menubar

breaking news

Tuesday, November 7, 2017

धारा 144 का उल्लंघन, धारा 188 के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध होगा - जिला मजिस्ट्रेट

जौनपुर। जिले में पंचायत एवं नगरीय निकाय निर्वाचन की प्रक्रिया आरम्भ हो गयी है जिसके अनुसार इस जनपद की समस्त नगर पालिका परिषदों/नगर पंचायतों के अध्यक्षों तथा सदस्यों के सामान्य निर्वाचन की प्रक्रिया के अन्तर्गत 4 नवम्बर को अधिसूचना जारी हो गयी है, जिसका प्रतीक आबण्टन 14 नवम्बर को, मतदान 29 नवम्बर को एवं मतगणना 1 दिसंबर को सम्पन्न कराया जायेगा। समस्त नगर पालिका परिशदों/नगर पंचायतों के अध्यक्षों तथा सदस्यों के निर्वाचन के दृश्टिगत शांति व्यवस्था कायम रखा जाना आवष्यक है। पंचायत एवं नगरीय निकाय चुनाव के अवसर पर अराजक तत्वों द्वारा जहां एक ओर शांति भंग की जा सकती है, वही दूसरी ओर विशिष्ट/अतिविशिष्ट व्यक्तियों की सुरक्षा एवं गरिमा को प्रभावित किया जा सकता है। ऐसी दशा मेें मेरा समाधान हो गया है कि उक्त स्थिति में उपर्युक्त चुनाव के दृश्टिगत जनपद की कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने, व उसे सकुशल सम्पन्न कराने एवं अराजक तत्वों द्वारा विधि विरूद्ध समस्त कार्यो को अनिवार्य रूप से रोका जाना आवश्यक एवं अपरिहार्य हो गया है। 
अतः मैं सर्वज्ञ राम मिश्र, जिला मजिस्ट्रेट, जौनपुर उपरोक्त से संतुष्ट होेते हुए धारा 144 द0प्र0 सं0 के अन्तर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए तात्कालिक प्रभाव से निम्नवत् निषेधाज्ञा पारित करता हूॅ-
1- कोई भी व्यक्ति लाठी, डण्डा, बल्लम, स्टिक या आग्नेयास्त्र आदि लेकर नहीं चलेगा और न ही विस्फोटक पदार्थ, गड़ासा एवं अन्य धारदार हथियार लेकर भ्रमण करेंगा। केवल प्रशासनिक कार्यो में रत अधिकारी/कर्मचारी इस प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। लाठी डन्डे का प्रतिबंधन अंधे एवं विकलांग व्यक्तियों पर लागू नहीं होगा।
2-  पांच या पांच से अधिक व्यक्ति किसी भी सार्वजनिक स्थल पर एकत्रित नहीं होंगे और न ही कोई भीड़ एकत्र करेंगा। यह प्रतिबंध पारम्परिक, सांस्कृतिक कार्यक्रमों जुलूसों, जलसों एवं मेला की भीड़ पर लागू नहीं होगा।
3- कोई भी व्यक्ति बिना अनुमति के विस्फोटक पदार्थ, तेज आवाज करने वाला पटाखा को नहीं बजायेगा और न ही बिक्री करेगा और न ही जनपद सीमा मे विस्फोटक पदार्थ लेकर प्रवेष करेगा।
4 - कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह किसी ऐसे स्थान पर किसी भी ध्वनि विस्तारक यंत्र से ऐसा प्रचार प्रसार नही करेगा, जिससे जातिगत/साम्प्रदायिक तनाव पैदा हो या पैदा होने की संभावना हो व जनषांिन्त, जनसुरक्षा प्रभावित होती हो या प्रभावित होने की सम्भावना हो।
5- कोई भी व्यक्ति किसी भी आग्नेयास्त्र, धारदार हथियार व विस्फोटक सामग्री आदि का निर्माण/ संग्रहण नही करेगा और न ही ऐसा करने के लिए किसी को प्रेरित करेगा।
6- कोई भी व्यक्ति उत्तेजनात्मक भाशण नहीं देगा, जिससे किसी सम्प्रदाय/जाति/धर्म के व्यक्तियों की भावना को ठेस पहुचें।
