menubar

breaking news

Wednesday, August 30, 2017

योगी सरकार ने प्रादेशिक चकबंदी अधिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष समेत तीन अधिकारियों को किया बर्खास्त, 7 जबरन रिटायर

Image result for images of cm yogi adityanathलखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार व भू-माफिया के खिलाफ जीरो टॉलरेंस के एलान का सबसे बड़ा असर चकबंदी विभाग में दिखा है। चकबंदी आयुक्त ने गंभीर आरोपों का सामना कर रहे प्रादेशिक चकबंदी अधिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष राम किशोर गुप्ता सहित तीन अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है। वहीं सात अक्षम अधिकारियों को जबरन रिटायर कर दिया गया है। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चकबंदी विभाग के अब तक 12 अधिकारियों के ऊपर कार्यवाही में हो चुकी है। कार्रवाई के दायरे में चकबंदी अधिकारी और सहायक चकबंदी अधिकारी आए हैं।
दो को पदावनत का दंड मिला है। पहले ही 50 पार के छह अफसरों को जबरन रिटायरमेंट देने, एक  चकबंदी अधिकारी को पदावनत करने का खुलासा हुआ था, इसके साथ ही कई की बर्खास्तगी का संकेत भी मिला था।
मुख्य सचिव राजीव कुमार के निर्देश पर चकबंदी आयुक्त डॉ. रजनीश दुबे की अध्यक्षता में एक से अधिक बार लघु व बृहद दंड प्राप्त, 50 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले चकबंदी अधिकारियों तथा सहायक चकबंदी अधिकारियों की स्क्रीनिंग की गई थी। 

No comments:

Post a Comment