menubar

breaking news

Wednesday, January 31, 2018

12 बजे आने थे 50 लाख रुपये , उसी समय घुसे लुटेरे, रकम नहीं पहुंची तो बैंक मैनेजर को मारी गोली

बेगूसराय -बैंक कैश नहीं रहने और अपराधियों द्वारा बैंक का लॉकर नहीं खोल पाने के कारण लूट होने से तो बच गई, लेकिन इस दौरान बदमाशों ने बैंक के असिस्टेंट मैनेजर को गोली मारकर और एक अन्य कर्मचारी को पिस्तौल की बट से मारकर घायल कर दिया। इस दौरान बदमाशों ने 10 राउंड गोली भी चलाई।बताया   जाता है कि बैंक के बाहर पहरा दे रहे लुटेरों पर ग्रामिणों द्वारा पथराव भी किया गया, जिसके जवाब में बदमाशों ने फायरिंग भी की। घायल बैंक कर्मियों का बेगूसराय सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। घटना की सूचना पाकर एसपी आदित्य कुमार, डीएसपी मिथलेश कुमार, यूको बैंक के जोनल हेड डीएस राठौड़ व डिप्टी जोनल पदाधिकारी त्रिलोक कुमार ने बैंक पहुंच कर मामले की छानबीन की।तीन बाइक पर सवार नौ अपराधी पहुंचे थे
तीन बाइक पर सवार नौ अपराधी देशी कट्टा के साथ करीब 12.45 बजे बैंक में घुस गए व मैनेजर एके मिश्रा समेत कई ग्राहकों को बैंक के पिछले दरवाजा की तरफ ले जाकर बंद कर दिया। बैंक में मौजूद महिला ग्राहकों को बैंक के मेन गेट से बाहर भगा दिया। इस दौरान अपराधियों ने मैनेजर के चैंबर में लगे कम्प्यूटर व लैपटॉप को क्षतिग्रस्त करते हुए सीसीटीवी से जुड़े हार्ड डिस्क निकाल लिए साथ ही काउंटर के शीशे व वहां लगे कम्प्यूटर के साथ तोड़फोड़ की। काउंटर पर बैठे सहायक बैंक प्रबंधक विजय कुमार सिंह को एक अपराधी ने गोली मार दी, जो उनके बांई जांघ में लगी। वहीं दूसरे सहायक प्रबंधक सुजीत कुमार के सिर पर पिस्तौल के बट से मार कर घायल कर दिया। चाबी लेकर बदमाश लॉकर खोलने पहुंचे, लेकिन हड़बड़ाहट के कारण उनसे लॉकर नहीं खुल सका। इसी दौरान लुटेरों के पांच साथी जो बैंक के बाहर खड़े होकर रखवाली कर रहे थे उनपर गांव के लोगों ने पथराव करना शुरू कर दिया, जिससे डर कर लुटेरे भागने लगे।

No comments:

Post a Comment