menubar

breaking news

Friday, September 22, 2017

वाराणसी में पीएम मोदी ने की सीएम योगी की तारीफ, कहा - हर समस्‍या का समाधान सिर्फ विकास में है

Image result for images of pm modi in varanasi
वाराणसी। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिवसीय दौरे के पहले दिन कई बड़ी योजनाओं का लोकार्पण किया। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल राम नाइक भी उनके साथ मौजूद थे। 
यूपी में बीजेपी की सरकार बनने के बाद पीएम मोदी की यह पहली वाराणसी यात्रा है। पीएम बनने के बाद मोदी 11वीं बार वाराणसी पहुंचे हैं। पीएम मोदी की आगवानी एयरपोर्ट पर राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम की आगवानी की।
दो दिनी दौरे पर शुक्रवार को वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबतपुर एयरपोर्ट से सीधे बड़ालालपुर आये। यहां उन्होंने ट्रेड फैसिलिटी सेंटर (पंडित दीनदयाल हस्तकला संकुल) का उद्घाटन कर इसे देश को समर्पित किया। 
यहाँ जनसभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने ट्रेड फैसिलिटी सेंटर की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह दिन बदलने वाला साबित होगा। हम ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो खुद शिलान्यास भी करते हैं और खुद ही उसका लोकार्पण भी। पहले बुनकर कहते थे कि हम काम छोड़ना चाहते हैं लेकिन अब उनकी सोच बदलेगी। पूर्व की सरकारों को निशाने पर लेते हुए कहा कि पहले की सरकारों को विकास से नफरत थी, वो केवल झोली भरना चाहते थे।
पीएम मोदी ने कहा कि भारत विकास के पथ पर अग्रसर है। हम ‌मध्यम परिवार और गरीब दोनों को केंद्र में रखकर चल रहे हैं। समाज के हर वर्ग को सशक्‍त करने के उद्देश्‍य से हम योजनाएं बना रहे हैं। इसका लाभ दिख रहा है, भविष्य में यह और बेहतर होगा।
पीएम ने कहा कि कई फैसले पूरी हिम्मत से लिए जा रहे हैं और इसका परिणाम नजर आ रहा है, भारत तेजी से बदल रहा है। जैसा विकास पश्चिम भारत में हुआ है वैसा ‌ही विकास पूर्व भारत में भी करना है। पूर्वी भारत को भी बदलना है।
उन्होंने कहा कि हर समस्‍या का समाधान सिर्फ विकास में ही है। पीएम ने योगी आदित्यनाथ तारीफ करते हुए कहा कि छह माह में इतना विकास किया। छह महीने से कम समय में योगी आदित्यनाथ ने यूपी में कमाल कर के दिखाया है। पीएम ने योगी आदित्यनाथ को शुभकामनाएं देते हुए अपना भाषण समाप्त किया। 
इस अवसर पर उनके साथ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाइक और केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment