menubar

breaking news

Saturday, September 16, 2017

डीएम, एसपी ने प्राथमिक विद्यालय व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का किया आकस्मिक निरीक्षण

पांच अध्यापकों का वेतन रोकने का दिया आदेश 
जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक शेलेष कुमार पाण्डेय ने आज प्राथमिक विद्यालय कुरनी समाधगंज का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कक्षा एक से पांच तक के नामांकित 210 छात्रों में से 143 बच्चे उपस्थित पाये गये। विद्यालय में सहायक अध्यापक, शिक्षामित्र सहित 6 अध्यापक है। जिलाधिकारी कक्षा पांच के छात्र से 17 का पहाड़ा सुना तथा पुलिस अधीक्षक ने एक छात्रा से 19 का पहाड़ा सुना इसके साथ ही जिलाधिकारी ने एक छात्रा से किताब पढ़ने को कहा, लेकिन वह नही पढ़ सकीे। इस पर जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य रामदेव तिवारी को फटकार लगाई। एक शिक्षिका को कुर्सी पर पैर रखकर बैठने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त किया तथा हिदायत दी कि भविष्य में ऐसी पुनरावृत्ति न हो। उन्होंने विद्यालय की अध्यापिका श्रीमती श्यामिनी सिंह, मनभावती, रीना सिंह, मीरा सिंह एवं दीपक मिश्रा का अगले दो माह तक का वेतन रोकने का निर्देश निरीक्षण पंजिका पर दिया। अध्यापन कार्य ठीक होने पर ही वेतन आहरित किया जायेगा। इसके साथ ही प्रधानाचार्य को एक माह में सुधार लाने का निर्देश दिया अन्यथा स्क्रीनिंग कराकर सेवा से मुक्त कर दिया जायेगा। उन्होंने विद्यालय परिसर में साफ-सफाई एवं पठन-पाठन के कार्यों में मन लगाकर कार्य करने की हिदायत दी। 
इसके पश्चात जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने थाना सुजानगंज का निरीक्षण किया तथा समाधान दिवस पर आये हुए फरियादियों की समस्याओं को सुना तथा उपस्थित उप जिलाधिकारी तथा थानाध्यक्ष को मौके पर जाकर समस्याओं का त्वरित निदान किये जाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने हल्के के उपस्थित लेखपाल एवं कानूनगो को निर्देशित किया कि वे गांव की राजनीति में न पड़े गांव की जमीन भू-माफियाओं, गुण्डों आदि से मुक्त करायें। सुजानगंज थाने के अन्तर्गत 198 गांव है जिसमें यह चिन्हित कर ले कि किन-किन स्थानों पर कौन-कौन व्यक्ति विवाद की जड़ है। उन्होंने उप जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि वे स्वयं मौके पर जाकर निरीक्षण करने के उपरान्त निर्णय दें। 
यदि इसमें बाधा आती है तो मेरे संज्ञान में लाया जाय। थाना दिवस में सड़क, नाली, खड़ंजा, ग्रामसभा की जमीन पर कब्जा आदि केे शिकायती प्रकरण प्राप्त हुए जिसे संबंधित कानूनगो, लेखपालों को उपलब्ध कराते हुए निर्देशित किया कि एक सप्ताह में इसका निस्तारण सुनिश्चित करायें।
इसके बाद जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सुजानगंज का आकस्मिक निरीक्षण किया तथा अंतरंग विभाग, प्रसव कक्ष, पुरूष वार्ड, महिला वार्ड, प्रयोगशाला कक्ष ,फार्मेसिस्ट कक्ष एक्सरे कक्ष, आदि का निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर एवं अन्दर काफी गन्दगी को देखते हुए प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि कार्यरत तीन नर्सो अनुराधा, सविता, प्रियंका राय का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का निर्देश दिया। प्रभारी चिकित्साधिकारी से पूछा कि चिकित्सालय की सफाई कब तक होगी उन्होंने दो दिन का समय बताया जिसपर जिलाधिकारी ने उन्हें हिदायत दी। इसके साथ ही डा0 रमेश कुमार के हाजिरी रजिस्टर पर कई दिनों के हस्ताक्षर न किये जाने तथा उस पर इमरजेन्सी ड्यूटी लिखे जाने पर जिलाधिकारी ने आपत्ति जताई तथा मुख्य चिकित्साधिकारी को उनका वेतना रोकने का निर्देश दिया।  
इसके बाद जिलाधिकासरी ने विकासखण्ड सुजानगंज का निरीक्षण किया तथा साफ-सफाई, पत्रावलियों एवं पंजिकाओं का रखरखाव सही ढंग से रखने का निर्देश दिया।  वरिष्ठ सहायक को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश दिया। इसके साथ ही ओडीएफ कार्य को समयावधि में पूरा करने का निर्देश दिया। 

No comments:

Post a Comment