menubar

breaking news

Saturday, July 15, 2017

अपने दायित्वों का निर्वहन न करने वाले लेखपालों के खिलाफ की जायेगी कठोर कार्यवाही

जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने आज आकस्मिक रूप से समाधान दिवस पर थाना सुरेरी एवं रामपुर में सम्मिलित हुए। जिलाधिकारी ने एक माह के समाधान दिवस के लिए शिकायती प्रार्थना पत्रों की समीक्षा किया तथा थानाध्यक्ष दिनेश कुमार यादव को निर्देशित किया कि भूमि संबंधी विवाद को राजस्व टीम के साथ मौके पर जाकर निष्पक्षता से निस्तारण कराये। राजीव यादव लेखपाल आज समाधान दिवस पर न सुरेरी न ही रामपुर थाना पर उपस्थित मिले। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी मड़ियाहूं अयोध्या प्रसाद के रिपोर्ट के आधार पर सरकारी कार्य में रूचि न लेने, समाधान दिवस पर उपस्थित न रहने, उच्चाधिकारियों को गलत सूचना देने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंवित कर दिया। सुरेरी थाने पर अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामींण संजय राय उपस्थित रहे। अपरान्ह 1 बजे तक 15 प्रार्थना पत्र पड़े। 
इसी प्रकार रामपुर थाना समाधान दिवस पर 51 प्रार्थना पत्र पड़े। थानाध्यक्ष संतोष कुमार दीक्षित  तथा उप जिलाधिकारी द्वारा निस्तारण कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने जिले के सभी लेखपालों को सचेत किया कि ग्राम समाज की जमीन का सचिव लेखपाल होता है। अपने दायित्वों का निर्वहन न करने वाले लेखपालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को दो समाधान थाना दिवस वाले लेखपालों को रोस्टर बनाकर यह सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया कि एक समाधान दिवस पर पहले शनिवार को तथा दूसरे पर तृतीय शनिवार को उपस्थित रहे। सभी कानूनगो को निर्देशित किया कि पर्यवेक्षणीय अधिकारी होने के नाते उनका भी दायित्व है कि लेखपालों को सुनिश्चित करायें अन्यथा उनके विरूद्ध भी कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने सभी लेखपालों को प्रपत्र एक तैयारकर ग्रामसमाज की जमीन से अवैध कब्जा हटवाने का निर्देश दिया। 

No comments:

Post a Comment