7- कोई भी व्यक्ति ऐसा कोई विधि विरूद्ध कार्य नहीं करेगा, जिससे कि लोक परिषांति एवं लोक व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो।
8- कोई भी व्यक्ति सार्वजनिक स्थल, धार्मिक स्थल या अपने मकान के अन्दर या छतों पर ईट, पत्थर  टुकड़े आदि एकत्र नहीं करेगा और न ही किसी व्यक्ति पर घातक रसायन आदि का प्रयोग करेगा।
9- कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह ऐसे किसी भी स्थान पर बैठक या सभा आयोजित नही करेगा जहां पर  आयोजन करने से किसी भी तरह षांति भंग होने की संभावना हो।
10- कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियों का समूह बिना उस क्षेत्र के थाने को सूचित किये किसी भी सार्वजनिक स्थान पर चुनाव प्रचार हेतु बैठक/रैली/नाटक मंचन नहीं करेगा।
10- नामांकन पत्रों की जांच, नाम वापसी, तथा प्रतीक आवंटन के दिनांक को निर्धारित अवधि में संबन्धित आर0 ओ0 कार्यालय के परिसर के 200मीटर परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति न तो नषे की हालत में प्रवेष करेगा और न ही नशे का सेवन करेगा तथा मादक पदार्थ नहीं ले जायेगा। इसके अतिरिक्त उक्त अवधि में कोई भी व्यक्ति कोई ज्वलनशील वस्तु यथा मिट्टी तेल आदि लेकर प्रवेश नहीं करेगा जब तक कि निर्वाचन कार्य हेतु आवश्यक समझे जाने पर निर्वाचन अधिकारी/रिर्टनिग अधिकारी द्वारा अनुमति न दे दी जाए।
11- नामांकन, नामांकन पत्रों की जांच, नाम वापसी तथा प्रतीक आवंटन के दिनांक को निर्धारित अवधि में सम्बन्धित निर्वाचन कार्यालय के परिसर के 200 मीटर परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति शस्त्र या विस्फोटक सामग्री लेकर प्रवेश नहीं करेगा व निर्धारित अवधि में उपरोक्त परिसर के सीमान्तर्गत किसी भी ऐसे ध्वनि विस्तारक यन्त्र यथा रेडियो ,ट्रान्जिस्टर, लाउडस्पीकर आदि का प्रयोग नहीं करेगा जिससे निर्वाचन कार्य में व्यवधान पैदा होता हो या पैदा होने की संभावना हो।
12- नामांकन, नामांकन पत्रो की जांच, नाम वापसी तथा प्रतीक आवंटन के दिनांक को निर्धारित अवधि में सम्बन्धित विकास खण्ड के परिसर के 200 मीटर परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति निर्वाचन कार्य में लगे अधिकारी/कर्मचारी को छोड़कर किसी भी पशुचालित या यन्त्र चालित वाहन से प्रवेश नहीं करेगा। नाम निर्देशन स्थल पर उम्मीदवार, उसके प्रस्तावक या सहायतार्थ एक अन्य व्यक्ति को भी आने की अनुमति दी जायेगी।
13- कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियो का समूह मतदान के लिये तैनात किसी भी मतदान कर्मी के कार्य में ब्यवधान पैदा नही करेगा ।
14- कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियो का समूह किसी भी मतदाता को मतदान से रोकने की नियत से कोई भी ऐसा कृत्य नही करेगा, जिससे मतदाता मतदान से वंचित रहे, या वंचित रहने की सम्भावना हो ।
15- कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियो का समूह निर्वाचन विशयक किसी भी कार्यवाही तथा ब्यवस्था में किसी भी प्रकार से बाधा/ब्यवधान उत्पन्न नही करेगा।
16- चुनाव प्रचार के लिए किसी भी उपासना स्थल/धार्मिक स्थान व उसके परिसर का प्रयोग नही किया जायेगा।
17- चुनाव प्रचार के दौरान किसी भी ऐसे साधन का प्रयोग नही किया जायेगा, जिससे दूसरे प्रत्याषी का व्यक्तिगत स्तर पर परिहास या उसका अपमान होता हो। कोई भी राजनैतिक दल या प्रत्याषी किसी के व्यक्तिगत जीवन/धार्मिक आस्था पर आक्षेप/अपमानजनक टिप्पणी नही करेगे।
18- कोई भी व्यक्ति चुनाव प्रचार हेतु कोई आयोजन/बैठक/सभा इस प्रकार नही करेगा, जिससे सार्वजनिक आवागमन बाधित होता हो या किसी अन्य प्रकार का ब्यवधान पैदा होता हो।
19- कोई भी व्यक्ति चुनाव प्रचार से सम्बन्धित आयोजन के लिए सामियाना/झण्डी/बैनर/वाल पेण्टिंग व कटआउट इस प्रकार नही लगायेगा, जिससे आवागमन व्यवधानिक होता हो, जनजीवन को खतरा हो, या होने की सम्भावना हो, अथवा आचार संहिता का उल्लंघन हो।
20-    मतदान हेतु निर्धारित तिथि पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय क्षेत्र में मतदान के दिन मतदान स्थल व उसके निर्धारित परिसर के 200 मीटर परिधि के अन्दर कोई भी अभ्यर्थी अपने मतदाताओ को पहचान पर्ची प्रदान करने के लिये कोई कैम्प/पण्डाल नही लगायेगे।
21- निर्धारित तिथि पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय क्षेत्र में मतदान के लिये मतदान स्थल पर मतदान कर्मियो के पहुॅचने की अवधि तथा मतदान के उपरान्त उनके वापस लौटने की अवधि तक मतदान स्थल व उसके निर्धारित 200 मीटर परिसर के अन्दर कोई भी व्यक्ति नशे की हालत में प्रवेश नही करेगा व मादक पदार्थ नही ले जायेगा।
22- निर्धारित तिथि पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय क्षेत्र में मतदेय स्थल पर मतदान कर्मियो के पहुॅचने तथा मतदान के उपरान्त लौटने तक मतदान स्थल व उसके निर्धारित 200 मीटर परिधि के अन्दर कोई भी व्यक्ति किसी शस्त्र या विस्फोटक सामग्री को लेकर प्रवेश नही करेगा व इस अवधि में उपरोक्त परिसर के सीमान्तर्गत ऐसे ध्वनि विस्तारक यन्त्र यथा माइक, रेडियो, ट्रान्जिस्टर व लाउडस्पीकर का प्रयोग नही करेगा, जिससे की मतदान कार्य में व्यवधान पैदा होता हो या पैदा होने की सम्भावना हो।
23- मतदान स्थल पर मतदान कर्मियो के पहुॅचने व मतदान के बाद उनके वापस लौटने तक मतदान स्थल व उसके निर्धारित परिसर के अन्र्तगत कोई भी व्यक्ति ज्वलनशील पदार्थ यथा केरासिन आयल आदि  नही ले जायेगा, जब तक की मतदान कार्य के लिये आवशयक समझे जाने पर पीठासीन अधिकारी द्वारा अनुमति न दे दी जाये।
23- मतदान कार्य के लिये मतदान कर्मियो के पहुॅचने व मतदान के उपरान्त उनके वापस लौटने की अवधि तक मतदान स्थल व उसके निर्धारित 200 मीटर परिधि के अन्र्तगत कोई भी व्यक्ति मतदान कार्य के लिये नियत अधिकारी/कर्मचारी को छोड़कर किसी भी पशुचालित/यन्त्रचालित वाहन से प्रवेश नही करेगा।
24- कोई भी व्यक्ति चुनाव प्रचार के लिये किसी भी सार्वजनिक भवन, परिसर या उसकी दीवाल पर पोस्टर/पर्चा/नारे लिखकर उसको क्मंिबम नहीं करेगा।
25- मतगणना के दिनांक से मतगणना की समाप्ति तक संबन्धित मतगणना स्थल के 200 मीटर परिधि की अंदर कोई भी व्यक्ति न तो नशे की हालत में प्रवेश करेगा और न ही नशे का सेवन करेगा तथा मादक पदार्थ नहीं ले जायेगा। इसके अतिरिक्त उक्त अवधि में कोई भी व्यक्ति कोई ज्वलनशील वस्तु यथा मिट्टी तेल आदि लेकर प्रवेश नहीं करेगा जब तक निर्वाचन कार्य हेतु आवश्यक समझे जाने पर निर्वाचन अधिकारी/खण्ड विकास अधिकारी व्दारा अनुमति न दे दी जाए।
