menubar

breaking news

Sunday, August 6, 2017

जौनपुर में सैम्पलिंग करने गयी खाद्य सुरक्षा टीम पर लगा चोरी का आरोप

जौनपुर। जिले के खाद्य सुरक्षा विभाग की दुकानों की सैम्पलिंग के तरीके पर दुकानदार ने सवालिया निशान उठाते हुए चोरी का आरोप लगाया। 
खबर है कि खाद्य और सुरक्षा विभाग की एक टीम एक दूकान पर आकस्मिक छापेमारी कर दूकान में रखी हींग की एक डिब्बी बैग में रख लिया जिसकी हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी और दुकानदार ने अधिकारी पर चोरी का आरोप लगाया। 
खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को जब यह खबर लगी कि उनकी हरकते सीसीटीवी में कैद हो गयी है, तो आवेश में आकर पुनः आरोपी सम्बंधित दूकान पर पूरी टीम के साथ दबिश दी और दुर्भावना से ग्रसित होकर दूकान के कई सामानों की सैम्पलिंग ली। 
पीड़ित दुकानदार ने जिम्मेदार अधिकारियों को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है। दोबारा सैम्पलिंग करने गयी खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम पर आरोप तो यह भी है कि वे दूकानदार से सुविधा शुल्क के साथ चोरी की वीडियो क्लिप मांग रहे थे। 
यह पूरा मामला जौनपुर के सिटी कोतवाली क्षेत्र के गल्ला मंडी में स्थित एक प्रतिष्ठित फर्म की है, जो चावल का व्यवसाई है।
यह पूरा घटनाक्रम 31 जुलाई का है। इस पूरे घटनाक्रम की हकीकत जब मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी से चाही गयी तो उनका पक्ष था कि जब भी किसी दुकान में किसी सामान की सैम्पलिंग की जाती है तब दुकानदार के सामने नमूने को सील किया जाता है। जिसे टीम अपने साथ लाती है और जांच हेतु प्रदेश मुख्यालय स्थित प्रयोगशाला में भेज दिया जाता है। 
जब मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी को यह बताया गया कि उनके ही मातहत व उनके साथ गये एक युवक जो हींग की डिब्बी उठा कर बैग में ले गया सीसीटीवी कैमरे में कैद है, तो उन्होंने कहा कि अगर दुकानदार कोई शिकायत मुझे या जिलाधिकारी महोदय को लिखित शिकायत करता है तो जांच कर दोषी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। 
अब यह सवाल उठता है कि अगर दुकानदार का आरोप गलत है तो सम्बंधित अधिकारी पर जो हींग के डिब्बे को बैग में रखते हुए सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है क्या सैम्पलिंग लेने का यह भी एक तरीका है ???
फिलहाल पूरे मामले की हकीकत तो जांच के बाद ही सामने आएगी। 

No comments:

Post a Comment