menubar

breaking news

Friday, August 18, 2017

छेड़खानी के विरोध को लेकर हुई हत्या के मामले में दो सगे भाइयों समेत चार आरोपी दोषी करार

जौनपुर। अपर सत्र न्यायाधीश एफटीसी द्वितीय महेंद्र सिंह की अदालत ने जनपद के जफराबाद थाना क्षेत्र के अखड़ो घाट पर छेड़खानी के विरोध को लेकर, लाठी डंडे से मारकर व गोमती नदी में डुबोकर की गई हत्या के मामले में दो सगे भाइयों समेत चार आरोपियों को हत्या के आरोप में दोष सिद्ध करार देते हुए सजा के विन्दु पर फैसला शनिवार तक टाल दिया। 
सूत्रों के मुताबिक अभियोजन कथानक के अनुसार वादी मुकदमा दिनेश कुमार मौर्य पुत्र राजाराम निवासी ग्राम जमैथा थाना जफराबाद ने मामला पंजीकृत करवाया कि 18 जून वर्ष 2015 को शाम सात बजे उसका पुत्र नवीन व प्रवीण तथा एक अन्य उमेश उसकी बहन की विदाई कराकर दो मोटरसाइकिल से आ रहे थे, अखड़ो घाट के मल्लाह जनपद बस्ती के पास अर्जुन पुत्र औहदू, धनुष व सावर चंद पुत्र गण हरिलाल तथा करिया पुत्र काशीनाथ निवासीगण धर्मापुर थाना गौरा बादशाहपुर ने उसकी पुत्री के साथ छेड़खानी करना शुरु कर दिया। विरोध करने पर आरोपियों ने लाठी डंडे से मारा पीटना शुरू कर दिया जिससे बचने के लिए उसका पुत्र प्रवीण उर्फ चंदन नदी की तरफ भागा वहाँ भी उसे मारा पीटा, जहां डूबने से उसकी मौत हो गई। 
पुलिस ने चारों आरोपियों के विरुद्ध न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया। जिसके बाद गवाहों के बयान व पत्रावली पर उपलब्ध साक्ष्य के परिशीलन के पश्चात न्यायालय ने चारों आरोपियों को हत्या के मामले में दोष सिद्ध पाया।

No comments:

Post a Comment