menubar

breaking news

Monday, January 29, 2018

कासगंज हिंसा: चंदन के परिवार वालो ने चेक लेने से किया इनकार, बोले हमें न्याय चाहिए


कासगंज - गणतंत्र दिवस पर तिरंगा रैली के दौरान भड़की हिंसा जरूर थम गई हो, लेकिन लोगों ने अब तक नाराजगी बनी हुई है. सोमवार को मृतक चंदन गुप्ता के परिजनों ने 20 लाख मुआवजे का चेक लेने से इनकार कर दिया है।मिली जानकारी के अनुसार, मृतक चंदन गुप्ता के परिजन हिंसा के बाद से धरने पर बैठे हैं. सोमवार को कासगंज के डीएम आरपी सिंह समेत आला अधिकारी मृतक चंदन के परिजनों को मुआवजे का चैक देने पहुंचे थे. लेकिन उन्होंने चैक लेने से मना कर दिया।  चंदन के परिवार वालों का कहना है कि "जब तक चंदन का हत्यारा पकड़ा नहीं जाता तब तक हम पैसे नहीं लेंगे, हमें न्याय चाहिए. हमारे बेटे का क्या दोष था जो उसे गोली मारी गई. वह केवल 22 साल का था. जब तक आरोपी पकड़े नहीं जाते तब तक हम धरना जारी रखेंगे। बता दें कि हिंसा के बाद हालात सामान्य करने के लिए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद मोर्चा संभाले हुए हैं. इसके बावजूद तनाव बना हुआ है. योगी सरकार ने हिंसा में मारे गए चंदन के परिवार वालों को 20 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया था। अब तक हिंसा फैलाने के मामले में 112 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इनमें 7 के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं, हिंसा में मारे गए चंदन पर हमले का मुख्य आरोपी शकील अब भी फरार है. पुलिस ने उसके घर की तलाशी ली, जहां देसी बम और पिस्टल मिले। 26 जनवरी  को जब पूरा देश और दुनिया के 10 देशों के नेता दिल्ली में राजपथ पर भारत की आन, बान और शान के नमूने देख रहे थे. उसी दौरान यूपी के कासगंज में हिंसा की चिंगारी फैल गई. जिसने एक नौजवान की जान ले ली और पूरे शहर में खौफ का माहौल पैदा हो गया। 


No comments:

Post a Comment