menubar

breaking news

Sunday, July 9, 2017

चीन को पीछे छोड़कर भारत बना एशिया में सबसे तेजी से उभरती अर्थव्यवस्था वाला देश

vijay pratap
नई दिल्ली। भारत एशिया में सबसे तेजी से उभरती अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। चीन को पीछे छोड़कर कर भारत अब निवेश के लिए निवेशकों की पसंद बनकर उभरा है। ये दावा प्रतिष्ठित हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के एक शोध में किया गया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट के शोध के मुताबिक भारत विश्व के टॉप 10 बढ़ती अर्थव्यवस्था वाले देश में शुमार हो गया है। इतना ही नहीं शोध में ये भी दावा किया गया है एशियाई क्षेत्र में साल 2025 तक भारत का औसत आर्थिक विकास दर जीडीपी 7.7 फीसदी तक पहुंच जाएगा।
सूत्रों के मुताबिक वैश्विक अर्थव्यवस्था के बड़े स्तंभों में शुमार भारत के प्रति बीते कुछ सालों में निवेशकों का झुकाव चीन के मुकाबले ज्यादा बढ़ा है जो आनेवाले दशक में भी जारी रहेगा।
हॉवर्ड के शोध में केमिकल, ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे अहम और भारी क्षेत्रों में लगातार काम और इनके निर्यात को बढ़ावा देना भारतीय अर्थव्यवस्था के तेजी से बढ़ने का मुख्य कारण बताया गया है।
सूत्रों की मानें तो भारतीय अर्थव्यवस्था के बढ़ने का दूसरा कारण शोध में ये बताया गया है कि कच्चा तेल पर जिन देशों की अर्थव्यवस्था आधारित है उन देशों को लगातार नुकसान का सामना करना पड़ा रहा है। जबकि इसके विपरीत भारत, इंडोनेशिया और वियतनाम जैसे देशों की अर्थव्यवस्था तेल आधारित ना होकर अलग-अलग चीजों पर निर्भर करती है जिससे इनको आगे बढ़ने में मदद मिल रही है।

No comments:

Post a Comment