menubar

breaking news

Thursday, August 17, 2017

सड़क पर ईद की नमाज पर रोक नहीं तो थानों में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाने पर कैसी रोक - सीएम योगी

Image result for images of cm yogi
कानून के दायरे में रहेंगे तो कोई नहीं रोकेगा, टकराव तो कानून का उल्लंघन करने पर होता है
लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने केजीएमयू के साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में एक पत्रिका का लोकार्पण करते हुए पूर्ववर्ती सपा सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि सड़क पर ईद की नमाज नहीं रोक सकते तो थानों, पुलिस लाइन में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाने पर रोक लगाने का हक नहीं है। 
सूत्रों के अनुसार यदुवंशी कहलाने वालों ने थानों पर पुलिस लाइन में जन्माष्टमी के आयोजनों पर रोक लगा दी थी।
सीएम योगी ने कांवड़ यात्रा का जिक्र करते हुए कहा कि कांवड़ यात्रा के दौरान अधिकारियों ने मुझे बताया कि डीजे और म्यूजिक सिस्टम के इस्तेमाल पर बैन है। मैंने कहा, 'यह कांवड़ यात्रा है या शव यात्रा ?
सीएम ने कहा कि बाल गंगाधर तिलक दो कारण से जाने जाते हैं। उन्होंने गणेश पूजन को सांस्कृतिक उत्सव बनाया और गीता पर टीका लिखी। इससे सामूहिक आयोजन हुए, सामूहिक ताकत का अहसास हो तो भारत से टकराने की हिम्मत किसी में नहीं है। गणेश उत्सव गावों, शहरों में मनाए जाते हैं और इससे किसी को आपत्ति नहीं है, यहां क्रिसमस मनाइये कौन रोक सकता है, नमाज पढ़िये। कानून के दायरे में रहेंगे तो कोई नहीं रोकेगा, टकराव तो कानून का उल्लंघन करने पर होता है।
साथ ही सीएम ने कहा कि अगर मैं गर्व से कहूं कि हिंदू हैं, तो लोग सांप्रदायिक बताएंगे जबकि नेपाल में पशुपतिनाथ भगवान के दर्शन करने जाए तो हिंदू बताने पर नेपाल वालों को अच्छा लगता है।
आजादी के बाद पंडित दीन दयाल कहते थे कि छात्रों को 200 वर्ष ही नहीं, उससे पहले का इतिहास भी पढ़ाया जाए। हम बल, बुद्धि, विद्या में हमेशा से अग्रणी थे लेकिन फिर भी गुलाम हुए, क्योंकि हम सामूहिक ताकत नहीं बन पाए।
समाजवादी सरकार पर पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यदुवंशी कहलाने वालों ने थानों में जन्माष्टमी मनाने पर रोक लगा दी थी, श्रीकृष्ण के नाम पर एक ही तो पर्व है। भगवान कृष्ण का कीर्तन, स्मरण करते हुए न जाने किस पर प्रभाव पड़ जाए, पुलिस की व्यवस्था में सुधार हो जाए इसलिए भव्य आयोजन के निर्देश दिए।

No comments:

Post a Comment