menubar

breaking news

Sunday, December 17, 2017

पेंशनर दिवस का आयोजन सम्पन्न

जौनपुर - गतवर्षो के भांति इस वर्ष भी पेंशनर दिवस कलेक्ट्रेट प्रेक्षागृह में अपर जिलाधिकारी आर.पी. मिश्र की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। सर्व प्रथम अपर जिलाधिकारी द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी बांके बिहारी तिवारी एवं बनारसी राम को माल्यार्पण कर एवं अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया।
          इस अवसर पर पेंशनर्स संगठन के पदाधिकारी इ. क्षमानाथ दूबे, इ. आरपी पाण्डेय, इ. बलभद्र मिश्र, उमाशंकर मिश्र, अशोक कुमार सिंह, अखिलेश चन्द्र श्रीवास्तव, राजबली यादव, पारसनाथ यादव, धनन्जय यादव, सत्यदेव सिंह, जितेन्द्र तिवारी, जगरनाथ मौर्य, एसपी लाल श्रीवास्तव, ओपी राय, केएन सिंह, आद्या प्रसाद सिंह, नन्दलाल प्रजापति आदि ने अपने-अपने विचार व्यक्त करते हुए पेंशनर भवन, विशेषकर वेतन पुनरीक्षण, चिकित्सा क्षतिपूर्ति भत्ता,  दो माह में पेंशनर की बैठक, प्रत्येक माह जिलाधिकारी द्वारा समीक्षा करने, शस्त्र वरासत, चकबन्दी, सिचाई, स्वास्थ्य विभाग की विशेष रूप से सुविधा दिलाने की मांग किया।  पेंशनर्स सी.बी.सिंह, संतोष श्रीवास्तव सहित सैकड़ों पेंशनर उपस्थित रहे। 
         इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी आर0पी0मिश्र ने सभी समस्याओं का समाधान कराने के लिए जिलाधिकारी स्तर से पत्र प्रेषित कराने का निर्देश वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक नन्दलाल कुरील को दिया। पेंशनरों को पेंशनर भवन शीघ्र ही उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।   श्री मिश्र ने सभी अधिकारियों से अपेक्षा किया कि पेंशनरों के साथ सम्मानजनक व्यवहार किया जाय तथा उनकी समस्याओं का निस्तारण तत्काल कराते हुए उन्हें भी अवगत कराया जाय। इस अवसर पर डीडीओ दयाराम, सीएमएस एस.के.पाण्डेय,  मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 विरेन्द्र सिंह, अधीक्षण अभियंता सिचाई एस.के.सिंह, अधि. अधि. आरईएस मायाराम वर्मा, सहायक अभि. लघु सिचाई उमाकान्त तिवारी, वन अधिकारी ओमप्रकाश सोनकर, डी.पी.आर.ओ. सुधीर कुमार, जिला गन्ना अधिकारी हुदा सिद्दीकी, आपूर्ति निरीक्षक संजय यादव, वित्त एवं लेखाधिकारी जिला पंचायत रमेन्द्र कुमार मौर्य, माध्यमिक शिक्षा रामबचन राम, कोषागार से आरके गुप्ता, दयाराम गुप्ता, रविन्दर गुप्ता, शैलेन्द्र यादव, मनोज यादव, विलेश कुमार, संतोष शाही आदि का सहयोग उल्लेखनीय रहा। पेंशनर ए.सी.श्रीवास्तव ने ‘‘करम कीजिए या जफा कीजिए, मोहब्बत का कुछ तो शिला दीजिए’’ एवं बलभद्र मिश्र ने ‘‘क्या पूंछते हो मुझसे मेरी कहानी, शतबार पी चुका हूं इन आंसुओं का पानी‘‘ गजल सुनाकर माहौल को खुशनुमा बनाया। कार्यक्रम का सफल संचालन वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक नन्दलाल कुरील ने किया।

No comments:

Post a Comment