menubar

breaking news

Friday, July 7, 2017

प्रमुख, क्षेत्र पंचायत के निर्वाचन में आयोग द्वारा उम्मीदवार के लिए दो लाख रुपया व्यय करने की सीमा की गयी निर्धारित

जौनपुर। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी(पं0) सर्वज्ञराम मिश्र ने बताया कि निर्वाचन आयोग, उ0प्र0 लखनऊ के पत्र सं0-247 /रा0नि0आ0अनु0-3/पं0नि0/176-15 18 जनवरी 2016 द्वारा प्रमुख क्षेत्र पंचायत उप निर्वाचन -2017 के सम्बन्घ में निर्देश प्राप्त हुए हैं क्षेत्र पंचायत के प्रमुख का पद जिस वर्ग के लिए आरक्षित है उसी वर्ग का व्यक्ति उम्मीदवार हो सकता है, किन्तु आरक्षित वर्ग का कोई व्यक्ति यदि अनारक्षित वार्ड से क्षेत्र पंचायत के सदस्य के पद पर निर्वाचित हुआ है तो वह क्षेत्र पंचायत के आरक्षित पद पर भी उम्मीदवार हो सकता है। नामांकन पत्रों का विक्रय 11 जुलाई से 14 जुलाई तक पूर्वाह्न 10.00 बजे से अपराह्न 01.00 बजे तक सम्बन्घित विकास खण्ड मुख्यालय से किया जायेगा। प्रमुख,क्षेत्र पंचायत के नाम निर्देशन पत्र का विक्रय मूल्य सामान्य वर्ग हेतु रूपया-800.00 तथा अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग/महिला हेतु रूपया-400.00 निर्धारित है। प्रमुख, क्षेत्र पंचायत के लिए जमानत राशि सामान्य वर्ग हेतु रूपया-5000.00 तथा आरक्षित वर्ग हेतु रूपया-2500.00 निर्धारित है। नाम निर्देशन पत्र पर उम्मीदवार,उसके प्रस्तावक तथा अनुमोदक के हस्ताक्षर/निशानी अंगूठा अनिवार्य है। प्रस्तावक तथा अनुमोदक का नाम उत्तर प्रदेश क्षेत्र पंचायत (प्रमुख तथा उप प्रमुख का निर्वाचन और निर्वाचन विवादों का निपटारा) नियमावली,1994 के नियम-7 के अधीन तैयार की गयी सदस्यों की सूची में सम्मिलित होना आवश्यक है। नामांकन पत्र पर उम्मीदवार तथा उसके प्रस्तावक व अनुमोदक का स्व प्रमाणित फोटोग्राफ अनिवार्य रूप से चस्पा किया जायेगा। नामांकन पत्र के साथ जमानत की निर्धारित धनराशि नकद जमा करने की रसीद या राजकीय कोषागार या भारतीय स्टेट बैंक में जमा करने का प्रमाण पत्र संलग्न करना होगा। आयोग द्वारा प्रेषित प्रारूप-ब में शपथ पत्र नामांकन पत्र के साथ देना होगा।  आरक्षित वर्ग के लिए आरक्षित स्थान पर उम्मीदवार होने की स्थिति में सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जाति प्रमाण पत्र मूलरूप में निर्वाचन अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना आवश्यक होगा। उत्तर प्रदेश क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायत अधिनियम,1961 के अधीन निर्धारित प्रारूप-1 में घोषणा पत्र नामांकन पत्र के साथ देना होगा। निर्वाचन अनुपाती प्रतिनिधित्व प्रणाली द्वारा होगा। मतदाता द्वारा मत स्वयं डाले जायेगें। प्रमुख,क्षेत्र पंचायत के निर्वाचन में मतदाताओं को मतपत्र पर अधिमान (चतममितमदबमद्ध अन्तर्राष्ट्रीय अंको (अंग्रेजी अंकों) में अंकित करना अनिवार्य है यथा 1, 2, 3..। किसी अन्य प्रकार से अधिमान अंकित करने पर मत अवैध माना जायेगा। प्रमुख, क्षेत्र पंचायत के निर्वाचन में आयोग द्वारा उम्मीदवार के लिए दो लाख रुपया व्यय करने की सीमा निर्धारित की गयी है। उम्मीदवारों को निर्वाचन व्यय का लेखा जोखा परिणाम घोषित होने के एक महीने के अन्दर निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत करना होगा।

No comments:

Post a Comment