menubar

breaking news

Saturday, November 25, 2017

जोनल मजिस्टेªट, सेक्टर मजिस्टेªट के साथ जिला मजिस्टेªट ने किया समीक्षा बैठक

जौनपुर - जिला निर्वाचन अधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने कलेक्टेªट सभागार में नगर निकाय चुनाव 2017 को सकुशल, शान्तिपूर्ण, निष्पक्ष सम्पन्न कराने के लिए जोनल मजिस्टेªट, सेक्टर मजिस्टेªट के साथ समीक्षा बैठक किया। बैठक में प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक आलोक सिंह ने कहा कि चुनाव निष्पक्ष सम्पदित कराना हम सब का कतव्र्य है सभी सेक्टर मजिस्टेªट एवं जोनल मजिस्टेªट अपने क्षेत्र में भम्रण कर यह सुनिश्चित करायेंगे कि उनके क्षेत्र में निर्वाचन आयोग के मानक के अनुसार सभी सुविधाएं मतदाताओं के लिए उपलब्ध है। विशेषकर अपने क्षेत्र में पड़ने वाले थानों एवं पुलिस चैकी से सम्पर्क कर गत चुनाव में बूथ पर किसी प्रकार की व्यवधान की जानकारी लेकर आर.ओ./उपजिला मजिस्टेªट एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी को उपलब्ध कराये।
           जिला निर्वाचन अधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने निर्देशित किया कि सभी आर.ओ. अपने क्षेत्र के नगर पालिका/नगर पंचायत के बूथ पर बताई गयी कमियों को तत्काल दूर कराये। उन्होंने बताया कि मेरे बिना अनुमति के कोई अधिकारी जिले से बाहर नही जायेगा। सभी चुनाव में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों के मोबाइल खुले रहेंगे। पहचान के लिए बीएलओ द्वारा दी गयी मतदाता पर्ची से मतदान नही कर सकते है मतदान के लिए आयोग द्वारा निर्धारित पहचान पत्र में से किसी एक पहचान पत्र होना आवश्यक है। बीएलओ मतदान दिवस पर अवशेष मतदाता पर्ची लेकर बूथ पर उपस्थित रहेंगे।
        प्रशिक्षण अधिकारी दयाराम ने बताया कि आयोग के निर्देशानुसार नगर पालिका अध्यक्ष पद के बैलेट बाक्स पर हरे रंग का, नगर पंचायत अध्यक्ष सफेद रंग का तथा सदस्य के बैलेट बाक्स पर गुलाबी रंग का स्ट्रीकर लगा रहेगा। पहले मतदान के लिए अध्यक्ष का मतपत्र दिया जायेगा। मतदान के बाद सदस्य के लिए मतपत्र दिया जायेगा। अमिट स्याही सही ढंग से लगाया जाय। हर पोलिंग पार्टी में एक महिला मतदान कर्मी रहेगी। उन्होंने बताया कि प्रत्याशियों द्वारा आदर्श आचार संहिता का पालन सुनिश्चित कराया जाय। आयोग के निर्देश का शतप्रतिशत पालन किया जाय। पोलिंग पार्टी रवानंगी से लेकर मतदान स्थल पर रात्रि निवास करना, सभी व्यवस्था पूर्ण करना, किसी का दिया हुआ कोई सामान स्वीकार न करना, समय से मतदान प्रारम्भ कराना, पोलिंग एजेंट को मानक के अनुसार बैठना, सौ मीटर की परिधि में किसी प्रकार का मतदाता पर्ची का वितरण न करना, दो-दो घण्टे पर कन्ट्रोल रुम को सूचना देना, अपने क्षेत्र के प्रत्येक मतदान केन्द्र पर निरंतर भ्रमणशील रहकर सकुशल चुनाव सम्पन्न कराना, सभी पोलिंग पार्टियों के मतपेटिकाओं को निर्धारित स्ट्रांगरुम में जमा कराना आदि आवश्यक है। प्रत्याशियों द्वारा व्यय सीमा से अधिक व्यय को रोकने के लिए तथा मतदाताओं को प्रभावित किये जाने के लिए रुपया, शराब एवं अन्य वस्तुओं को रोकने तथा प्रभावी नियंत्रण करने के लिए उड़नदस्ता टीम का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि 34 सेक्टर मजिस्टेªट तथा 16 जोनल मजिस्टेªट लगाये गये है। पुलिस अधीक्षक के.के.चैधरी ने बताया कि सामान्य मतदान केन्द्र पर भी पर्याप्त मात्रा में फोर्स तैनात किया जायेगा।
             इस अवसर पर प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक आलोक सिंह, उपजिला निर्वाचन अधिकारी आर.पी.मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय राय, प्रशिक्षण अधिकारी दयाराम, नगर मजिस्टेªट इन्द्र भूषण वर्मा, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर नृपेन्द्र, उपजिला मजिस्टेªट प्रियंका प्रियर्दशनी, जोनल मजिस्टेªट ए.पी.पाठक, डा.राजेन्द्र सिंह, एस.के.सिंह, उमेश शुक्ला सहित अन्य जोनल, सेक्टर मजिस्टेªट उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment