menubar

breaking news

Monday, October 9, 2017

गोधरा कांड के 11 दोषियों की फांसी की सजा बदली उम्रकैद में

VPISनई दिल्ली। गुजरात हाई कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए गोधरा ट्रेन अग्निकांड मामले में 11 दोषियों की सजा फांसी से उम्रकैद में बदलने की खबर प्रकाश में है। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट ने रेलवे और सरकार को आदेश देते हुए कहा कि वह गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस में जान गंवाने वाले सभी लोगों को 10 लाख रुपये 6 हफ्ते के अंदर दे।
सूत्रों की माने तो गोधरा ट्रेन अग्निकांड मामले में 31 लोगों को दोषी पाया था और 63 को बरी कर दिया था। अदालत ने दोषी पाए गए लोगों में से 11 लोगों को फांसी और 20 लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। एसआईटी कोर्ट के फैसले को दोषियों ने हाईकोर्ट में चुनौती दी थी जिससे दोषी ठहराए गए 11 लोगों का कहना था कि उन्हें न्याय नहीं मिला है। अब हाईकोर्ट के फैसले के बाद सभी 31 दोषियों को उम्रकैद की सजा काटनी होगी। 
मालूम हो की साबरमती एक्सप्रेस के एस-6 कोच में 27 फरवरी 2002 को गोधरा स्टेशन पर आग लगा दी गई थी जिसमें 59 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद पूरे गुजरात में दंगे भड़क गए थे। गोधरा ट्रेन अग्निकांड में मारे गए अधिकतर लोग कार सेवक थे जो अयोध्या से लौट रहे थे।

No comments:

Post a Comment