menubar

breaking news

Monday, February 19, 2018

नकल विहीन परीक्षा होने से विद्यार्थी करता है अध्ययन- कुलपति

विश्वविद्यालय ने नकलविहीन परीक्षा सम्पादित करने पर  की  परिचर्चा 
 जौनपुर।  वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के अवैद्यनाथ संगोष्ठी भवन में सोमवार को सीसी टीवी की निगरानी में  नकलविहीन परीक्षा सम्पादित किये जाने के लिए परिचर्चा आयोजित की गई। इस परिचर्चा में विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के पांच जनपदों के समस्त महाविद्यालयों के प्राचार्य ,प्रबंधक एवं उनके प्रतिनिधिगण ने प्रतिभाग किया।  कुलपति प्रो डॉ राजाराम यादव ने कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश में समय पर परीक्षा और परिणाम देने में प्रदेश में सबसे आगे  है। परीक्षा नकल विहीन होनी चाहिए नकल विहीन परीक्षा होने से विद्यार्थी अध्ययन करता है। उन्होंने कहा कि परीक्षा के दौरान की गई एक छोटी सी गलती बड़ी समस्या का कारण बनती है। इसलिए सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है कि परीक्षा को सफल ढंग से सम्पन्न कराने के लिए प्रयास करें। शुचिता और पवित्रता इस बार आपके कार्यशैली से दिखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों के साथ विश्वविद्यालय किसी भी तरीके का भेद भाव नहीं करेगा।कुलसचिव सुजीत  कुमार जायसवाल ने कहा कि विश्वविद्यालय का नाम शुचितापूर्ण परीक्षा और समय पर परीक्षाफल देने  के कारण प्रदेश में जाना जाता है। यहां के महाविद्यालयों  के कारण विश्वविद्यालय का नाम ऊंचा हुआ है। शासन की मंशा है कि पवित्रता  के साथ नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न हो ।वित्त अधिकारी एम के सिंह ने कहा कि महाविद्यालयों के पास जो विश्वविद्यालय द्वारा अग्रिम दिया गया है उसका समय पर समायोजन करें।परीक्षा नियंत्रक संजीव सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय परीक्षा की तैयारियों में जुटा हुआ है। स्ववित्तपोषित महाविद्यालय परीक्षा को सुचारू से सम्पन्न कराने के लिए सहयोग करे। पी 6 नया बनाया है जिसमें विद्यार्थियों की उत्तर पुस्तिका का क्रमांक भी दर्ज होगा। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी के साथ वॉइस रिकॉर्डिंग की  व्यवस्था के लिए दिए गए सुझाव पर विचार किया जाएगा। लाल रंग के कपड़े में अनुचित साधन प्रयोग की गई कॉपी के  साथ विद्यार्थी को दी गई दूसरी कॉपी भी भेजे। प्रोजेक्ट इंजीनियर सीसीटीवी कुणाल कुमार ने सभी से कहा  कि  अपने सीसीटीवी कैमरे को शीघ्र  विश्वविद्यालय के सीसीटीवी कैमरे से लिंकअप करें।  इस  अवसर  पर प्रोफ़ेसर डॉ मानस पांडेय ,प्राचार्य  डॉ देवेंद्र नाथ सिंह ,डॉ वीरेंद्र प्रताप सिंह ,डॉ राम अवध सिंह यादव,डॉ सतेंद्र प्रताप सिंह, डॉ नागेंद्र पाठक ,प्रबंधक राजबहादुर , सूर्यभान यादव ,संदीप तिवारी एवं अमित कुमार  दुबे,एमएम भट्ट ,रामसूरत यादव  ने भी सम्बोधित किया। संचालन डॉ संजय श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर प्रो बीबी तिवारी,  डॉ के एस तोमर मंचासीन रहे। 

No comments:

Post a Comment