menubar

breaking news

Thursday, July 20, 2017

अविलम्ब शिक्षकों की बनवाई जाए सेवा नियमावली - रमेश सिंह

Image may contain: 1 person, closeupजौनपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की जनपदीय इकाई की बैठक अध्यक्ष नरसिंह बहादुर सिंह की अध्यक्षता में संगठन के कैम्प कार्यालय पर हुई जहां उपस्थित शिक्षकों ने विगत दिनों अपनी मांगों को लेकर लखनऊ में शान्तिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे वित्तविहीन शिक्षकों पर पुलिस द्वारा लाठीचार्ज की निन्दा किया। इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष रमेश सिंह ने शिक्षकों के सम्मानजनक मानदेय के प्रति समर्थन व्यक्त करते हुये कहा कि सरकार अविलम्ब शिक्षकों की सेवा नियमावली बनवाकर धारा 7क, क को समाप्त करायें तथा उन्हें सम्मानजनक 5 अंकों में मान दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि माध्यमिक विद्यालयों में हमारा यही शिक्षक कुल 70 प्रतिशत पठन-पाठन में शैक्षिक गुणवत्ता बनाने में भरपूर सहयोग कर रहा है। 
उन्होंने बताया कि प्रान्तीय नेतृत्व द्वारा 30 जुलाई को लखनऊ में आयोजित राज्य परिषद की बैठक में अपनी लम्बित मांगों को लेकर व्यापक रणनीति बनाया जायेगा। 
 इसी क्रम में प्रदेश मंत्री डा. राकेश सिंह, अध्यक्ष नरसिंह बहादुर सिंह, जिला मंत्री सुधाकर सिंह सहित अन्य वक्ताओं ने अपना विचार व्यक्त किया। इस अवसर पर डा. प्रमोद श्रीवास्तव, शशि प्रकाश मिश्र, डा. रणजीत सिंह, जयकिशुन यादव, चन्द्र प्रकाश दूबे, विनय ओझा, इन्द्रपाल सिंह, आजम खां, जय प्रकाश सिंह, दयाशंकर यादव, सतीश सिंह, परविन्द सिंह, प्रमोद सिंह, टीपी तिवारी, विनय सिंह, गजाधर राय, लाल साहब यादव, पारस सिंह, हसन सईद, विपिन बिहारी सिंह, राम प्रकाश सिंह, संकठा प्रसाद, तेरस यादव, अजय सिंह, संतोष सिंह, शिव प्रसाद यादव, दिलीप सिंह, सुनील सिंह के अलावा तमाम शिक्षक मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment