menubar

breaking news

Tuesday, September 19, 2017

डीएम ने खण्ड विकास अधिकारियों को कार्य में प्रगति न लाने पर कठोर कार्रवाई करने की दी चेतावनी

जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र की अध्यक्षता में आज केराकत में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया जिसमें 228 व्यक्तियों ने अपना प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया जिसमें मौके पर 8 का निस्तारण किया गया, शेष शिकायतों को तीन दिन के भीतर निस्तारित करने के लिए संबंधित अधिकारियों को सौंपा गया। जिलाधिकारी ने राजस्व एवं पुलिस की टीम के साथ मौके पर जाकर शिकायतों का निस्तारण कराने का निर्देश दिया। तहसील दिवस में विभागीय अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा किया।
जिलाधिकारी ने ओडीएफ की समीक्षा किया तथा डीपीआरओ सुधीर कुमार श्रीवास्तव को अपेक्षित प्रगति न लाने पर चेतावनी तथा प्रगति लक्ष्य के सापेक्ष न करने पर एडीओ पंचायत को निलंबित करने की चेतावनी दी। साथ ही खण्ड विकास अधिकारियों को भी कार्य में प्रगति न लाने पर कठोर कार्रवाई करने की चेतावनी दिया।  जिला पूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह को उदयचन्दपुर ग्राम में आपूर्ति निरीक्षक को भेजकर राशनकार्ड घर-घर जाॅचकर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। तहसील दिवस में अधि0अभि0 लो.नि.वि. विपिन कुमार राय के अनुपस्थित रहने तथा उनके प्रतिनिधि नेबताया कि मुख्य अभियन्ता आजमगढ़ की बैठक में गये हुए हैं। जिलाधिकारी ने विना अनुमति के जाने एवं तहसील दिवस में अनुपस्थित रहने के लिए स्पष्टीकरण मांगने का निर्देश दिया।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ओ.पी.सिंह के निर्देशन में तीन व्यक्तियों का बिकलांग प्रमाण पत्र बनाया गया। जिलाधिकारी ने विद्युत एवं सिचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा किया। सहायक अभियंता विद्युत एवं सहायक अभियंता सिचाई द्वारा डेढ़ माह से नलकूप के 23 ट्रांसफार्मर खराब होने की जानकारी के बारे में विरोधाभास एवं गलत सूचना देने के लिए अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का निर्देश दिया। उप जिलाधिकारी प्रत्येक शुक्रवार को प्रातः 10 बजे सिचाई एवं विद्युत की समीक्षा कर प्रगति रिपोर्ट जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करने का निर्देश दिया।जिलाधिकारी ने सहायक अभियंता का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने तथा शिकायतों की जाॅच  एक सप्ताह में करके रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।
खण्ड विकास अधिकारी केराकत, मुफ्तीगंज, डोभी, जलालपुर को विकास कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक शैलेष कुमार पाण्डेय ने अधिकारियों से अपेक्षा किया कि किसी कर्मचारी के साथ मारपीट की घटना की रिपोर्ट जाॅच पड़ताल कराकर ही करायें।
इस अवसर पर सीएमओ डा0 ओ.पी. सिंह, पीडी पी.के.राय, डीडीओ दयाराम, सहायक अभि. लघु सिचाई उमाकान्त तिवारी, उप जिलाधिकारी जगदम्बा सिंह सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment