menubar

breaking news

Tuesday, January 16, 2018

रिटायर्ड फौजी का कहर 9 लोगों को बनाया बंधक, 24 घंटे बाद आया पुलिस के काबू में


एटा -में एक रिटायर्ड फौजी के आतंक से तीन परिवार के लोग करीब 24 घंटे तक दहशत के बीच बंधक बने रहे. सनकी फौजी ने लाइसेंसी असलाहे से फायरिंग कर तीन परिवार के 9 लोगों को एक मकान में बंधक बना लिया. लोग चीखते-चिल्लाते रहे. बहुत मुश्किल से पुलिस ने उस पर काबू पाया और गिरफ्तार करने के बाद लोगों को रिहा कराया।जानकारी के मुताबिक, एटा शहर के यादव नगर स्थित गली नंबर चार में रिटायर्ड फौजी अवधेश यादव का परिवार किराए पर रहता है. वह रिटायर्ड होने के बाद दिल्ली में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने करता है. रविवार को दिल्ली में जिस मकान में वह किराए पर रहता था, उस मकान के लोगों को गोली मारने की धमकी देकर अंदर ही बंद कर दिया और फायरिंग किया।घर में रहने वाले लोग नहीं निकल पाए तो मकान मालिक ने फौजी के पिता के पास फोन करके मामले की सूचना दी. परिवार के सदस्य यहां से दिल्ली पहुंचे किसी तरह फौजी को काबू में करके एटा ले आए. यहां आने के बाद सोमवार को फौजी का दिमाग फिर घूम गया और उसने फायरिंग शुरू कर दी. मोहल्ले में दहशत का माहौल बन गया. भीड़ एकत्र होने लगीइसके बाद फौजी अपने घर में घुस गया और अंदर से ताला लगाकर चाबी अपने कब्जे में कर ली. घर के अंदर से उसने कई फायर किए, जिससे अंदर मौजूद लोग डर गए. कमरों में बंद हो गए. जब भी कोई कमरे से बाहर निकलने की कोशिश करता तो फौजी रायफल तान देता था. लोग उसको मनाने की कोशिशें करते रहे, लेकिन वह हथियार डालने को तैयार नहीं था सूचना मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहुंच गया. मकान की घेराबंदी कर ली. पड़ोस में बने मकानों की छत पर पुलिस तैनात कर दी गई है, लेकिन देर शाम तक फौजी ने हथियार नहीं डाले, जबकि मकान के बाहर लोगों की भीड़ लगी रही. बहुत मुश्किल से किसी तरह पुलिस और प्रशासन ने सनकी फौजी पर काबू पाया. मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर लिया गया

No comments:

Post a Comment