menubar

breaking news

Friday, February 2, 2018

आपसी भेदभाव हर समस्या की जड़ :मैनेजमेंट गेम का हुआ आयोजन -प्रशिक्षण कार्यक्रम का तीसरा दिन

जौनपुर - व्यवसाय प्रबंध  विभाग वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर एवं अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित शैक्षणिक नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम के तीसरे  दिन वक्ताओं ने प्रभावी नेतृत्व के विभिन्न पहलुओं पर अपनी बात रखी। यह चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार के  पंडित मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक मिशन एवं शिक्षण द्वारा उत्प्रेरित एवं समर्थित है।  प्रशिक्षण कार्यक्रम के तीसरे दिन विश्वेश्वरैया सभागार में  काशी हिंदू विश्वविद्यालय प्रबंध अध्ययन संकाय के प्रोफेसर एच पी माथुर ने  प्रभावी नेतृत्व एवं रणनीति योजना विषय पर विस्तार से चर्चा की l उन्होंने कहा कि बदलते परिवेश में टीम लीडरशिप का विशेष महत्व है l जिसमें कार्य एवं संबंध दोनों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए l एक सफल नेतृत्वकर्ता परिस्थिति के अनुरूप नेतृत्व की शैली अपनाता है  अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के प्रबंध अध्ययन संकायाध्यक्ष प्रोफेसर परवेज तालीब ने शिक्षण संस्थानों को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग पाने के लिए की जाने वाली तैयारियों पर प्रकाश डाला l उन्होंने कहा कि संस्थानों में आपसी भेदभाव व संघर्ष हर समस्या की जड़ है।   नेतृत्व करनेवालों में ऐसा गुण  होना चाहिए कि वह टीम के सदस्यों के बीच वैमनस्य को दूर कर सकारात्मक दृष्टिकोण पैदा कर सके l प्रशिक्षण कार्यक्रम में तीसरे दिन प्रतिभागियों के लिए मैनेजमेंट गेम का आयोजन किया गया जिसमें शिक्षकों ने  प्रतिभाग कर अपने विचार रखें l इसमें प्रो अविनाश पाथर्डीकर, डॉ मो सलमान अंसारी,डॉ मुक्ता राजे, डॉ वंदना दुबे, डॉ राहुल सिंह, डॉ अनुपम शुक्ला शामिल थे। समन्वयक  डॉ मुराद अली ने संचालन एवं  धन्यवाद् ज्ञापन डॉ सुशील  सिंह ने किया। कार्यक्रम में प्रो अजय प्रताप सिंह, प्रो ए के श्रीवास्तव, प्रो बी डी शर्मा, प्रो वंदना राय, प्रो अविनाश पाथर्डीकर,   डॉ सतेंद्र सिंह, डॉ पुष्पा सिंह, ,डॉ संतोष कुमार, , डॉ मनोज मिश्रा,  डॉ दिग्विजय सिंह राठौर समेत अन्य प्रतिभागी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment