menubar

breaking news

Friday, October 6, 2017

छात्रावास के निर्माण हेतु इच्छुक संस्थाएं एक सप्ताह के अन्दर अपना प्रस्ताव कराएं उपलब्ध - जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी

VPIS
जौनपुर। जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य ने बताया कि पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के माध्यम से संचालित छात्रावास निर्माण योजना के अन्तर्गत अन्य पिछड़े वर्ग के छात्र/छात्राओं के लिए वर्श 2017-18 में छात्रावास निर्माण की आवश्यकता को दृश्टिगत रखते हुए प्राथमिकता के आधार पर जनपद जौनपुर की राजकीय शैक्षणिक संस्थाओं यथा- इंजीनियरिंग कालेजों एवं मेडिकल कालेजों को प्राथमिकता देते हुए पालीटेक्निक/आई0टी0आई0/महाविद्यालयों तथा इण्टर कालेजों एवं सहायता प्राप्त/ स्ववित्तपोषित कालेजों (सहायता प्राप्त एवं स्ववित्तपोषित कालेज होने की दशा में सोसायटी एक्ट से पंजीकृत होना अनिवार्य है) में छात्रावास में रहने के इच्छुक छात्र/छात्राओं की उपलब्धता एवं निर्विवाद व समतल भूमि की उपलब्धता के आधार पर छात्रावास निर्माण कराया जाना है। छात्रावास के निर्माण हेतु इच्छुक संस्थाएं विभाग द्वारा निर्धारित 20 बिन्दुओं की जांच रिपोर्ट, वांछित अभिलेखों एवं शिक्षण संस्थान/एन0जी0ओ0 द्वारा रु0 100 के स्टाम्प पेपर पर 18 बिन्दुओं के शपथ पत्र सहित भारत सरकार की नवीनतम गाईड लाईन के अनुसार अपना प्रस्ताव एक सप्ताह के अन्दर पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, विकास भवन, जौनपुर में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। इस सम्बन्ध में भारत सरकार की नवीन गाईड लाईन विभागीय वेबसाइट से प्राप्त की जा सकती है। अतः छात्रावास के निर्माण हेतु इच्छुक संस्थाएं समयान्तर्गत प्रस्ताव उपलब्ध कराना सुनिष्चित करें, जिससे प्रस्ताव निदेषालय प्रेशित करने के सम्बन्ध में आवष्यक कार्यवाही की जा सके।

No comments:

Post a Comment