघाट शीतला चौकियां धाम में शीतला देवी रंग मंच के कलाकारो ने उठायी होली की बरात बताते है कि यह परम्परा लगभग 102 साल से चली आ रही है। इसमें दुल्हा बने एक्टर आशीष माली, दुल्हन बनी कल्लू मोदनवाल व डाकू बने संजीवन माली, अतुल गुप्ता, गंगाधर व तमाम लोग सामिल थे। देवचन्द्रपुर गांव से जोगिरा बोलते कि सारी रजाई जल गया बैठा है तापने ऐसा नालयक चुतिया देखा है आपने सारी घर की औरते अपने अपने घर से बाल्टी में लेकर सारे बराती के ऊपर रंग डालती है। सारे बरातीयों की सेवा में पुरा चौकियां धाम लगा रहता है। व सारे बराती सूरजघाट में जा कर के समापन करते है व वहा से दुल्हन दुल्हा का हाथ छुड़ाकर भाग जाती है व दुल्हा सर पटक पटक कर रोने लगता है। इस मौके पर रतन गिरी, संजय माली, सन्नी गुप्ता, विनय गिरी, अनिल गुप्ता, मनोज माली, सुरज सेठ, रामजनक माली आकाश गिरी व चौकियां घाम परिवार शामिल था। कार्यक्रत का अध्यक्षता व संचालन एक्टर आशीष माली ने किया।
नोट- फोटो एवं खबर आपके मेल पर उपलब्ध है।

No comments:

Post a Comment