menubar

breaking news

Thursday, October 26, 2017

वीबीएस पूर्वांचल विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय भारतीय विश्वविद्यालय शिक्षा पद्धति विषयक राष्ट्रीय सम्मेलन का होगा आयोजन

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में 28 से 30 अक्टूबर तक तीन दिवसीय भारतीय विश्वविद्यालय शिक्षा पद्धति विषयक राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। संगोष्ठी का उद्घाटन 28 अक्टूबर को विश्वविद्यालय परिसर के संगोष्ठी भवन में विश्वविद्यालय के कुलाधिपति एवं राज्यपाल राम नाईक करेंगे।
तीन दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन में भारतीय विश्वविद्यालयों की वर्तमान स्थिति, प्रबंधन एवं संचालन, प्रवेश प्रक्रिया, अध्ययन एवं अध्यापन की प्रक्रिया, अध्यापक छात्र संबंध, परिषदों की भूमिका, छात्र संघ एवं उसका महत्व, अनुशासन एवं शिक्षण, परीक्षा एवं मूल्यांकन, प्रशासनिक एवं गैर शैक्षणिक व्यवस्था में आवश्यक सुधार, पाठ्यक्रम में आवश्यक संशोधन एवं परिष्कार, अंतर्विषयक अध्ययन की आवश्यकता एवं भारतीय विश्वविद्यालयों का सामाजिक सरोकार एवं उत्तरदायित्व आदि विषयों पर देश के विभिन्न भागों से आए विद्वतजन चर्चा करेंगे। इसके साथ ही शिक्षक, शोधार्थी एवं विद्यार्थियों ने भी अपने शोध पत्र भेजे है।
संगोष्ठी में भाग लेने के लिए हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर कुलदीप चंद अग्निहोत्री, महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर नरेश चंद्र गौतम, बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रोफ़ेसर रमेश चंद्रा, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पूर्व कुलपति प्रोफ़ेसर केपी पांडे, सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के प्रोफेसर प्रेम नारायण सिंह, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के प्रोफेसर ओम प्रकाश सिंह, शिक्षाविद डॉ दीनानाथ सिंह, सामाजिक चिंतक एवं विचारक सुनील भराला समेत तमाम लोग मंथन करेंगे।
सम्मेलन की तैयारी के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजाराम यादव ने समिति के समन्वयकों  को आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। सम्मलेन के संयोजक डॉ अविनाश पाथर्डीकर ने बताया कि उद्घाटन सत्र में  को प्रवेश के लिए  विश्वविद्यालय द्वारा आमंत्रण पत्र प्रेषित किया गया है। आमंत्रण पत्र के साथ  अपना परिचय पत्र लाना अनिवार्य है। विश्वविद्यालय परिसर में 27 अक्टूबर से सम्मेलन हेतु प्रतिभागी अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते है।  

No comments:

Post a Comment