menubar

breaking news

Thursday, August 10, 2017

डीएम, एसपी ने रहस्यमय ढंग से चोटी कटने के प्रकरण की कराई जांच

जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने जिले में रहस्यमय ढंग से चोटी कटने के प्रकरण की जाॅच उपजिलाधिकारी मड़ियाहूं अयोध्या प्रसाद एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी रामभवन यादव को करने का निर्देश दिया जिसमे संयुक्त जांच में कुमारी सुनीता पुत्री स्व0 फूलचन्द गौतम निवासी गहली थाना बरसठी जौनपुर का बयान लिया गया तो उसने बताया कि 6 अगस्त को प्रातः लगभग 4 बजे अपनी माँ के साथ शौंच करने बाहर गयी थी, शौंच के बाद हम घर पर आये कमरे में पलंग के पास जैसे ही पहुंची की एक हड्डी जैसा हाथ दिखाई दिया और ऐसा लगा कि विस्तर पर उठाकर फेक दिया लेकिन कोई दिखाई नही दिया। इसके बाद मैं बेहोस हो गयी, गिरने की आवाज सुनकर मेरी माँ कमरे में आयी मैं बेहोश थी।मुझे अस्पताल ले गयी वहां पर मुझे होश आया। 
लड़की सुनीता द्वारा बताया गया कि उसके सिर के दाहिने तरफ के बाल का अंतिम भाग थोड़ा सा कटा हुआ महसूस हुआ। लड़की ने अपने बयान में यह भी बताया कि 7 अगस्त को सायं लगभग 5 से 6 बजे के बीच वो बेहोश हो गई थी जिसे अस्पताल लाया गया वहां पर होश आया। लड़की की माँ का बयान लिया गया जिसमें बताया कि मैं भी लड़की के पास मे ही थी उपरोक्त घटना बयान किया। 
समाचार मिलने के बाद फारेंसिक टीम मौके पर गयी थी जाॅंच के लिए नमूना लेकर गयी है देखने से या लोगो से पूछताछ बयान से बाल काटना मानवकृत नही है। इस सम्बन्ध में कोई रिपोर्ट /शिकायत किसी के द्वारा नही की गई है। इससे स्पष्ट है कि बाल काटना मानवीय घटना नही है, मात्र भ्रम सा प्रतीत होता है। 
जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि अफवाह फैलाने वाले के विरूद्व कार्यवाही के लिए संबन्धित उपजिलाधिकारी एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी के मोंबाइल नम्बर पर  शिकायत कर सकते है।

No comments:

Post a Comment