26- मतगणना के दिनांक को मतगणना की समाप्ति तक संबन्धित मतगणना परिसर के 200 मीटर परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति शस्त्र या विस्फोटक सामग्री लेकर प्रवेष नहीं करेगा व निर्धारित अवधि में उपरोक्त परिसर के सीमान्तर्गत किसी भी ऐसे ध्वनि विस्तारक यन्त्र यथा रेडियो, ट्रान्जिस्टर, लाउडस्पीकर आदि का प्रयोग नहीं करेगा, जिससे निर्वाचन कार्य में व्यवधान पैदा हो या पैदा होने की संभावना हो।
27- मतगणना के दिनांक को मतगणना की समाप्ति तक सम्बन्धित मतगणना परिसर की 200 मीटर परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति निर्वाचन कार्य में लगे अधिकारी/कर्मचारी को छोड़कर किसी भी पशुचालित /यन्त्रचालित वाहन से प्रवेश नहीं करेगा।
28- कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियो का समूह किसी भी व्यक्ति/राहगीर/वाहनो से जबरन चन्दा वसूल नही करेगा ।
29- कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियो का समूह परम्परागत रीति से मनाये जाने वाले आयोजनो के अतिरिक्त अन्य स्थानो पर बिना पूर्वानुमति के धार्मिक जुलूस, विजय जुलूस नही निकालेगा अथवा न ही पूर्व से चले आ रहे जुलूस के रूप को परिवर्तित करेगा, तथा उक्त कार्यक्रमो का अयोजन किसी ऐसे स्थान पर नही करेगा, जिससे सार्वजनिक आवागमन/यातायात बाधित होता हो, या बाधित होने की सम्भावना हो।
30-  कोई भी आयोजन ऐसे बन्द स्थान पर नही किया जायेगा जिसमे एकत्रित समुदाय/व्यक्तियो के आने जाने के लिये समुचित प्रवेश/निकास के रास्ते न हो।
31-  कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियो का समूह तेजाव/पेय पदार्थो की बोतले जिन्हे हिलाकर तोड़ने से अथवा किसी व्यक्ति पर फेकने से चोट लग सकती हो, को निर्दिश्ट स्थान/दुकान के अतिरिक्त न तो इक्ठ्ठा करेगा और न हीे करायेगा।
32-  कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियो का समूह जनपद सीमान्तर्गत विना सक्षम अधिकारी के पूर्वानुमति के सभा /पंचायत/जुलूस/घरना/प्रदर्शन आदि का आयोजन नही करेगा औेर न ही उसमें भाग लेगा। जुलूस के आयोजन हेतु अनुमति कम से कम 48 घण्टे पूर्व सम्बन्धित उप जिला मजिस्ट्रेट से प्राप्त करना अनिवार्य होगा।

उपरोक्त आदेश जनपद जौनपुर ंकी सीमा मे निवास करने वाले तथा प्रवेश करने वाले व्यक्तियों पर आदेश पारित होने के दिनांक से दिनांक 10.12.2017 तक प्रभावी रहेगा। उपर्युक्त आदेश तुरन्त प्रभावी किया जाना आवश्यक है तथा सभी पक्षों को सुना जाना संभव नहीं है। अतएव उक्त आदेश एकपक्षीय रूप से पारित किया जाता है।
 उक्त आदेश या आदेश के किसी अंश का उल्लंघन भारतीय दंण्ड विधान संहिता की धारा 188 के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध होगा। उक्त आदेश आज दिनांक 07.11.2017 को मेरे हस्ताक्षर एवं न्यायालय के मुद्रा के अधीन किया गया।  

No comments:

Post a Comment