menubar

breaking news

Saturday, September 2, 2017

डीजी टेक्निकल ने यूपी विधानसभा में मिले संदिग्‍ध पाउडर की जांच मामले में एफएसएल निदेशक को किया निलंबित

लखनऊ। यूपी विधानसभा में मिले संदिग्‍ध पाउडर की जांच मामले में डीजी टेक्निकल ने एफएसएल के निदेशक को निलंबित कर दिया है।
सूत्रों के अनुसार डीजी टेक्निकल महेंद्र मोदी ने जांच में पाया कि निदेशक श्याम बिहारी उपाध्याय ने मार्च 2016 में एक्सपायर हो चुकी किट से संदिग्‍ध पाउडर की जांच की और गलत जानकारी उपलब्‍ध कराई, जिसके आधार पर ही सीएम योगी ने विधानसभा में संदिग्‍ध पाउडर को पीईटीएन बताया था और जांच एनआईए को सौंप दी थी।
महेंद्र मोदी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि निदेशक को फॉरेंसिक जांच के बगैर इस तरह की जानकारी नहीं देनी चाहिए थी। साथ ही एसएफएल के निदेशक को भ्रामक जानकारी फैलाने का भी दोषी पाया है। उन्होंने निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही की संस्तुति भी की है।
मालूम हो कि आगरा की लैब में हुई जांच में संदिग्ध पदार्थ के पीईटीएन साबित न होने से विवाद पैदा हो गया था।

No comments:

Post a Comment