menubar

breaking news

Sunday, September 24, 2017

बीएचयू कैंपस में लाठी चार्ज मामले में यूनिवर्सिटी के वीसी ने शाम 5 बजे तक हॉस्टल्स खाली करने का दिया आदेश

BHU में हिंसक हो रहा प्रदर्शन, वीसी ने शाम 5 बजे तक छात्रावास ख़ाली कराने का दिया आदेशसीएम योगी ने बीएचयू कैंपस में लाठी चार्ज मामले में अफसरों से मांगी रिपोर्ट, 
कुछ अधिकारियों के ख़िलाफ़ हो सकती है बड़ी कार्रवाई
वाराणसी। बीएचयू कैंपस में छात्रा के साथ छेड़खानी मामले में चल रहा प्रदर्शन अब उग्र रूप लेता जा रहा है। रविवार दोपहर अचानक BHU परिसर का माहौल फिर से गर्म हो गया। यूनिवर्सिटी के वीसी जीसी त्रिपाठी ने शाम 5 बजे तक सभी छात्रों से हॉस्टल्स खाली करने का आदेश दिया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर 12 बजे ब्रोचा छात्रावास के सामने से गुजर रहे ट्रैक्टर में आग लगा दी गई, वहीं एलडी गेस्ट हाउस चौराहे पर शांति मार्च निकाल रही छात्राओं पर प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सुरक्षाकर्मियों ने लाठीचार्ज कर दिया।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने पूरे मामले में संज्ञान लेते हुए बड़े अफसरों से रिपोर्ट मांगा है। माना जा रहा है कि कुछ अधिकारियों के ख़िलाफ़ बड़ी कार्रवाई भी हो सकती है।
मालूम हो कि शनिवार रात बीएचयू कैंपस में छात्रा के साथ छेड़खानी मामले में पिछले दो दिनों से चल रहा प्रदर्शन काफी हिंसक हो गया। दरअसल रात के तकरीबन 10 बजे प्रदर्शन कर रहे छात्र कुलपति (वीसी) जीसी त्रिपाठी के घर के बाहर पहुंच गए, जिसके बाद वीसी आवास पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने छात्रों पर लाठी से हमला कर दिया। सुरक्षाकर्मियों द्वारा किए गए इस लाठीचार्ज में कई छात्र घायल हो गए। जिसके बाद प्रदर्शनकारी छात्र उग्र हो गए और सुरक्षकर्मियों पर पत्थर फेकना शुरू कर दिया। पत्थरबाजी के दौरान कई सुरक्षागार्ड भी घायल हो गए।
बता दें कि रात के करीब 12 बजे बीएचयू हॉस्टल से कई पेट्रोल बम भी फेंके गए हैं। बवाल और आगजनी बढ़ता देख यूनिवर्सिटी को 2 अक्टूबर तक के लिए बंद कर दिया गया है।
सोशल मीडिया पर विश्वविद्यालय परिसर में अराजक तत्वों द्वारा बमबाजी की भी खबर आ रही है। इस घटना में घायल 1 छात्रा और 3 छात्रों को बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। इनमें एक पुलिस का जवान भी शामिल है।
मालूम हो कि गुरुवार को विश्वविद्यालय परिसर में एक छात्रा के साथ दो बाइक सवारों ने छेड़खानी की थी जिसके बाद से ही छात्राओं में इस घटना को लेकर आक्रोश है। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के लिए छात्राएं शुक्रवार सुबह 6 बजे से ही बीएचयू के मेन गेट पर तीव्र विरोध प्रदर्शन कर रहीं थी।

No comments:

Post a Comment