menubar

breaking news

Tuesday, August 22, 2017

पशुपालको के लिए पशुधन एक चलता फिरता बैंक - उपमुख्य पशुचिकित्साधिकारी

vijay pratapजौनपुर। विकासखण्ड मड़ियाहू के सभागार मेें के सभागार में सूचना विभाग द्वारा आयोजित पं.दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती वर्ष पर तीन दिवसीय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। आज कार्यक्रम की शुरूआत खण्ड विकास अधिकारी सतीश चन्द्र पाण्डेय पंडित जी के चित्र पर दीप प्रज्ज्वलित एवं माल्यर्पण करके किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए कृषि विभाग के तकनीकी सहायक व प्रभारी विषय वस्तु विशेषज्ञ डा.रमेश चन्द्र यादव ने पं0 दीन दयाल पंडित जी का बाल्यकाल ही संघर्षो के बीच बीता। माता पिता के देहान्त के बाद नाना नानी ने देखभाल किया। डा. साहब ने कहा कि पंडित जी एक समाजसेवी, राजनेता के साथ-साथ कुशल लेखक एवं पत्रकार भी थे। अपने विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बारे मंे जानकारी देते हुए बताया कि हमारे खाद्यान पूर्ण रूप से दूषित हो चूका है बीमारियों में उपयोगी दवा लेने पर भी दवा सही से काम नही कर रही है। उपस्थित लोगो को बताया कि वातावरण के साथ-साथ हमारा खाद्यान इतना दूषित है जिसका मुख्य कारण किसानों द्वारा रासायनिक खादों का अन्धाधुन्ध प्रयोग। डा. साहब ने जैविक खादों का प्रयोग कर खेती करने की सलाह दी। 
यूबीआई के वित्तीय सलाहकार साक्षरता परामर्शदाता ने पंडित जी के वक्तव्यों से लोगो को अवगत कराते हुए बताया कि पंन्डित जी गरीबों के मसीहा थे वे हमेशा अन्तयोदय की बात करते थे। बैकं की योजनाओं को बताते हुए कहा कि सरकार की मंशा है कि आजकल का लेनदेन डिजीटल हो और बैकिगं आनलाइन हो एवं बैकं द्वारा प्रदान किये जा रही किसी भी प्रकार के गुप्त कोड किसी को न बताने की सलाह दी। हो। श्री मिश्रा ने मोबाइल बैंकिंग, नेट बैंकिंग के प्रयोग पर जोर दिया। किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री फसली वीमा योजना, जीवन ज्योति योजना आदि योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। 
पशुचिकित्साधिकारी बरसठी ने पशुधन बीमा की जानकारी देते हुए लोगो से अपील किया कि पशुओ का बीमा अवश्य करा ले और पशुओं को कीडी़ की दवा अवश्य पिलाने का कहा।
चिकित्साधीक्षक सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र मड़ियाहू डा. राजीव यादव ने पंडित की के कृतित्व एवं व्यक्तित्व के संम्बध में विस्तार से चर्चा की और अपने विभाग द्वारा संचालित की जा रही जननी सुरक्षा योजना के सम्बन्ध मे विस्तार से बताया तथा टी.वी, मोतियाबिन्द के सम्बन्ध में भी बताया। 
पशुपालन विभाग के उपमुख्य पशुचिकित्साधिकारी जयेश पाण्डेय ने पंडित जी के जीवन पर प्रकाश डाला तथा पशुपालको के लिए पशुधन एक चलता फिरता बैंक है। डा. साहब ने बाह्य परजीवी से होने वाले नुकसान के बारे में बताया कि जिस जगह पशुओ को रखा जाता है उसे साफ- सुथरा रखें और कहा पशुओं को समय समय पर टीका अवश्य लगानें की सलाह दिया। 
बीडीओ सतीश चन्द्र पाण्डेय ने सभागार में उपस्थित लोगों एवं विभिन्न विभागो द्वारा लगाये गये स्टालों के माध्यम से समस्त योजनाओं की जानकारी दे रहे कर्मचारियो का स्वागत करते हुए आभार प्रकट किया। सूचना विभाग द्वारा प्रदर्शनी एवं सोनम सरोज एण्ड पार्टी द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा विभिन्न विभागो द्वारा स्टाल लगाकर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। 
इस अवसर पर संयुक्त खण्ड विकास अधिकारी राधेश्याम प्रजापति, सहायक विकास अधिकारी राजा बाबू,  एडीओ एजी विक्रमजीत , विनोद चैबे, प्रदर्शनी प्रभारी  के. के यादव, अवनीश यादव, अजीत प्रताप सिंह, अश्वनी सिंह एवं विभिन्न विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।  

No comments:

Post a Comment