menubar

breaking news

Monday, November 13, 2017

जौनपुर में जिला कारागार में विधिक जागरुकता गोष्ठी का हुआ आयोजन


जौनपुर। 13 नवम्बर को जिला कारागार में एक विधिक जागरुकता गोष्ठी का आयोजन जिला जज प्रभारी अजय त्यागी की निर्देशन में किया गया। गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए सचिव/सिविल जज रवि यादव ने कहा कि जिला कारागार में निरुद्ध बंदियो को विधिक रुप से साक्षर होना एवं जागरुक होना अनिवार्य बताया। उन्होंने विधिक दिवस पर 9 से 18 नवम्बर का महत्व रेखांकित करते हुए प्राधिकरण से बंदियो को जेल विजिटर्स, पैरालीगल, वालेटियर्स एवं पैनल लायर्स द्वारा दी जा रही सहायता को बताया। 
डाॅ दिलीप कुमार सिंह संधिकर्ता ने विधि एवं संविधान तथा अधिकार एवं कर्तव्यों की व्याख्या करते हुए कैदियों से कहा कि वे जेल को जीवन बदलने वाला सुधारगृह समझे। इसी क्रम में जेल अधीक्षक ए.के.मिश्र उपजेलर महेन्द्र सिंह, सुनीलदत्त मिश्रा एवं रिटेनर मनोज कुमार वर्मा ने जेल की आचार संहिता, जेल में बन्दियों को उपलब्ध सुविधाओं और न्यायालय में प्राप्त विधिक सहायता एवं अन्य सुविधाओं का विस्तार से वर्णन किया और कहा कि तेजी से बदलते समय में अपराध नही विकास ही मानव सभ्यता की आवश्यकता है इस अवसर पर जेल के बन्दियों की समस्याओं को सुना गया। समस्याओं के हल का निर्देश भी दिया गया। महिला बैरक का भी निरीक्षण करके उनकी समस्याएं पूछा गया। 
इस अवसर पर जेल के बंदीगण जेल के अधिकारीगण, कर्मचारीगण एवं संबंधित अन्य लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन डाॅ दिलीप कुमार सिंह ने तथा आभार जेल अधीक्षक ए.के.मिश्रा ने किया। 

No comments:

Post a Comment