menubar

breaking news

Friday, August 25, 2017

बर्ड फ्लू के टास्कफोर्स की बैठक सम्पन्न

जौनपुर। आज जिलाधिकारी सर्वज्ञराम की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय पर बर्ड फ्लू के टास्कफोर्स की बैठक सम्पन्न हुई। सर्वप्रथम मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह द्वारा पक्षियों में होने वाली वर्ड फ्लू के लक्षण के सम्बन्ध में जानकारी दी गई। इस बीमारी की रोकथाम के सम्बन्ध में किये जाने वाले उपाय के क्रम में पक्षियों के सर्विलांसके अन्तर्गत नेजल ओसोफैरेन्जियल स्वाब प्रयोशाला में नियमित प्रत्येक माह प्रेषित किया जाता है एवं कुक्कुट पालकों को समय-समय पर इस बीमारी के लक्षण के सम्बन्ध में जानकारी दी जाती है। वायो सेक्योरिटी अपना करके इस बीमारी से बचा जा सकता है। 
इस जनपद में 87 कुक्कुट प्रक्षेत्र जिनकी क्षमता एक हजार से आठ हजार तक है। इस क्रम में जिलाधिकारी  ने निर्देश दिया कि उक्त प्रक्षेत्रों का निरीक्षण दो दिवस के अन्तर्गत करा लिया जाय। दो-दो तहसीलों पर 20-25 कुक्कुट पालकों को वर्ड फ्लू के संबंध में प्रशिक्षण दिया जाय। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने आकस्मिक स्थिति से निपटने की तैयारियों के सम्बन्ध में सामाग्री की उपलब्धता के क्रम में पीपीई किट एवं स्प्रे मशीन, फेसमास्क, अन्य सामाग्री उपलब्ध होने की जानकारी दी। डिप्टी सीएमओ डा0 ए.के.श्रीवास्तव ने बताया कि जनपद स्तर पर वर्ड फ्लू से संबंधित दवाये उपलब्ध है।  वन विभाग के उप प्रभागीय निदेशक  आर.एन.मिश्रा ने बताया कि बाहर से आने वाले पक्षियों की निगरानी विभाग द्वारा सितम्बर से मार्च तक की जाती है। इस अवसर पर सी.ओ.नृपेन्द्र, डा0 आर.के.सिंह, नगरपालिका से हरिश्चन्द्र यादव, अधि0 अभि0 सिचाई, डा0 राजेश कुमार उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी मुख्यालय, डा0 के.एन.कुशवाहा, डा0 दिवाकर त्रिपाठी, डा0 आईडी भारती, डा0 संदीप अग्रवाल, सूचनाधिकारी के.के.त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment