menubar

breaking news

Sunday, September 24, 2017

बीएचयू में छात्र-छात्राओं पर हुआ लाठी चार्ज, छात्रों में आक्रोश

Photo Creadit: Insight BHUवाराणसी। बीएचयू में छेड़खानी के विरोध में धरना दे रहे छात्र-छात्राओं को पीएसी के जवानों लाठी चार्ज करने का मामला प्रकाश में आया है, साथ ही आंसू गैस के गोले दागे और और 18 राउंड हवाई फायरिंग भी की। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने घटना को कवर करने गए पत्रकारों को भी दौड़ा दौड़ा कर पिटा। छात्रा के साथ छेड़खानी के विरोध में दो दिन से चल रहे धरना-प्रदर्शन के बाद शनिवार की देर रात वीसी आवास पर प्रदर्शन करने पहुंचे छात्रों पर सुरक्षा गार्डों और पुलिस ने लंकागेट, महिला महाविद्यालय के सामने लाठीचार्ज कर दिया, इसमें आधा दर्जन छात्रों को चोटें आईं। इसके बाद छात्रों का गुस्सा बेकाबू हो गया। लाठीचार्ज के जवाब में छात्रों ने पथराव शुरू कर दिया। इससे कुछ सुरक्षा गार्ड भी घायल हो गए। रात 12.15 पर हॉस्टल से ताबड़तोड़ आठ पेट्रोल बम फेंके गए। हॉस्पिटल में घुसकर पथराव किया, इससे मरीजों-तीमारदारों में भगदड़ मच गई। लंका चौराहे पर पुलिस कर्मियों को छात्रों ने दौड़ाया। सिंहद्वार के बाहर खड़ी मोटरसाइकिलों को आग लगा दी, पुलिस बूथ उखाड़ दिया। 
सूत्रों के मुताबिक 23 थानों की फोर्स, एक दर्जन बज्र वाहन और पांच कंपनी पीएसी परिसर में बुला ली गई। पूरी घटना में बीएचयू प्रशासन की घोर लापरवाही मानी जा रही है। उधर, तनाव को देखते हुए विश्वविद्यालय में 2 अक्तूबर तक के लिए अवकाश कर दिया।छात्रों के उपद्रव के दौरान डीएम योगेश्वर राम मिश्र, एसओ लोहता समेत तीन पुलिसकर्मी, बीएचयू के तीन सुरक्षागार्ड, सात छात्र और कुछ पत्रकार घायल हुए।
पास के हॉस्टलों से छात्र सड़क पर आ गए और विरोध शुरू कर दिया। एलबीएस हॉस्टल से लेकर रुईया हॉस्टल तक का सड़क पूरा छात्रों से पैक हो गया। छात्र इतने आक्रोशित थे कि पहले वहां लगे पीएम मोदी के होर्डिंग्स में आग लगाई फिर वहां गए एक सुरक्षा कर्मी की स्कूटी में आग लगा दी।

No comments:

Post a Comment