menubar

breaking news

Thursday, February 15, 2018

भारती घोष के पति की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने 15 मार्च तक लगाई रोक

 कोलकाता- अवैध वसूली समेत अन्य मामलों में पश्चिम मेदिनीपुर की पूर्व एसपी व आइपीएस अफसर भारती घोष के पति एमएवी राजू को कलकत्ता हाईकोर्ट ने गुरुवार को राहत दे दी। हाईकोर्ट ने राजू की गिरफ्तारी पर 15 मार्च तक रोक लगा दी है। हालांकि, उन्हें जांच में पुलिस को मदद करनी होगी। इसके अलावा उन्हें नेताजी नगर थाना क्षेत्र से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी गई है। उन्हें अपना पासपोर्ट भी जमा करने का भी निर्देश दिया गया है। गुरुवार कलकत्ता हाईकोर्ट ने एमएवी राजू के अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई के बाद यह निर्देश दिया। 13 फरवरी को उन्होंने हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की थी। इस दिन न्यायाधीश जयमाल्य बागची की खंडपीठ में याचिका को स्वीकार कर लिया गया। सुनवाई के दौरान एमएवी राजू के अधिवक्ता ने कहा कि दासपुर थाने में जो एफआइआर दायर किया गया है, उसमें भारती घोष का नाम तो है लेकिन उनके मुवक्किल राजू का नाम नहीं है। इसके बावजूद उनके नाकतल्ला स्थित घर में तलाशी ली गई। उनके मुवक्किल को फंसाने की कोशिश हो रही है। अधिवक्ता ने कहा कि भारती घोष के काम-काज के साथ उनका कोई संपर्क नहीं है। बावजूद इसके उनके मुवक्किल की कभी भी गिरफ्तारी होने की आशंका बनी हुई है। एमएवी राजू के अधिवक्ता की दलील सुनने के बाद न्यायाधीश ने सीआइडी की आलोचना की।

No comments:

Post a Comment