menubar

breaking news

Friday, July 14, 2017

आधार ट्रान्जेक्शन में पूरे प्रदेश में जौनपुर को तीसरा स्थान हुआ प्राप्त

09 उचित दर विक्रेताओं का अनुबन्ध पत्र निरस्त, 3 निलंबित 
जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्र के निर्देशानुसार सार्वजनिक वितरण प्रणाली को पारदर्शी बनाने के लिए  विभिन्न तहसील/विकास खण्डों में पूर्ति निरीक्षकों द्वारा 14 जुलाई तक उपलब्ध करायी गयी निरीक्षण आख्या के अनुसार 01 उचितदर विक्रेता रतन चन्द्र ग्राम- डमरूआ, वि0ख0- सिकरारा, तहसील- सदर द्वारा मि0 तेल का काला बाजारी करने, दूसरे ग्राम इजरी, वि0ख0- सिरकोनी, थाना जलालपुर के राष्ट्रीय राजमार्ग-56 पर अवस्थित विकास बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान के पीछे खाली मैदान में अवैध ढ़ंग से कटिंग किये जाने की सूचना मुखबिर खास से प्राप्त होने पर मौके पर पहुॅंच कर दबिश दी गयी। मौके पर देखा गया कि ट्रक डम्फर यू0पी0 65 ई0टी0 8336 से दो व्यक्तियों क्रमशः डब्लू सिंह व मिथिलेश कुमार यादव द्वारा डीजल की कटिंग की जा रही थी। छानबीन करने पर अन्य वाहनों से कटिंग किये गये डीजल जो 02 प्लास्टिक ड्रमों में लगभग 225 ली0 डीजल का अवैध भण्डारण करने के कारण एवं 01 उचित दर विक्रेता सावित्री देवी एवं सहायक सूर्य प्रकाश ग्राम- कटवार, वि0ख0- बरसठी द्वारा वितरण में गम्भीर अनियमितता किये जाने के कारण जिलाधिकारी, से अनुमति प्राप्त कर उपरोक्त के ऊपर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराते हुए लगभग 225 ली0 डीजल एवं 1600 ली0 मि0 तेल जब्त किया गया, जिसका अनुमानित मूल्य रू0-63734.36 है। इसी प्रकार 09 उचित दर विक्रेताओं का अनुबन्ध पत्र निरस्त किया गया है एवं 03 उचितदर विक्रेता के यहां वितरण में अनियमितता पाये जाने पर जिलाधिकारी, से अनुमति प्राप्त कर निलम्बित किया गया तथा 09 उचितदर विक्रेताओं पर रू0-43000.00 शासन के पक्ष में जब्त किया गया। इसी प्रकार आधार ट्रान्जेक्शन में पूरे प्रदेश में जनपद को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
जिला पूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने समस्त उचितदर विक्रेताओं को निर्देशित किया है कि वे अपनी निर्धारित चौहद्दी पर शासन के निर्देशानुसार उचितदर दुकानों पर समस्त विभागीय सूचनाएं यथा-साईन बोर्ड, रेट/स्टॉक बोर्ड, टोल फ्री नम्बर, कार्डधारकों की सूची, निरीक्षण/शिकायत पुस्तिका, सतर्कता समिति के सदस्यों का नाम व मोबाईल नम्बर, जिला शिकायत निवारण अधिकारी का नाम/पदनाम एवं मोबाईल नम्बर व केन्द्र सरकार द्वारा खाद्यान्न पर दिये जा रहे सब्सिडी के मूल्य का अंकन प्रदर्शित करना सुनिश्चित करें। यह भी निर्देशित किया है कि प्रत्येक उचितदर विक्रेता अपना स्टॉक/वितरण रजिस्टर दुकानों पर रखना सुनिश्चित करें। विक्रेताओं को यह भी निर्देशित किया है कि वितरण में अनियमितता अथवा शिकायत पायी जाती है तो संबंधित विक्रेता के विरूद्ध नियमानुसार सख्त से सख्त कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

No comments:

Post a Comment