menubar

breaking news

Friday, September 1, 2017

थानाध्यक्ष जफराबाद हो गया बेलगाम

बाइक चोरी की तहरीर लेने से किया इंकार 
एसपी सिटी ने चोरी गयी बाइक को बरामद करने का दिया आदेश
जौनपुर। प्रदेश की योगी सरकार के लाख कोशिशों के बाद, पुलिस के कुछेक नकारे अधिकारी/कर्मचारी हम नहीं सुधरेंगे की तर्ज पर चल रहे हैं। 
पूरा वाकया जफराबाद थाना क्षेत्र से जुड़ा है। इसी थाना क्षेत्र के मोथहां गाँव निवासी दिलीप कुमार पुत्र बादू निषाद, जफराबाद स्टेशन के बाहर अपनी बाइक सं० - यू० पी० - 62/AS -1458 खड़ी कर अपने पिता को ट्रेन पर बैठाकर वह बाहर आया तो गाड़ी गायब मिली।
बिना विलम्ब किये पीड़ित व्यक्ति ने गाड़ी गायब होने की सूचना देने जफराबाद थाने पर गया तो थानाध्यक्ष ने यह कहकर तहरीर लेने से मना कर दिया कि घटनास्थल उनके क्षेत्र में नहीं है, वह जी० आर० पी० क्षेत्र में आता है।
कमोवेश यही स्थिति जी० आर० पी० थाने पर भी हुई, वहां भी पीड़ित को बताया गया कि जफराबाद थाना क्षेत्र का मामला है। सीमा विवाद के चक्कर में दोनों थाने की पुलिस ने बाइक चोर को गायब होने का अच्छा मौका दिया।
दोनों थानों के जिम्मेदारों ने यदि ज़रा सा भी अपने दायित्वों के प्रति संवेदनशीलता दिखाई होती तो हो सकता है कि पीड़ित की बाइक बरामद हो जाती।
क्या पुलिस वालों ने यह भी जरूरी नहीं समझा कि चोरी गयी बाइक के नंबर को जरिये वायरलेस जनपद पुलिस कंट्रोलरूम को अवगत करा देती ?
फिलहाल एसपी सिटी के हस्तक्षेप से पुलिस ने बाइक चोरी की तहरीर तो ले लिया है, लेकिन पीड़ित को प्राथमिकी दर्ज करने की प्रतिलिपि लेने को कल आने को बोल दिया है।
जिला पुलिस प्रमुख शैलेश पाण्डेय को जनहित में, ऐसे नकारा पुलिस के जिम्मेदारी के विरुद्ध जांचकर उसके विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही करनी चाहिए, ताकि शासन/सत्ता के प्रति जनता में एक अच्छा सन्देश जाय। 

No comments:

Post a Comment