menubar

breaking news

Monday, February 12, 2018

विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के अभ्यर्थियों को निशुल्क सिविल सर्विसेज कोचिंग, 5 मार्च से शुरू होगी

जौनपुर- वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय बहुत शीघ्र ओबीसी , एससी , एसटी  एवं गरीबी रेखा के नीचे  जीवन यापन  करने वाले सामान्य वर्ग  के प्रशासनिक सेवा में जाने के इच्छुक अभ्यर्थियों  के लिए  निशुल्क सिविल सर्विसेज कोचिंग प्रारम्भ कर रहा है।  सिविल सर्विसेज कोचिंग के समन्वयक  पूर्व प्राचार्य डॉ मनराज यादव ने बताया कि इस हेतु  अभ्यर्थियों से आवेदन पत्र  मांगे गए हैं। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर आवेदन प्रपत्र अपलोड किया जा चुका  है। आवेदन पत्र प्राप्ति की अंतिम तिथि २८ फरवरी है। उन्होंने बताया कि  जिन अभ्यर्थियों ने सिविल सर्विसेज 18  के लिए आवेदन किया  हैं उन्हें  कोचिंग प्रवेश में वरीयता दी जाएगी। उन्होंने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर डॉ राजाराम यादव के विजन और इस पहल  के लिए खुशी जताते हुए कहा कि पूर्वांचल के विद्यार्थियों के लिए इससे बड़ी उपलब्धि और क्या हो सकती है।  इसके लिए उन्हें दूरदराज के महानगरों में जाना पड़ता था।   उन्होंने कहा  कि सामान्य अध्ययन एवं सी-सैट सहित समस्त प्रशासनिक सेवाओं के लिए इस निःशुल्क  कोचिंग में सर्वोत्तम  व्यवस्था की जा रही है। 5 मार्च से कोचिंग में कक्षाएं प्रारंभ हो जाएगी। विदित हो कि यूपीएससी द्वारा हर साल सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन किया जाता है।  इसके तहत भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) समेत अन्य अखिल भारतीय सेवाओं के लिये अधिकारियों का चयन किया जाता है। यूपीएससी के वर्ष 2018  के परीक्षा कार्यक्रम के मुताबिक सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 3 जून 2018 को निर्धारित की गई है। 

No comments:

Post a Comment