menubar

breaking news

Thursday, October 5, 2017

प्रमुख सचिव ने राजकीय बालिका इण्टर कालेेज मछलीशहर का किया निरीक्षण

जौनपुर। प्रमुख सचिव दुग्ध विकास विभाग उत्तर प्रदेश शासन डाॅ सुधीर एम.बोबडे़ एवं जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, ने आज प्रातः 10 बजे जिला चिकित्सालय में सीडीओ आलोक सिंह, सीएमओं डा.ओपी सिंह सीएमएस डा.एस .के पाण्डेय, डीडीओं दयाराम के साथ जिलाचिकित्सालय के विभिन्न वार्डो का निरीक्षण किया तथा मरीजों से अस्पताल से मिलने वाली सुविधाओं के बारें में जानकारी प्राप्त किया। स्टोर रूम की जांच में पता चला कि एक वर्ष से दवा, सुई की जांच नही की गयी है। प्रमुख सचिव ने जिलाधिकारी को हर माह ड्रग इन्सपेक्टर से जांच कराने का निर्देश दिया। 
प्रमुख सचिव ने इसके बाद जलकल में पानी की टंकी तथा शहर में पेय जल आपूर्ति में बिना बिलिचिंग के पानी सप्लाई करने की जानकारी होने पर नाराजगी व्यक्त किया। तथा अवर अभियंता सुरेन्द्र प्रताप यादव के विरूद्ध कार्यवाही करने का निर्देश दिया। प्रमुख सचिव ने जिलाधिकारी को नगर मजिस्ट्रेट द्वारा जांच कराने का भी निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने मौके पर उपस्थित अधि.अभि जलनिगम को ग्रामीण क्षेत्रों में भी जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। प्रमुख सचिव ने बताया कि विदेशी नागरिक यहां का जल पीते ही बीमार हो जाते है। 
प्रमुख सचिव दुग्ध विकास विभाग उत्तर प्रदेश शासन डाॅ सुधीर एम.बोबडे़ एवं जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, ने आज प्रातः 12 बजे सीडीओ आलोक सिंह, डीडीओं दयाराम के साथ मछलीशहर विकासखण्ड के प्राथमिक विद्यालय रामपुर सहिजद में चैपाल लगाकर शासन की कल्याणकारी योंजनाओं की जमीनी हकीकत की जानकारी प्राप्त किया। विधव पेशंन में पात्र लाभार्थी को सुविधा न उपलब्ध कराने पर एडीओ समाज कल्याण को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश जिलाधिकारी को दिया। इसी प्रकार कई वर्षो से मृतक की अविवादित वरासत न करने के कारण लेखपाल को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश  उपजिलाधिकारी विमल कुमार दूबे को को दिया। विद्युतीकरण के बारे में जानकारी गांव के सभी पुरवों के लोंगों से लिया। ग्रामीणों ने बताया कि मात्र 4 घंटे विद्युत आती है वह भी लो वोल्टेज के कारण मोटर आदि नही चल पाते है। एसडीओ विद्युत ने बताया कि इस गांव में 107 वैध कनेक्शनधारी है। ओडीएफ एवं स्वच्छ शौचालय के बारें में शीघ्र कार्यवाही करने का निर्देश दिया। 
इसी प्रकार आवास, विद्यालय, छात्रों की उपस्थिति मध्यान्ह भोजन, कृत्रिम गर्भाद्यान आदि योजनाओं की जानकारी प्राप्त किया। प्रमुख सचिव ने बताया कि मुसहरों को आवास, शिक्षा एवं स्वास्थ्य की व्यवस्था करायी जाय इसके लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री का विशेष प्रयास है। इस अवसर पर सीडीओं आलोक सिंह, डीडीओं दयाराम, उपायुक्त मनरेगा कमलेश सोनी, डीएसओं अजय प्रताप सिंह, बीएसए डा. राजेन्द्र सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी विपिन कुमार यादव, अधि. अभि, सिचाई एसके सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. विरेन्द्र सिंह, उपजिलाधिकारी विमल कुमार दुबे, पुलिस क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय,  बीडीओे मिनाक्षी, तहसीलदार संतोष कुमार आदि उपस्थित रहें।  
प्रमुख सचिव ने 50 लाख रू से अधिक लागत से बने राजकीय बालिका इण्टर कालेेज मछलीशहर का निरीक्षण किया। निरीक्षण में कार्यदायी सस्था राजकीय निर्माण निगम को एक माह में निर्माण कार्य पूर्ण कराने के साथ ही तृतीय पार्टी से तकनीकी कमेटी द्वारा जांच कराकर सभी मानक पूर्ण करते हुए जिला विद्यालय उमेश कुमार शुक्ल को हस्तान्तरित करने का निर्देश दिया।  इस अवसर पर सीडीओं आलोक सिंह, डीडीओं दयाराम, उपायुक्त मनरेगा कमलेश सोनी, डीएसओं अजय प्रताप सिंह, बीएसए डा. राजेन्द्र सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी विपिन कुमार यादव, अधि. अभि, सिचाई एसके सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. विरेन्द्र सिंह, उपजिलाधिकारी विमल कुमार दुबे, पुलिस क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय,  बीडीओे मिनाक्षी, तहसीलदार संतोष कुमार आदि उपस्थित रहें। 

No comments:

Post a Comment